टेक स्पार्क्स 2019 का हुआ आग़ाज़, युवाओं के लिए दिग्गज बिज़नेस लीडर्स और निवेशकों ने दिए कई ‘गुरु मंत्र’

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

भारतीय स्टार्टअप ईकोसिस्टम का भविष्य कैसा है? स्टार्टअप की दुनिया में किन नई तकनीकों और उभरते हुए उद्योगों का बोलबाला रहेगा? बिज़नेस लीडर्स, नीति निर्माता, निवेशक और स्टार्टअप ऐक्सिलरेटर्स/इनक्यूबेटर्स देश के स्टार्टअप ईकोसिस्टम में क्या भूमिका अदा कर रहे हैं? बड़े सपनों के साथ नई शुरुआत करने वाले ऑन्त्रप्रन्योर्स, अपने क्षेत्र के दिग्गजों से क्या सबक ले सकते हैं? क्या निवेशकों को इन दो दिनों में अपने पैमानों के मुताबिक़ कोई स्टार्टअप मिलेगा? टेक स्पार्क्स-2019 में आपको इन सभी सवालों के जवाब मिल जाएंगे।


k


टेक स्पार्क्स के 10वें संस्करण टेक स्पार्क्स-2019 का आग़ाज़ आज 11 अक्टूबर, 2019 ताज यशवंतपुर, बेंगलुरु में हुआ, जिसमें दुनियाभर के जाने-माने और लोकप्रिय बिज़नेस लीडर्स और स्पीकर्स ने शिरकत की और आगामी 12 अक्टूबर को भी इस इवेंट में कई बड़ी हस्तियों को हिस्सा लेना है, जो देश के स्टार्टअप ईकोसिस्टम के वर्तमान और भविष्य से जुड़े कई अहम मुद्दों पर चर्चा करेंगे।


योरस्टोरी मीडिया के इस ऐनुअल फ़्लैगशिप इवेंट के विषय में चर्चा करते हुए फ़ाउंडर और सीईओ श्रद्धा शर्मा ने कहा,


“यह 10वां साल योर स्टोरी के लिए एक मील के पत्थर समान उपलब्धि है। टेक स्पार्क्स के हर संस्करण के साथ हम देश के स्टार्टअप ईकोसिस्टम की नब्ज़ को समझने की कोशिश करते हैं और नई अवधारणाएं विकसित करने का प्रयास करते हैं। नए स्टार्टअप्स के बारे में बताकर और साथ ही वर्कशॉप्स, पैनल चर्चा, प्रोडक्ट लॉन्च आदि के माध्यम से हम स्टार्टअप जगत और उपभोक्ता वर्ग के साथ एक सकारात्मक संवाद स्थापित करके बेहद ख़ुशी का अनुभव करते हैं।”


कार्यक्रम के पहले दिन पेटीएम के फ़ाउंडर और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने अपने स्वागत उद्बोधन में कहा,

“एक व्यक्ति जिस भी तरह की चिंताओं या अस्थिरता से परेशान रहता है, उनसे उबारने के लिए हमें योर स्टोरी और श्रद्धा शर्मा जैसे चियर लीडर्स की ज़रूरत है। साथ ही, मैं यहां बैठे सभी लोगों का स्वागत करता हूं, जो नए विचारों से देश के लिए एक नई इबारत गढ़ने का प्रयास कर रहे हैं और देश को गौरवान्वित कर रहे हैं।”



कर्नाटक के उप-मुख्यमंत्री डॉ. अश्वतनारायण ने योरस्टोरी को बधाई देते हुए कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि 2024 के टेक स्पार्क्स इवेंट में बेंगलुरु को 50 यूनिकॉर्न स्टार्टअप्स की मेज़बानी करने का मौक़ा मिलेगा। इस कार्यक्रम में टेक 30 लिस्ट भी जारी की जाएगी, जिसमें 30 नए स्टार्टअप्स को विभिन्न पैमानों पर परखकर चुना जाएगा।


पिछले साल के टेक स्पार्क्स इवेंट में 140 स्पीकर्स, 80 प्रदर्शकों (एग्ज़िबिटर्स) और 3000 से अधिक दर्शकों ने हिस्सा लिया था। पिछले 9 सालों में 40 हज़ार से ज़्यादा दर्शक टेक स्पार्क्स इवेंट का हिस्सा रह चुके हैं, जिनमें से 10 हज़ार से ज़्यादा स्टार्टअप्स से ताल्लुक रखते थे। इतना ही नहीं, टेक 30 लिस्ट का हिस्सा बने स्टार्टअप्स ने 1 बिलियन डॉलर से ज़्यादा की ग्रोथ कैपिटल हासिल की। टेक स्पार्क्स 2019 के अजेंडा के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए आप योर स्टोरी की वेबसाइट पर जा सकते हैं।


पिछले एक दशक में टेक स्पार्क्स, देश के सबसे अधिक लोकप्रिय टेक और स्टार्टअप प्लैटफ़ॉर्म के रूप में उभरकर सामने आया है। योर स्टोरी परिवार इतने सालों के आपके समर्थन और प्रोत्साहन के लिए तह-ए-दिल से आपका शुक्रिया अदा करता है और साथ ही अपने स्पॉन्सर्स को विशेष रूप से धन्यवाद देता है।




  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest

Updates from around the world

Our Partner Events

Hustle across India