SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन: क्या है यह स्कीम और कौन ले सकता है फायदा

By Ritika Singh
January 18, 2023, Updated on : Wed Jan 18 2023 10:53:10 GMT+0000
SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन: क्या है यह स्कीम और कौन ले सकता है फायदा
SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन स्कीम पूरे भारत में मौजूद SBI की सभी ग्रामीण और अर्धशहरी शाखाओं में उपलब्ध है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

आर्थिक संकट आने पर लोग लोन या उधार की मदद लेते हैं. हालात बहुत ज्यादा खराब हो जाने पर लोग घर में रखे सोने की भी मदद लेते हैं. सोने को गिरवी रखकर बैंक या वित्तीय संस्थान से लोन लिया जाता है. मुश्किल वक्त में किसान अपने घर में रखे सोने को खुद की मदद का माध्यम बना सकें, इसके लिए भारतीय स्टेट बैंक (SBI or State Bank of India) मल्टीपर्पज गोल्ड लोन स्कीम (बहु-उद्देशीय स्वर्ण ऋण योजना) की पेशकश करता है. SBI की इस स्कीम का मकसद कृषि में लगे किसानों, स्वयं की और/अथवा पट्टे पर ली गई जमीन पर खेती करने वालों या फसल उगाने वालों; डेरी, मुर्गीपालन, मछलीपालन, सूअर पालन, भेड़ आदि संबद्ध गतिविधियों से जुड़े किसानों की अल्पावधि उत्पादन या निवेश ऋण जरूरतों की पूर्ति करना है.


इसके अलावा SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन स्कीम (SBI Multipurpose Gold Loan Scheme) के तहत ऐसे उद्यमी एवं किसान भी कवर होते हैं, जिन्हें मशीनरी प्राप्त करने, भू विकास करने, सिंचाई, बागवानी, कृषि उत्पाद के परिवहन आदि के लिए निवेश ऋण की जरूरत है. सभी अन्य कृषि गतिविधियां, जिन्हें भारतीय रिजर्व बैंक/भारत सरकार/नाबार्ड दिशा निर्देशों के अनुसार कृषि के अंतर्गत वर्गीकृत करने के लिए अनुमति दी गई है, इस लोन स्कीम के दायरे में आती हैं.

ब्याज दर और प्रोसेसिंग फीस

SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन स्कीम में ब्याज दर एक वर्ष की MCLR + 1.25% रहती है. इस वक्त में एक वर्ष की MCLR 8.40 प्रतिशत है. इस हिसाब से SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन के तहत मौजूदा ब्याज दर 9.65% सालाना है. अगर कोई व्यक्ति SBI के योनो ऐप के माध्यम से इस लोन के लिए अप्लाई करता रहा है तो उसे 0.25 प्रतिशत का अतिरिक्त फायदा मिलता है. प्रोसेसिंग फीस/इंस्पेक्शन चार्जेस की बात करें तो यह 25,000 रुपये तक शून्य, 25,000 रुपये से अधिक से लेकर 2 लाख रुपये तक पर 500 रु+ GST और 2 लाख रुपये से अधिक पर, कर्ज सीमा का 0.30%+ GST है. SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन को चुकाने की अवधि, लोन डिस्बर्समेंट की तारीख से लेकर 12 माह तक है.

कोई छिपे चार्ज नहीं

SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन स्कीम पूरे भारत में मौजूद SBI की सभी ग्रामीण और अर्धशहरी शाखाओं में उपलब्ध है. स्कीम के तहत कोई छिपे चार्ज नहीं हैं और लोन प्रक्रिया बेहद आसान और परेशानी रहित है. गिरवी रखे गए सोने के मूल्य के आधार पर तय होता है कि कितना लोन आवेदनकर्ता को मिलेगा. इसमें यह भी मायने रखता है कि सोना कितने कैरेट का है- 24, 22, 20 या 18 कैरेट. ध्यान रहे कि कृषि गतिविधियों से संबंध न रखने वाला व्यक्ति SBI मल्टीपर्पज गोल्ड लोन का फायदा नहीं उठा सकता.

आवेदन के लिए जरूरी डॉक्युमेंट्स

  • लोन लेने वाले के 2 नए पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदन पत्र
  • केवाईसी डॉक्युमेंट्स
  • 2 लाख रुपये से अधिक के ऋण के लिए भूमि जोत या संबद्ध गतिविधियों के साक्ष्य
  • सैंक्शन के अनुसार अन्य डॉक्युमेंट

पात्रता शर्तें

इस स्कीम में कृषि गतिविधियों से जुड़ा कोई भी व्यक्ति बैंक को सोना गिरवी रख, उस पर लोन ले सकता है. SBI के मुताबिक, स्वयं खेती करने वाले व्यक्ति, कृषि उद्यमी, कास्तकार किसान, मौखिक पट्टेदार एवं बंटाईदार, किसी भी कृषि अथवा संबद्ध गतिविधियों से जुड़ा कोई भी ऐसा व्यक्ति जो गैर-संस्थात्मक ऋणदाताओं से लिए गए ऋणों की चुकाना चाहता हो, कृषि के अंतर्गत वर्गीकृत किए जाने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा अनुमति प्राप्त गतिविधियों से जुड़े व्यक्ति, आदि सभी स्कीम का फायदा ले सकते हैं. आवेदक को यह स्व-घोषणा (self-declaration) करनी होगी कि वह कृषि एवं संबद्ध गतिविधियों से जुड़ा है और सोने के गहनों को गिरवी रख लिया गया लोन, गैर-संस्थागत ऋणदाताओं से उच्चतर ब्याज दरों पर लिए गए कर्जों को चुकाने के लिए है.