Subway बेच सकती है अपना बिजनेस, जानें क्यों तलाश रही संभावनाएं

Subway का हेडक्वार्टर मिलफोर्ड, कनेक्टिकट में है. इसे 17 वर्ष के फ्रेड डेलुका और उनके फैमिली फ्रेंड पीटर बक ने 1965 में शुरू किया था.

Subway बेच सकती है अपना बिजनेस, जानें क्यों तलाश रही संभावनाएं

Wednesday February 15, 2023,

3 min Read

Subway ने कहा है कि वह सैंडविच कंपनी की संभावित बिक्री की संभावनाएं तलाश रही है. इसकी वजह है कि सबवे सैंडविच चेन, बढ़ती लागत और बढ़ते कॉम्पिटीशन का सामना कर रही है. रॉयटर्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले माह द वॉल स्ट्रीट जर्नल ने कहा था कि संभावित सेल की वैल्यू 10 अरब डॉलर से ज्यादा रह सकती है.

Subway का हेडक्वार्टर मिलफोर्ड, कनेक्टिकट में है. इसे 17 वर्ष के फ्रेड डेलुका और उनके फैमिली फ्रेंड पीटर बक ने 1965 में शुरू किया था. अपनी स्थापना के बाद से सबवे फाउंडिंग फैमिलीज के निजी स्वामित्व वाली कंपनी है. यह अब दुनिया की सबसे बड़ी रेस्टोरेंट चेन्स में से एक है, जिसके 100 से अधिक देशों में 37,000 आउटलेट हैं.

अभी पक्की नहीं है बिक्री

सबवे की वेबसाइट पर पोस्ट किए गए एक बयान में कंपनी की ओर से कहा गया है कि बिक्री के लिए कोई टाइमटेबल नहीं है या यह भी पक्का नहीं है कि बिक्री होगी या नहीं. जेपी मॉर्गन, सबवे को सलाह दे रही है और सेल एक्सप्लोरेशन प्रॉसेस का संचालन किया जाएगा.

बढ़ते कॉम्पिटीशन से खो रही हिस्सेदारी

सबवे ने हाल के वर्षों में पैनेरा और फायरहाउस सब्स जैसे तेजी से बढ़ते प्रतिद्वंद्वियों के चलते बाजार हिस्सेदारी खोई है. इन प्रतिद्वंदियों के पास अधिक विविध मेन्यू और नए स्टोर हैं. सबवे ने इसे देखते हुए 2017 में अपने स्टोर्स को आधुनिक बनाने के लिए एक कार्यक्रम शुरू किया था. 2021 में कंपनी ने अपने मेन्यू और अपग्रेडेडेड इन्ग्रीडिएंट्स को रिफ्रेश किया. साल 2022 में सबवे ने शेफ द्वारा डेवलप्ड सैंडविच की लाइन पेश की. सबवे का कहना है कि 2022 ब्रांड के लिए एक रिकॉर्ड वर्ष था.

दिल्ली हाई कोर्ट सबवे को दे चुका है झटका

जनवरी माह में दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली के एक आउटलेट द्वारा 'Suberb' नाम से सैंडविच की बिक्री पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था. इस रोक के लिए याचिका ग्लोबल रेस्टोरेंट चेन सबवे ने डाली थी. कोर्ट ने कहा कि सबवे सभी टू-सिलेबल वर्ड्स पर एकाधिकार का दावा नहीं कर सकती है. जस्टिस सी हरि शंकर ने सबवे आईपी एलएलसी के मुकदमे पर सुनवाई करते हुए कहा था कि 'सबवे' और 'Suberb' शब्द, जब सबमरीन सैंडविच परोसने वाले भोजनालयों के संदर्भ में उपयोग किए गए, तो वे भ्रामक रूप से समान नहीं थे और उनके अक्षर, फॉन्ट और उपस्थिति भी समान नहीं थे. वर्तमान मामले में आसानी से एक दूसरे से अलग हो सकते हैं. जज ने यह भी कहा कि 'सब', 'सबमरीन' के लिए एक संक्षिप्त नाम था, जो लंबी-चौड़ी सैंडविच की एक प्रसिद्ध किस्म का प्रतिनिधित्व करता था. यह नहीं कहा जा सकता कि प्रतिवादी के 'Suberb' मार्क 'Subway' वर्डमार्क का उल्लंघन किया.