Union Budget 2022: घटा कॉर्पोरेट टैक्स, नए टैक्स रिफॉर्म लाने की है योजना - निर्मला सीतारमण

By रविकांत पारीक
February 01, 2022, Updated on : Tue Feb 01 2022 07:20:40 GMT+0000
Union Budget 2022: घटा कॉर्पोरेट टैक्स, नए टैक्स रिफॉर्म लाने की है योजना - निर्मला सीतारमण
सरकार ने कॉर्पोरेट टैक्स को 18 फीसदी से घटाकर 15 फीसदी करने का ऐलान किया है। कॉपरेटिव सोसायटी के लिए MAT की दर घटकर 15% हो गयी है। दिव्यागों को भी कर राहत का ऐलान किया गया है।
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण आज देश का आम बजट पेश कर रही हैं।


सरकार ने कॉर्पोरेट टैक्स को 18 फीसदी से घटाकर 15 फीसदी करने का ऐलान किया है। कॉपरेटिव सोसायटी के लिए MAT की दर घटकर 15% हो गयी है। दिव्यागों को भी कर राहत का ऐलान किया गया है।


राज्य सरकार के कर्मचारियों के सामाजिक सुरक्षा लाभों में मदद करने और उन्हें केंद्र सरकार के कर्मचारियों के बराबर लाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार के कर्मचारियों की कर कटौती की सीमा 10% से बढ़ाकर 14% की जाएगी।


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषाणा की कि नए टैक्स रिफॉर्म लाने की योजना है। अगले 2 एसेसमेंट साल तक अपडेटेड ITR संभव होगी। डिजिटल करंसी (क्रिप्टोकरंसी) पर 30 फीसदी टैक्स लगाया गया है। इसके अलावा वर्चुअल करंसी के ट्रांसफर पर 1 फीसदी TDS भी लगेगा। अगर वर्चुअल एसेट को गिफ्ट के तौर पर दिया जाता है तो टैक्स वह शख्स देगा जिसको वह वर्चुअल एसेट गिफ्ट के तौर पर मिली है। यह भी बताया गया है कि रुपये की डिजिटल करेंसी को इसी वित्त वर्ष चालू किया जाएगा। ब्लॉकचेन और अन्य तकनीकों का इस्तेमाल करके डिजिटल करेंसी शुरू की जाएगी, आरबीआई 2022-23 से इसे जारी करेगा।


स्टार्टअप के लिए टैक्स छूट 31 मार्च 2023 तक बढ़ी। केंद्रीय बजट में 2022-23 के लिए 7.5 लाख करोड़ रुपए के पूंजीगत व्यय का प्रावधान किया गया है. 2022-23 मे यह व्यय जीडीपी का 2.9 प्रतिशत होगा। कॉपोरेटिव सरचार्ज 12% से घटाकर 7% किया जाएगा।


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि इलेक्ट्रोनिक्स पर लगने वाले टैक्स में छूट मिलेगी। वहीं रत्न और आभूषण पर कस्टम ड्यूटी घटाकर 5 फीसदी कर दी गई है। नकली गहनों पर कस्टम ड्यूटी 400 रुपये प्रति किलो रहेगी। स्टील के स्क्रैप पर कस्टम ड्यूटी एक और साल के लिए बढ़ाई जा रही है। इसके अलावा खेती से जुड़े सामान को सस्ता किया जाएगा।


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आगे बताया कि कपड़ा सस्ता होगा, चमड़े का सामान सस्ता होगा, मोबाइल चार्जर सस्ता होगा, खेती का सामान सस्ता होगा, हीरे के गहने सस्ते होंगे, जूते-चप्पल सस्ते होंगे, विदेश से आने वाली मशीने सस्ती होंगी।


Edited by Ranjana Tripathi