तीन और व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित मिले, मोदी ने दिया गहन देखभाल के लिए प्रावधान का निर्देश

By भाषा पीटीआई
March 08, 2020, Updated on : Sun Mar 08 2020 17:20:51 GMT+0000
तीन और व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित मिले, मोदी ने दिया गहन देखभाल के लिए प्रावधान का निर्देश
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कई राज्यों ने होली मनाने के लिए आयोजित किये जाने वाले आधिकारिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं और उन्होंने कोरोना वायरस फैलने से रोकने के लिए एहतियाती कदम उठाये हैं।

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र



नयी दिल्ली, तीन और व्यक्तियों की कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट शनिवार को पॉजीटिव आयी, जिससे देश में पुष्ट मामलों की संख्या बढ़कर 34 हो गई। वहीं, सरकार ने इससे लड़ने के लिए प्रयास तेज कर दिए हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे पृथक रखने की सुविधा के लिए पर्याप्त स्थान की पहचान करें और गहन देखभाल के लिए प्रावधान करें।


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इन व्यक्तियों में से दो लद्दाख से हैं और उनका ईरान की यात्रा का इतिहास है जबकि तीसरा व्यक्ति तमिलनाडु से है जिसने ओमान की यात्रा की थी। मंत्रालय ने बताया कि सभी मरीजों की स्थिति स्थिर है।


मंत्रालय ने कहा कि 150 से अधिक व्यक्तियों को एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम (आईडीएसपी) के तहत रखा गया है, जो उन दो अमेरिकी नागरिकों के सम्पर्क में आये थे जिनकी भूटान में कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आयी है और उन्होंने भारत में विभिन्न स्थानों की यात्रा की थी।


कई राज्यों ने होली मनाने के लिए आयोजित किये जाने वाले आधिकारिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं और उन्होंने कोरोना वायरस फैलने से रोकने के लिए एहतियाती कदम उठाये हैं।


भारत का कतर के खिलाफ 26 मार्च को भुवनेश्वर में होने वाला 2022 फीफा विश्व कप क्वालीफायर मैच भी स्थगित कर दिया गया है जबकि महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए इस बात की ‘चर्चा’ चल रही है कि क्या इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को स्थगित कर दिया जाना चाहिए।


ग्लैमर और चकाचौंध से भरे इस टी20 लीग की शुरुआत मुंबई में 29 मार्च को मुंबई इंडियन्स और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेले जाने वाले मुकाबले से होनी है।





इससे पहले आज दिन में मोदी ने कोरोना वायरस को लेकर स्थिति की सभी संबंधित मंत्रालयों और विभागों के अधिकारियों के साथ एक बैठक में समीक्षा की और पृथक रखने की सुविधा के लिए पर्याप्त स्थान की पहचान करने का अधिकारियों को निर्देश दिया।


मोदी ने उनसे कहा कि विशेषज्ञों की राय के मद्देनजर लोगों को जितना संभव हो, भीड़भाड़ वाले स्थानों से बचने की सलाह दी जानी चाहिए तथा यह बताया जाना चाहिए कि क्या करना है और क्या नहीं करना है।


मोदी ने अभी तक किए गए कार्य के लिए सभी विभागों की प्रशंसा करते हुए इस बात पर जोर दिया कि कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए भारत को तैयार रहना होगा।


उन्होंने उन्नत और पर्याप्त योजना की जरूरत तथा समयबद्ध प्रतिक्रिया पर जोर दिया जो कि इस संक्रामक रोग के प्रबंधन के लिए जरूरी है।


स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि अधिकारियों को ईरान से भारतीयों की जल्दी जांच एवं उन्हें वहां से निकालने के लिए योजना बनाने का निर्देश दिया गया है जहां खबरों के अनुसार कोरोना वायरस से 145 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है।


शनिवार को तेहरान से एक विमान उन भारतीयों के नमूने लेकर दिल्ली पहुंचा जिन्हें कोरोना वायरस संक्रमण होने का संदेह है। महान एयर द्वारा संचालित यह उड़ान उसके बाद भारत से कई ईरानी नागरिकों को लेकर लौट गई। मंत्रालय ने कहा कि इन नमूनों की एम्स स्थित प्रयोगशाला में जांच की जा रही है।





साथ ही इंडियन काउंसिल आफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के छह वैज्ञानिक ईरान में हैं। करीब 10 करोड़ रुपये के उपकरण और रिएजेंट्स वहां भेजे गए हैं जिससे वहां एक प्रयोगशाला स्थापित करने में मदद मिले।


गोवा में दो विदेशी नागरिकों को गोवा मेडिकल कालेज एवं अस्पताल में पृथक रखा गया है जिनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने का संदेह है। उनके नमूनों को एनआईवी, पुणे भेजा गया है। अधिकारियों ने बताया कि एक इतालवी दम्पत्ति के अलावा राजस्थान में कोरोना वायरस के संदिग्धों से एकत्रित सभी 280 नमूनों की जांच रिपोर्ट नकारात्मक आयी है।


ओडिशा सरकार ने मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों की विदेश यात्रा पर पाबंदी लगा दी है तथा अपने कर्मचारियों को हाजिरी लगाने के लिए बायोमीट्रिक सिस्टम के इस्तेमाल से छूट दे दी है।


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 7,108 उड़ानों के कुल 7,26,122 लोगों की हवाईअड्डों पर स्क्रीनिंग की गई। शुक्रवार सुबह से 573 उड़ानों के 73,766 यात्रियों की हवाईअड्डों पर स्क्रीनिंग की गई है।


मंत्रालय ने यह भी कहा कि देशभर में कोरोना वायरस की जांच के लिए 52 प्रयोगशालाएं सक्रिय हैं। 57 अतिरिक्त प्रयोगशालाओं को वायरल ट्रांसपोर्ट मीडिया और नमूने एकत्रित करने के लिए स्वैब मुहैया कराए गए हैं। जागरूकता उत्पन्न करने के लिए सभी टेलीकॉम ऑपरेटरों द्वारा एक विशेष कोरोना वायरस मोबाइल फोन कॉलर ट्यून शुरू की गई है जिसके तहत जब कोई फोन करता है तो उसे संक्रमण रोकने के लिए संदेश सुनायी देते हैं।


मंत्रालय ने कहा कि बीएसएनएल, एमटीएनएल, रिलायंस जियो, एयरटेल और वोडाफोन..आइडिया के 117.2 करोड़ से अधिक उपभोक्ताओं से एसएमएस और कॉल बैक से सम्पर्क किया जा रहा है। शुक्रवार तक सामने आए पॉजीटिव मामलों की संख्या 31 थी जिसमें इटली के 16 पर्यटक और उनका भारतीय गाइड शामिल है।





इन पॉजीटिव मामलों में से एक मामला दिल्ली के मयूर विहार का 45 वर्षीय व्यक्ति का भी है और इसमें आगरा के उसके छह रिश्तेदार भी शामिल हैं जिनसे उसने हाल में मुलाकात की थी। एक अन्य पेटीएम का कर्मचारी है जो गुरूग्राम में काम करता है और पश्चिमी दिल्ली में रहता है। इन सभी का सफदरजंग अस्पताल में इलाज चल रहा है।


गाजियाबाद के एक व्यक्ति का इलाज दिल्ली के राममनोहर लोहिया अस्पताल में चल रहा है जिसकी कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आयी थी। हैदराबाद के 24 वर्षीय व्यक्ति को भी पृथक रखा गया है जिसकी जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आयी थी।


कुल पॉजीटिव मामलों में पिछले महीने केरल से सबसे पहले सामने आए तीन मामले भी शामिल हैं। इन सभी तीन व्यक्तियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी।


शुक्रवार को दिल्ली के एक व्यक्ति की जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आयी जिसका थाईलैंड और मलेशिया की यात्रा का इतिहास रहा है। 11 व्यक्तियों को पश्चिमी दिल्ली स्थित उनके आवास पर पृथक रखा गया है। इन व्यक्तियों में से सात उक्त व्यक्ति के परिवार के सदस्य हैं।