क्यों इस फिनटेक स्टार्टअप ने कॉलेज के छात्रों के लिए लॉन्च की भारत की पहली UPI-बेस्ड क्रेडिट लाइन

फिनटेक स्टार्टअप PayCrunch एक माइक्रोलोन लेंडिंग ऐप है जो टीनेजर्स और कॉलेज के छात्रों को टारगेट कर रहा है। यह UPI के माध्यम से क्रेडिट ऑफर करता है, और इसका उद्देश्य ट्रैक ट्रांजेक्शन में मदद करके वित्तीय प्रबंधन को आसान बनाना है।

क्यों इस फिनटेक स्टार्टअप ने कॉलेज के छात्रों के लिए लॉन्च की भारत की पहली UPI-बेस्ड क्रेडिट लाइन

Saturday February 19, 2022,

5 min Read

जब वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (VIT) से इंजीनियरिंग ग्रेजुएट अमन भयाना फिनटेक क्षेत्र में अपनी उम्र के लोगों के लिए कुछ शुरू करने पर विचार कर रहे थे, तो उन्होंने महसूस किया कि उनके अधिकांश साथी कार्ड का इस्तेमाल नहीं कर रहे थे। इसके बजाय, वे यूपीआई-आधारित समाधान चुन रहे थे।

यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) एक ऐसी प्रणाली है जो एक ही मोबाइल एप्लिकेशन में कई बैंक खातों को जोड़ती है, कई बैंकिंग सुविधाओं को मर्ज करती है, निर्बाध फंड रूटिंग और मर्चेंट भुगतान करती है। यह "पीयर-टू-पीयर" कलेक्ट रिक्वेस्ट को भी पूरा करता है जिसे शेड्यूल किया जा सकता है और आवश्यकता और सुविधा के अनुसार भुगतान किया जा सकता है।

अमन कहते हैं, "कार्ड अच्छे हैं, लेकिन UPI बहुत अधिक सुविधाजनक है।"

अब 23 साल के अमन ने अपने विचारों को संगठित किया और एक ऐसे आयु वर्ग पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला किया जो अब तक फिनटेक पारिस्थितिकी तंत्र द्वारा उपेक्षित था: किशोर यानी टीनेजर्स।

2020 में, अमन और वीआईटी से ही इंजीनियरिंग ग्रेजुएट मेहरदीप ठाकुर ने कॉलेज के छात्रों के लिए एक यूपीआई-आधारित क्रेडिट प्लेटफॉर्म बेंगलुरु स्थित PayCrunchलॉन्च किया। सुरक्षित और विश्वसनीय प्लेटफॉर्म का उद्देश्य छात्रों को एक अनूठा अनुभव प्रदान करना है, खासकर तब, जब वे दोस्तों के साथ खरीदारी, पार्टी और बहुत कुछ करने जाते हैं। आगे निवेश की मांग करने से पहले, अमन ने शुरुआत में फर्म को 1-2 लाख रुपये के साथ बूटस्ट्रैप किया।

वे कहते हैं, “यह प्लेटफॉर्म उन छात्रों के लिए है, जो बाहर जाते हैं लेकिन शायद कुछ पैसों की कमी पड़ जाती है। ऐसी परिस्थिति में वे यूपीआई के माध्यम से वहां भुगतान कर सकते हैं।”

PayCrunch

PayCrunch की टीम में 12 से अधिक सदस्य है, जो रिमोटली काम करते हैं

कैसे काम करता है स्टार्टअप

PayCrunch एक माइक्रो लोन लेंडिंग ऐप है जो छात्रों के लिए पैसे उधार लेना आसान बनाता है। 'अभी खरीदें, बाद में भुगतान करें' ऐप के 10,000 से अधिक यूजर्स होने का दावा है, और इसका उद्देश्य ट्रैक ट्रांजेक्शन में मदद करके वित्तीय प्रबंधन को आसान बनाना है।

यह एक छात्र के भुगतान का ट्रैक रखने के लिए एक क्रेडिट सिस्टम का इस्तेमाल करता है, उन्हें चतुराई से वित्तीय प्रबंधन को प्रोत्साहित करने के लिए रोमांचक बोनस प्रदान करता है। इसकी ऑफलाइन सुविधा सुनिश्चित करती है कि इंटरनेट एक्सेस की कमी कोई समस्या न हो और पूरे देश में पहुंच को बढ़ाने में मदद करती है।

टीनेजर्स को ऑनबोर्ड करने के लिए, PayCrunch एक वैकल्पिक वित्तीय मूल्यांकन प्रक्रिया का उपयोग करता है।

अमन कहते हैं, "हम भुगतान करने की क्षमता और भुगतान करने की इच्छा के बीच यूजर्स के अपने आकलन को विभाजित करते हैं। ये दोनों चीजें उनके खर्च करने के पैटर्न को समझकर की जाती हैं। हम सोशल मीडिया पर भी इस पैटर्न को समझने की कोशिश करते हैं।”

PayCrunch, जो वर्तमान में 12 लोगों को रोजगार देता है, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के साथ भी जुड़े हुए छात्र समुदायों के साथ गठजोड़ कर रहा है। इसमें अंडर 25, भारत के कॉलेजों में दस लाख से अधिक छात्रों वाला एक समूह शामिल है।

फिनटेक स्टार्टअप सोशल, और फिनटेक प्लेटफॉर्म CRED सहित रेस्तरां चैन के साथ बातचीत भी कर रहा है, ताकि अपने यूजर्स को विभिन्न योजनाएं और उत्पाद उपलब्ध करा सकें।

इसमें यूजर्स अनुभव को सरल बनाने और उन्हें PayCrunch क्वाइन्स के साथ पुरस्कृत करने की योजना है, जिसका इस्तेमाल आगे की खरीदारी करने के लिए किया जा सकता है।

PayCrunch

Credit: YourStory Design

बाजार और दृष्टिकोण

पिछले दो वर्षों में, महामारी के कारण तेज डिजिटल अपनाने के साथ, कई फिनटेक प्लेटफार्मों ने बीएनपीएल योजनाएं शुरू की हैं। इनमें MobiKwik, BharatPe, बेंगलुरु स्थित Zest Money और Lazy Pay शामिल हैं।

नवंबर 2021 में RedSeer की रिसर्च के अनुसार, भारत का BNPL बाजार 2026 तक $ 45-50 बिलियन से बढ़कर $3-3.5 बिलियन हो जाएगा। भारत में BNPL यूजर्स की संख्या भी वर्तमान में 10-15 मिलियन से बढ़कर 80-100 मिलियन ग्राहक हो सकती है।

साथ ही, स्टार्टअप इकोसिस्टम के लिए टीनेजर्स नए पसंदीदा बाजार खंड बन गए हैं। एडटेक से लेकर फिनटेक तक, कई युवा संस्थापक इस आयु वर्ग को लक्षित कर रहे हैं।

कुछ फिनटेक खिलाड़ी जिन्होंने अपनी पेशकशों के साथ सफलता पाई है, उनमें Tiger Global-समर्थित Slice, युवा वयस्कों के लिए एक क्रेडिट कार्ड डिस्बर्समेंट खिलाड़ी शामिल हैं; FamPay; और Junio, जो 18 वर्ष से कम उम्र के लोगों को डिजिटल वित्तीय पहुंच प्रदान करते हैं।

वर्टिकल ने अतीत में मार्की निवेशकों से पर्याप्त वीसी का पैसा खींचा है और यह व्यापक रूप से माना जाता है कि यह स्थान मजबूत विकास देखने के लिए तैयार है। PayCrunch, जिसने Y Combinator से $500,000 जुटाए, अब अपने यूजर्स आधार का विस्तार करने और NBFC लाइसेंस प्राप्त करने की तलाश में है, जो कि मुश्किल हो सकता है क्योंकि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने निजी खिलाड़ियों के लिए और नियम लाए हैं।

इसका उद्देश्य अन्य चीजों के अलावा अपना खुद का भुगतान कार्ड भी लॉन्च करना है। वे कहते हैं, “कॉलेज जाने वाली भीड़ अगली बड़ी बात है। जहां यूजर्स आधार हर दो साल में बदलता रहता है, ऐसे में अगर सही तरीके से टैप किया जाए तो वे आजीवन ग्राहक हो सकते हैं।”


Edited by रविकांत पारीक