शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन टूटे, निफ्टी 18000 के मार्क पर बरकरार

By Ritika Singh
November 03, 2022, Updated on : Thu Nov 03 2022 12:10:22 GMT+0000
शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन टूटे, निफ्टी 18000 के मार्क पर बरकरार
सेंसेक्स सुबह 60,511.57 पर खुला और पूरे दिन में इसने 60,994.37 का उच्च स्तर और 60,485.14 का निम्न स्तर छुआ.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

वैश्विक बाजारों के नकारात्मक रुख के बीच स्थानीय शेयर बाजारों में गुरुवार को लगातार दूसरे दिन गिरावट रही और BSE Sensex 69.68 अंक टूटकर बंद हुआ. अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में 0.75 प्रतिशत की वृद्धि के बाद वैश्विक बाजारों में गिरावट का प्रभाव घरेलू बाजार पर भी पड़ा. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 69.68 अंक घटकर 60,836.41 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय यह 420.95 अंक तक गिर गया था.


सेंसेक्स सुबह 60,511.57 पर खुला और पूरे दिन में इसने 60,994.37 का उच्च स्तर और 60,485.14 का निम्न स्तर छुआ. सेंसेक्स के शेयरों में टेक महिंद्रा, पावरग्रिड, एनटीपीसी, इन्फोसिस, विप्रो, एचडीएफसी, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज और महिंद्रा एंड महिंद्रा प्रमुख रूप से गिरावट में रहे. टेक महिन्द्रा सबसे ज्यादा 2.66 प्रतिशत गिरा. दूसरी तरफ भारतीय स्टेट बैंक, टाइटन, भारती एयरटेल और हिन्दुस्तान यूनिलीवर के शेयरों में लाभ दर्ज हुआ.

Nifty50

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 30.15 अंकों की गिरावट के साथ 18,052.70 पर आ गया. निफ्टी पर आईटी, मेटल, ऑटो और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए हैं. सबसे ज्यादा 1.18 प्रतिशत निफ्टी आईटी गिरा. वहीं सबसे ज्यादा 2.52 प्रतिशत निफ्टी पीएसयू बैंक चढ़ा है. निफ्टी पर एसबीआई, श्रीसीमेंट, टाइटन, यूपीएल, बजाज ऑटो टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर टेक महिन्द्रा, हिंडाल्को, पावरग्रिड, आयशर मोटर्स, एनटीपीसी टॉप लूजर्स रहे.

वैश्विक बाजारों की स्थिति

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कम्पोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग गिरावट में बंद हुए. यूरोप में बाजार गिरावट में कारोबार कर रहे थे और अमेरिकी बाजार वॉल स्ट्रीट भी बुधवार को गिरकर बंद हुआ. फेडरल रिजर्व के ब्याज दरों में आक्रामक वृद्धि करने का निर्णय वैश्विक बाजारों के लिए भारी पड़ा. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.16 प्रतिशत बढ़कर 95.04 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. वहीं विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को 1,436.30 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

रुपया 10 पैसे गिरा

अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरें बढ़ाने और आक्रामक रवैया जारी रखने के कारण अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में गुरुवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 10 पैसे की गिरावट के साथ 82.90 (अस्थायी) प्रति डॉलर पर बंद हुआ. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया 82.87 पर खुला और कारोबार के दौरान इसने 82.74 के उच्चस्तर और 82.92 के निचले स्तर को छुआ. अंत में रुपया अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले 10 पैसे की गिरावट के साथ 82.90 प्रति डॉलर पर बंद हुआ.