व्यवसायों को कस्टमर इंगेजमेंट बढ़ाने और यूनिक यूएक्स बनाने में मदद कर रहा है यह AI-बेस्ड लैंग्वेज सॉल्यूशन स्टार्टअप

अभिनव यादव और नरसिम्हा सुदा द्वारा स्थापित, सिंगापुर स्थित स्पीच टू टेक्स्ट प्लेटफॉर्म Wavel ऑडियो/वीडियो कंटेंट को हिंदी अंग्रेजी और स्पेनिश में लोकलाइज कर रहा है।

व्यवसायों को कस्टमर इंगेजमेंट बढ़ाने और यूनिक यूएक्स बनाने में मदद कर रहा है यह AI-बेस्ड लैंग्वेज सॉल्यूशन स्टार्टअप

Tuesday April 26, 2022,

6 min Read

एक सदाबहार-वैश्वीकरण की दुनिया में, व्यवसायों को यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि उनका कंटेंट भाषा के अंतर को पाटता हो और अंतिम यूजर के साथ जुड़ाव रखता हो। यह वह जगह है जहां कंटेंट लोकलाइजेशन चलन में आता है। कंटेंट लोकलाइजेशन एक प्रोसेस है जिसके तहत कंटेंट को प्राइमरी ऑडियंस के लिए तैयार किया जाता है और अपने नए सेकेंड्री टारगेट या मार्केट के लिए कस्टमाइज किया जाता है।

सिंगापुर स्थित Wavel का कहना है कि यह अपने यूजर बेस को व्यापक बनाने के वास्ते व्यवसायों के लिए फुल-स्टैक लैंग्वेज सॉल्यूशन बनाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) का लाभ उठाता है।

ऑडियो और वीडियो कंटेंट को बनाने में कई घंटे लगते हैं। ऐसे में वेवेल कंपनियों को व्यापार के अवसरों का विस्तार करने के लिए इस कंटेंट का पुन: इस्तेमाल करने में मदद करता है।

2019 में अभिनव यादव और नरसिम्हा सुदा द्वारा स्थापित, स्पीच टू टेक्स्ट प्लेटफॉर्म वेवेल ऑडियो/वीडियो कंटेंट को हिंदी, अंग्रेजी और स्पेनिश में लोकलाइज करता है।

अभिनव ने योरस्टोरी को बताया, "हमारा मुख्य मिशन परफॉर्मेंस बढ़ाने, कस्टमर इंजेगमेंट बढ़ाने और एक अद्वितीय यूजर एक्सपीरियंस बनाने के लिए ऑडियो / वीडियो कंटेंट का लोकलाइजेशन करना है।"

संस्थापक पिछले 15 वर्षों से एक-दूसरे को जानते हैं और एक साथ पढ़ाई की है। उन्होंने शुरुआत में अपनी उद्यमशीलता की यात्रा शुरू करने से पहले एकेडमिक्स में करियर बनाया।

अवसर को भुनाना

वेवेल का ख्याल तब आया जब दोनों सह-संस्थापक वॉयस एआई में विभिन्न समस्याओं को हल करने की कोशिश कर रहे थे। नरसिम्हा डॉक्टर पेशेंट इंटरैक्शन के रिकॉर्ड बनाने के लिए वॉयस एआई के आसपास एक समाधान विकसित कर रहे थे, जबकि अभिनव कंटेंट स्पेस में अन्य एआई एप्लीकेशन में उद्यम कर रहे थे। दोनों ने बाजार में कमियों को खोजने के लिए प्रोडक्ट आधारित अप्रोच पर एक साथ काम किया।

अभिनव कहते हैं, "ट्रांसलेशन में बहुत कुछ खोता जा रहा था, जबकि वॉयस एआई ऐसे में मदद कर सकता था। तभी हमें अवसर की तीव्रता का एहसास हुआ।”

Wavel

"एक अवसर तब आया जब हम एनयूएस (सिंगापुर के राष्ट्रीय विश्वविद्यालय) में चिकित्सा केंद्रों के साथ अपना समाधान चला रहे थे। मैं इंस्ट्रक्शनल डिजाइन के डायरेक्टर के साथ एक बैठक करने में कामयाब रहा, जिन्होंने हमारा सॉल्यूशन देखा और कंटेंट लोकलाइजेशन के लिए इसका इस्तेमाल करने का प्रस्ताव रखा। उनके लिए इसे (कंटेंट लोकलाइजेशन) मैनेज करना एक बड़ी परेशानी थी। हमें एक मॉकअप सॉल्यूशन के साथ 24 घंटे के भीतर अपना पहला 5 डिजिट डॉलर का कॉन्ट्रैक्ट मिला और बाकी इतिहास है।”

11-50 कर्मचारियों की एक टीम के साथ, अभिनव वेवेल में सेल्स, मार्केटिंग, फाइनेंस संभालते हैं जबकि नरसिम्हा प्रोडक्ट, एआई और ऑपरेशन की देखभाल करते हैं।

स्टार्टअप क्या करता है?

अभिनव का दावा है कि वेवेल एआई कंटेंट परफॉर्मेंस और पहुंच प्रदान करने के लिए जिम्मेदार सबसे पावरफुल एआई में से एक है। एक बार जब यूजर फाइल अपलोड करता है तो वेवेल दो दुनियाओं का सबसे अच्छा इस्तेमाल करता है - वेवेल एआई और ह्यूमन एडिटर मिलकर काम करते हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि ट्रांसक्रिप्शन 99 प्रतिशत सटीक है और पावरफुल कोलैबोरेशन टूल प्रदान करता है।

अभिनव कहते हैं, "अंतिम यूजर्स को क्वालिटी, टर्नअराउंड समय और फाइलों के मैनेजमेंट की चिंता किए बिना प्रक्रिया की पूरी दृश्यता मिलती है।"

वर्तमान में ट्रांसक्रिप्शन और ट्रांसलेशन सर्विसेज प्रदान करते हुए, इसने एक ऐसी प्रणाली भी विकसित की है जिसके माध्यम से वे 14 दिनों में किसी भी टियर I भाषा - अंग्रेजी, हिंदी, मंदारिन, स्पेनिश, जर्मन आदि को तैनात कर सकते हैं।

अभिनव कहते हैं, "कई विश्वविद्यालय अंतरराष्ट्रीय छात्रों को ले रहे हैं, सबटाइटल ट्रांसलेशन सभी लर्नर्स के लिए पूर्ण कंटेंट पहुंच सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। आप चाहे तो अपना सबटाइटल रख सकते हैं जिसमें आपके व्यूअर्स अपनी टारगेट भाषा चुन सकें या सबटाइल जो स्थायी रूप से दिखें, हम इसमें मदद कर सकते हैं।"

अभिनव ने कहा, "हमारा टर्नअराउंड 24 घंटे है, लेकिन हम 12 घंटों के भीतर अधिकतम आवश्यकताओं को पूरा कर रहे हैं, जो कि उद्योग के औसत से 8 गुना बेहतर है।"

Wavel

फिलहाल प्लेटफॉर्म वॉयस-ओवर और डबिंग पर काम कर रहा है।

इसका उद्देश्य विस्तारित उत्पादन प्रक्रियाओं में वोकल परफॉर्मेंस के साथ स्वतंत्र रूप से प्रयोग करने के लिए कस्टम एआई आवाज प्रदान करना है।

वे कहते हैं, "वेवेल एआई यूजर्स द्वारा अपलोड किए जाने वाले कंटेंट सोर्स से ऑटोमैटिक कस्टम आवाज बनाने की दिशा में काम कर रहा है और इसे हमारे न्यूरल टेक्स्ट से स्पीच इंजन के माध्यम से अन्य भाषाओं में प्लेबैक करने में सक्षम बनाता है। आप अपनी मूल भाषा में ऑडियो फाइलों को रिकॉर्ड या अपलोड करके कंटेंट का लोकलाइजेशन कर सकते हैं। हमारा शक्तिशाली एआई टूल यह सुनिश्चित करता है कि फिल्मों, मीटिंग्स, ऑडियोबुक आदि में विभिन्न भाषाओं में डब किए जाने पर प्रत्येक कैरेक्टर की आवाज सुसंगत हो।"

यह एक B2B (बिजनेस-टू-बिजनेस) मॉडल के रूप में काम करता है , जिसमें लोकलाइज्ड होने वाले कंटेंट की मात्रा के आधार पर वार्षिक सब्सक्रिप्शन मॉडल होता है।

वे कहते हैं, “हम अपने समाधान की क्वालिटी और आसानी का अनुभव करने के लिए अपने प्लेटफॉर्म पर 15 मिनट का फ्री क्रेडिट ऑफर करते हैं। हमने अभी कीमत का खुलासा नहीं किया है। लेकिन हम इंडस्ट्री के औसत से 50 प्रतिशत सस्ते हैं।”

मार्केट साइज और ट्रैक्शन

वर्तमान में, वीडियो लोकलाइजेशन और भाषा समाधान बाजार वैश्विक स्तर पर $70 बिलियन से अधिक है, जो कि COVID-19 महामारी के कारण हुए व्यवधानों के बीच वीडियो कंटेंट को अपनाने के कारण 11% YoY (वर्ष-दर-वर्ष) की दर से बढ़ रहा है।

वेवेल का कहना है कि उसके आठ देशों में ग्राहक हैं।

अभिनव का दावा है, "50 से अधिक B2B (बिजनेस-टू-बिजनेस) ग्राहक संयुक्त राज्य अमेरिका, भारत, सिंगापुर और अन्य 5 देशों में फैले हुए हैं जिनमें यूनिकॉर्न और बहुराष्ट्रीय कंपनियां शामिल हैं।"

कुछ उल्लेखनीय नामों में बायजू, एमेरिटस और ग्रेट लर्निंग शामिल हैं। $50,000 पर पहले वर्ष ARR (वार्षिक आवर्ती राजस्व) के साथ, स्टार्टअप वित्त वर्ष 22 के साथ $900,000 के साथ 9 गुना हो गया है।

भविष्य की योजनाओं के बारे में बोलते हुए, अभिनव कहते हैं कि स्टार्टअप अगले 2 वर्षों में $10 मिलियन ARR हिट करने की योजना बना रहा है।

वे आगे कहते हैं, “हम वीडियो लोकलाइजेशन के लिए वेवेल को एक स्थान पर समाधान के रूप में बना रहे हैं। हम कंटेंट से अधिक मूल्य उत्पन्न करने और उद्यमों को लाभान्वित करने के लिए एआई का लाभ उठाएंगे। विकास के संदर्भ में हम अपने समाधान को संभावित बाजारों तक पहुंचाने और लाभान्वित करने के लिए ऑर्गेनिक और इनऑर्गेनिक दोनों तरीकों पर ध्यान केंद्रित करेंगे।”

स्टार्टअप ने अब तक एंटरप्रेन्योर फर्स्ट (रीड हॉफमैन द्वारा समर्थित) से एंजेल्स के एक सिंडिकेट (मैकिन्से और फिलिप्स से एक्जेक सहित) से $450,000 जुटाए हैं। इस क्षेत्र में काम करने वाले कुछ खिलाड़ियों में Verbit.ai, Rev.com, Descript.com, transcribme, 3playmedia शामिल हैं। वेवेल का कहना है कि यह बाजार में सबसे अलग है क्योंकि मौजूदा खिलाड़ी या तो मैनुअल हैं या उनके पास वीडियो लोकलाइजेशन की जरूरतों के लिए एक सामान्य समाधान है।

अभिनव ने कहा, "हम ई-लर्निंग में उच्च-मूल्य वाले कंटेंट वीडियो पर ध्यान केंद्रित करते हैं और अपने सॉफ्टवेयर के माध्यम से वैल्यू बनाते हैं।"


Edited by Ranjana Tripathi

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors