शेयर बाजार की गिरावट पर लगा ब्रेक, सेंसेक्स 344 अंकों की बढ़त के साथ बंद

By Ritika Singh
July 15, 2022, Updated on : Fri Jul 15 2022 12:39:21 GMT+0000
शेयर बाजार की गिरावट पर लगा ब्रेक, सेंसेक्स 344 अंकों की बढ़त के साथ बंद
कच्चे तेल की कीमतों में नरमी और विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली में कमी से भी घरेलू शेयर बाजार को समर्थन मिला.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

घरेलू शेयर बाजारों (Stock Markets) में पिछले चार दिन से जारी गिरावट का सिलसिला शुक्रवार को थम गया. वैश्विक बाजारों में मजबूती और विदेशी निवेशकों की लिवाली से बाजार में तेजी आई. लिहाजा BSE Sensex 344.63 अंक चढ़कर 53,760.78 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान सेंसेक्स 53,811.37 के उच्च स्तर और 53,361.62 के निम्न स्तर तक गया था.


सेंसेक्स के शेयरों में हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाइटन, मारुति, लार्सन एंड टुब्रो, HDFC, महिंद्रा एंड महिंद्रा, नेस्ले और भारती एयरटेल प्रमुख रुप से लाभ में रहे. हिंदुस्तान यूनिलीवर का शेयर लगभग 3 प्रतिशत चढ़ा. दूसरी और टाटा स्टील, पावर ग्रिड, HCL टेक्नोलॉजीज, विप्रो, डॉ. रेड्डीज और एक्सिस बैंक के शेयर गिरावट के साथ बंद हुए. टाटा स्टील का शेयर लगभग 3 प्रतिशत तक लुढ़क गया.

Nifty 50 पर कौन से शेयर चमके

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी (NSE Nifty) 110.55 अंकों की बढ़त के साथ 16,049.20 पर बंद हुआ. निफ्टी पर टाटा कंज्यूमर, हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाइटन, टाटा मोटर्स, एलएंडटी टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर टाटा स्टील, पावरग्रिड, एचसीएलटेक, विप्रो, जेएसडब्ल्यू स्टील टॉप लूजर्स रहे. निफ्टी पर आईटी, मेटल और पीएसयू बैंक को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए हैं. NIFTY AUTO में 2 प्रतिशत से ज्यादा की तेजी आई.

वैश्विक बाजारों की स्थिति

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की बढ़त के साथ बंद हुए, जबकि चीन के शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में मजबूती का रुख रहा. अमेरिका में शेयर बाजार गुरुवार को मिले-जुले रुख के साथ बंद हुए. कच्चे तेल की कीमतों में नरमी और विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली में कमी से भी घरेलू शेयर बाजार को समर्थन मिला. विदेशी संस्थागत निवेशकों ने गुरुवार को 309.06 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.