शेयर बाजार की तेजी पर लगा ब्रेक, सेंसेक्स 652 अंक लुढ़का; इन कारणों से आई गिरावट

By Ritika Singh
August 19, 2022, Updated on : Fri Aug 19 2022 12:54:37 GMT+0000
शेयर बाजार की तेजी पर लगा ब्रेक, सेंसेक्स 652 अंक लुढ़का; इन कारणों से आई गिरावट
पूरे दिन के कारोबार में सेंसेक्स ने 60411.20 का उच्च स्तर और 59474.57 का निचला स्तर छुआ. सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 27 गिरावट के साथ बंद हुए.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

घरेलू शेयर बाजारों (Stock Markets) में पिछले कई दिनों से जारी तेजी पर शुक्रवार को विराम लगा गया. हफ्ते के अंतिम कारोबारी दिन BSE Sensex लगभग 652 अंक का गोता लगाकर 60000 से नीचे आ गया. वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बीच मुनाफावसूली से बाजार नीचे आया. सूचकांकों में मजबूत हिस्सेदारी रखने वाली कंपनियों के शेयरों में गिरावट से शेयर बाजार लाल निशान में बंद हुए. सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में बढ़त के साथ खुला था लेकिन फिर यह नुकसान में आ गया. आखिर में 651.85 अंकों की गिरावट के साथ 59646.15 पर बंद हुआ.


पूरे दिन के कारोबार में सेंसेक्स ने 60411.20 का उच्च स्तर और 59474.57 का निचला स्तर छुआ. सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 27 गिरावट के साथ बंद हुए. इंडसइंड बैंक, बजाज फिनसर्व, बजाज फाइनेंस, टाटा स्टील, भारतीय स्टेट बैंक, मारुति, एनटीपीसी, हिंदुस्तान यूनिलीवर और रिलायंस इंडस्ट्रीज सबसे ज्यादा नुकसान में रहे. इंडसइंड बैंक सबसे ज्यादा 3.82 प्रतिशत टूटा, वहीं बजाज फिनसर्व 3 प्रतिशत से ज्यादा गिरकर बंद हुआ. एसबीआई, टाटा स्टील और बजाज फाइनेंस में 2 प्रतिशत से ज्यादा गिरावट रही. रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 1.77 प्रतिशत टूटकर बंद हुआ है. दूसरी तरफ लार्सन एंड टुब्रो, इन्फोसिस और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) लाभ में रहे.


इस गिरावट से बीएसई लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 2.94 लाख करोड़ रुपये गिर गया. एक दिन पहले यह रेकॉर्ड 280.52 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया था लेकिन शुक्रवार को यह 277.58 लाख करोड़ रुपये रह गया. सेंसेक्स में भारी गिरावट से एक ही दिन में निवेशकों के 2.94 लाख करोड़ रुपये स्वाहा हो गए.

Nifty50 का हाल

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 198.05 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ 17758.45 पर बंद हुआ. निफ्टी पर अडानी पोर्ट्स, एलएंडटी, इन्फोसिस, बजाज ऑटो, टीसीएस टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर इंडसइंड बैंक, अपोलो हॉस्पिटल्स, बजाज फिनसर्व, टाटा मोटर्स और टाटा कंज्यूमर टॉप लूजर्स रहे.

वैश्विक बाजारों में कैसा रहा ट्रेंड

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कंपोजिट और जापान का निक्की नुकसान में रहे, जबकि हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहा. यूरोप के प्रमुख बाजारों में ज्यादातर में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा. अमेरिकी शेयर बाजार वॉल स्ट्रीट गुरुवार को बढ़त में रहा था. शेयर बाजार के आंकड़ो के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक कई दिन के बाद शुद्ध बिकवाल रहे. उन्होंने गुरुवार को 1706 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे.

रुपया 20 पैसे की गिरावट के साथ बंद

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया शुक्रवार को 20 पैसे की गिरावट के साथ 79.84 (अस्थायी) के भाव पर बंद हुआ. विदेशी बाजारों में डॉलर की मजबूती से रुपये में गिरावट आई. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 79.75 के स्तर पर खुला. कारोबार के दौरान रुपया 79.73 से 79.84 के दायरे में घटबढ़ के बाद अंत में अपने पिछले बंद भाव के मुकाबले 20 पैसे की गिरावट दर्शाता 79.84 प्रति डॉलर पर बंद हुआ.