टेक्नोलॉजी ही भारत को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना सकती है: TechSparks 2022 में बोलीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

By Aparajita Saxena, Rishabh Mansur & रविकांत पारीक
November 12, 2022, Updated on : Sat Nov 12 2022 08:14:42 GMT+0000
टेक्नोलॉजी ही भारत को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना सकती है: TechSparks 2022 में बोलीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
TechSparks 2022 में बोलते हुए, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने के लिए आगे बढ़ रहा है, और टेक्नोलॉजी ही हमें वहां पहुंचा सकती है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरने की भारत की दौड़ में, टेक्नोलॉजी के सहारे हो रहे नवाचार (इनोवेशन) बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. ऐसे में इनके और सस्ते और स्केलेबल होने की आवश्यकता है, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Union Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने YourStory के फ्लैगशिप टेक इवेंट TechSparks 2022 में यह बात कही.


उन्होंने कहा कि भारत को अधिक नागरिकों के हित में काम करने के लिए बेहतर स्वास्थ्य, शिक्षा और इन्फ्रास्ट्रक्चर जैसी सुविधाओं को टेक्नोलॉजी के जरिए आगे बढ़ाना होगा क्योंकि आने वाला वक्त वास्तव में "टेक्नोलॉजी" का ही है.


उन्होंने इनोवेशन और स्केलेबिलिटी में मितव्ययिता पर फिर से जोर देते हुए कहा, "भारत में उपलब्ध डिजिटल इन्फ्रास्ट्रक्चर सरकार के साथ बनाया गया है, और इसे लागत के बजाय जनता के लिए अच्छा बनाने के लिए बनाया गया है."

TechSparks 2022 में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

TechSparks 2022 में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

सीतारमण ने इससे पहले 2020 में TechSparks में शिरकत की थी, जहां उन्होंने सरकार और भारत के लोगों के बीच खुले संवाद की आवश्यकता पर जोर दिया था. इस बार, उन्होंने सरकार की नीतियों और भारत की टेक्नोलॉजी को लेकर उनके क्या मायने हैं और पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर में तालमेल के लिए बेहतर तरीके से कैसे जुड़ सकते हैं, के बारे में बात की.


वित्त मंत्री ने उद्यमियों और निवेशकों को संबोधित करते हुए कहा, "सरकारी स्टैकहोल्डर्स द्वारा फंडामेंटल टेक इन्फ्रास्ट्रक्चर बनाया जा रहा है. और इसे सार्वजनिक भलाई के रूप में बनाया गया है. इस सुपरस्ट्रक्चर के टॉप पर, प्राइवेट और पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप को अपने विचार रखने चाहिए और ई-कॉमर्स, एजुकेशन, बैंकिंग, हेल्थकेयर, इंश्योरेंस, फाइनेंस, आदि में तेजी से इनोवेशन करने चाहिए."


सीतारमण ने कहा कि इस तरह के इनोवेशन भारत के युवाओं द्वारा किए जा रहे हैं, जोकि आबादी का एक बड़ा हिस्सा है जो अत्यधिक आकांक्षी है और बढ़ती क्रय शक्ति रखता है. उन्होंने यह भी कहा कि भारत नागरिक केंद्रित दृष्टिकोण के साथ खुद को बेहतर ढंग से व्यवस्थित कर सकता है.


TechSparks को वर्चुअली होस्ट करने के दो साल बाद, भारत की सबसे प्रभावशाली स्टार्टअप-टेक इवेंट व्यक्तिगत रूप से आयोजित की जा रही है. इवेंट की इस साल की थीम - Building On India’s Tech Agenda है. यह इवेंट देश के इनोवेशन इकोसिस्टम के आर्किटेक्ट्स और स्टार्टअप फाउंडर्स, ऑन्त्रप्रेन्योर्स को एक साथ, एक मंच पर लाती है.


TechSparks का यह 13वां संस्करण है. इस इवेंट में कई बड़ी हस्तियां हिस्सा ले रही हैं, जो देश के स्टार्टअप इकोसिस्टम के वर्तमान और भविष्य से जुड़े कई अहम मुद्दों पर चर्चा करेंगे. यह इवेंट 10-12 नवंबर को देश की स्टार्टअप नगरी बेंगलुरू के ताज, यशवंतपुर में आयोजित हो रहा है.

techsparks2022
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close