Alexa के कारण इस साल Amazon को हो सकता है खरबों रुपये का घाटा, यह है वजह

By yourstory हिन्दी
November 22, 2022, Updated on : Tue Nov 22 2022 06:03:49 GMT+0000
Alexa के कारण इस साल Amazon को हो सकता है खरबों रुपये का घाटा, यह है वजह
इस साल की पहली तिमाही में, अमेजन में वर्ल्डवाइड डिजिटल यूनिट को 3 अरब डॉलर का घाटा हुआ है. अमेजन की वर्ल्डवाइड डिजिटल यूनिट में अलेक्सा, इको डिवाइस और इसकी स्ट्रीमिंग सेवा प्राइम वीडियो शामिल हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

दिग्गज अमेरिकी कंपनी अमेजन Amazon के सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाले प्रोजेक्ट्स में एक रही वॉयस असिस्टेंट एलेक्सा (Alexa), अब कंपनी की उन डिवाइसेस में शामिल हो गई है, जिसके कारण कंपनी को इस साल 8 खरब रुपये से अधिक (10 अरब डॉलर) का घाटा हो सकता है.


आंतरिक सोर्सेज से प्राप्त बिजनेस इनसाइडर की रिपोर्ट के अनुसार, इस साल की पहली तिमाही में, अमेजन में वर्ल्डवाइड डिजिटल यूनिट को करीब 2.5 खरब रुपये (3 अरब डॉलर) का घाटा हुआ है. अमेजन की वर्ल्डवाइड डिजिटल यूनिट में Alexa, Echo डिवाइस और इसकी स्ट्रीमिंग सेवा Prime Video शामिल हैं.


कभी वर्ल्डवाइड डिजिटल यूनिट के साथ जुड़े रहने वाले सोर्स ने बताया कि इसमें अधिकतर घाटा Alexa और अन्य अमेजन डिवाइसेस के कारण हो रहा है.


बता दें कि, वाइस असिस्टेंट सेवा अमेजन के मालिक जेफ बेजोज (Jeff Bezos) का महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट था. उन्होंने टीम को Alexa पर काम करने में न सिर्फ सपोर्ट किया बल्कि इसे डेवलप करने में खुद शामिल हुए थे. उन्होंने इसके ईमेल मार्केटिंग कैंपेन की भी खुद समीक्षा की थी.


साल 2014 में जब Alexa लॉन्च हुआ था, तब अमेज़न अलेक्सा वॉयस असिस्टेंट वाले Echo डिवाइस खरीदने वाले लोगों के माध्यम से बेचने के बजाय Alexa का उपयोग करने वाले लोगों के माध्यम से बिक्री करना चाहता था.


हालांकि, Alexa की रिलीज के चार साल बाद कस्टमर शिकायत करने लगे कि डिवाइस गलत लोगों को रिकॉर्डिंग भेज रहा है. इसके बाद ऐसी रिपोर्ट्स सामने आए जिसमें बताया गया कि अमेजन के कर्मचारी वह बातें सुन रहे हैं जो लोग अपने Alexa डिवाइसेजज से कह रहे हैं.


इसके बावजूद, Alexa ऐसे स्तर पर पहुंच गया जहां उसे हर सप्ताह एक अरब तक इंटरेक्शन मिलने लगे. यहां इंटरेक्शन का मतलब है कि वे मौसम जैसी चीजों के बारे में पूछ रहे हैं जो कि अधिकांश तौर पर पैसे नहीं बनाता है.


न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, Alexa और Echo के कारण अमेजन को साल 2018 में करीब 5 अरब डॉलर का घाटा हुआ. उस साल कंपनी में Alexa और Echo प्रोडक्टस पर काम करने वाले 10 हजार कर्मचारी थे.


इसके बाद साल 2019 के अंत तक उस टीम के लिए हायरिंग रोक दी गई है. 2020 में बेजोज उसके डेवलपमेंट में शामिल होना बंद कर दिया.


साल 2019 में अमेजन में डिवाइसेस एवं सर्विस के लिए सीनियर वाइस प्रेसिडेंट डेविड लिंप ने एक मीटिंग में कहा कि नेक्स्ट लेवल पर ले जाने के लिए Alexa के इंगेजमेंट और सिक्योरिटी को बढ़ाने की आवश्यकता है.


घाटे की खबरें सामने आने के बाद इस साल अपने एक बयान में लिंप ने कहा कि अमेजन हमेशा की तरह Echo और Alexa को लेकर प्रतिबद्ध है और इनमें बड़े पैमाने पर निवेश जारी रखेगा.


बता दें कि, इस साल डिजिटल वॉयस असिस्टेंट के मामले में Alexa के पास दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा यूजरबेस है. उससे आगे गूगल Google असिस्टेंट और एप्पल Apple की सिरी है.


पिछले सप्ताह अमेजन में 10 हजार लोगों की छंटनी आने पर पता चला कि इससे सबसे पहले Alexa पर काम करने वाले कर्मचारी प्रभावित होंगे.


लिम्प ने एक ईमेल में इस बात की पुष्टि की कि डिवाइसेस एंड सर्विसेज टीम के कुछ कर्मचारियों को हटा दिया जाएगा. लिम्प ने कहा कि मुझे उस टीम पर अविश्वसनीय रूप से गर्व है, जिसे हमने बनाया है और हम कभी भी टीम के एक महत्वपूर्ण सदस्यों को नहीं खोना चाहते हैं.



Edited by Vishal Jaiswal