शेयर बाजार लगातार तीसरे दिन टूटा, सेसेंक्स 453 अंक लुढ़का; IDBI Bank 8% चढ़ा

सेंसेक्स ने पूरे दिन के दौरान 60,537.63 का उच्च स्तर और 59,669.91 का निचला स्तर छुआ.

शेयर बाजार लगातार तीसरे दिन टूटा, सेसेंक्स 453 अंक लुढ़का; IDBI Bank 8% चढ़ा

Friday January 06, 2023,

3 min Read

वैश्विक स्तर पर मिले-जुले संकेतों और आईटी शेयरों में सुस्ती के बीच घरेलू शेयर बाजारों (Stock Markets) में लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को गिरावट का रुख बना रहा और प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स (BSE Sensex) 60,000 अंक से नीचे आ गया. बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्स 452.90 अंक गिरकर 59,900.37 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय यह 683.36 अंक तक गिर गया था. सेंसेक्स ने पूरे दिन के दौरान 60,537.63 का उच्च स्तर और 59,669.91 का निचला स्तर छुआ.

सेंसेक्स में शामिल शेयरों में से टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS), बजाज फिनसर्व, इंडसइंड बैंक, टेक महिंद्रा, बजाज फाइनेंस, कोटक महिंद्रा बैंक, इंफोसिस और टाटा मोटर्स को नुकसान उठाना पड़ा. दूसरी तरफ, महिंद्रा एंड महिंद्रा, रिलायंस इंडस्ट्रीज, नेस्ले, आईटीसी और लार्सन एंड टुब्रो के शेयरों में बढ़त दर्ज की गई. टीसीएस और इंडसइंड बैंक लगभग 3 प्रतिशत गिरे हैं.

Nifty50 का हाल

एनएसई के सूचकांक निफ्टी (NSE Nifty) में गिरावट का रुख रहा. निफ्टी 132.70 अंकों के नुकसान के साथ 17,859.45 पर बंद हुआ. निफ्टी पर एफएमसीजी और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए हैं. निफ्टी पर ब्रिटानिया, रिलायंस, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, बीपीसीएल, ओएनजीसी टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर जेएसडब्ल्यू स्टील, टीसीएस, इंडसइंड बैंक, बजाज फिनसर्व और टेक महिन्द्रा टॉप लूजर्स रहे.

क्यों उछला IDBI Bank

IDBI बैंक का शेयर बीएसई पर 7.85% और एनएसई पर 7.58% चढ़ा है. इसके पीछे कारण है कि सेबी ने आईडीबीआई बैंक में सरकारी हिस्सेदारी को सार्वजनिक शेयरधारिता के तौर पर दोबारा वर्गीकृत करने के सरकार के अनुरोध को मंजूरी दे दी है. हालांकि यह नया बदलाव बैंक में सरकार की हिस्सेदारी बिक्री के बाद होगा. इसके बाद सरकार का वोटिंग राइट्स भी 15 प्रतिशत से ज्यादा नहीं होगा. आईडीबीआई बैंक में सरकार की 45.5 प्रतिशत और एलआईसी की 49.24 प्रतिशत हिस्सेदारी है. सरकार इसमें 30.5 प्रतिशत और एलआईसी 30.2 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी.

वैश्विक बाजारों की चाल

एशिया के अन्य बाजारों में सोल, टोक्यो और शंघाई के सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए जबकि हांगकांग का सूचकांक नुकसान में रहा. यूरोप के शेयर बाजारों में कारोबार मिला-जुला रहा. अमेरिकी बाजार गुरुवार को गिरावट पर रहे थे. अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.15 प्रतिशत चढ़कर 78.81 डॉलर प्रति बैरल हो गया. इस बीच, विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) का भारतीय बाजारों से निकासी का सिलसिला कायम है. शेयर बाजार में उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी निवेशकों ने गुरुवार को 1,449.45 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की शुद्ध बिकवाली की थी.