Aequs ने सिंगापुर स्थित Amansa Capital की अगुवाई में जुटाए 448 करोड़ रुपये

भारत में सबसे बड़ा एयरोस्पेस प्रिसिजन कंपोनेंट निर्माता होने के नाते, Aequs वर्तमान में अपने रेवेन्यू का लगभग 100% निर्यात से प्राप्त करता है. यह अधिकांश वैश्विक एयरोस्पेस कंपनियों जैसे Airbus, Boeing, Bombardier, Safran, Collins, Spirit, Eaton, Honeywell को कंपोनेंट्स और असेंबली की आपूर्ति करता है.

Aequs ने सिंगापुर स्थित Amansa Capital की अगुवाई में जुटाए 448 करोड़ रुपये

Monday October 30, 2023,

3 min Read

प्रिसिजन मैन्युफैक्चरिंग कंपनी AequsPvt. Ltd. ने सिंगापुर स्थित Amansa Capital की अगुवाई में 54 मिलियन डॉलर (448 करोड़ रुपये) जुटाए हैं. कंपनी ने इक्विटी फंडिंग के लेटेस्ट राउंड में पांच नए निवेशकों को जोड़ा है.

Amansa के अलावा, मौजूदा राउंड में अग्रणी वैश्विक निवेश फर्म Steadview Capital, Catamaran, Infosys के फाउंडर एन.आर. नारायण मूर्ति का पारिवारिक कार्यालय, Sparta Group LLC, Desh Deshpande का निवेश कार्यालय और अन्य व्यक्तिगत निवेशक शामिल हैं. यह राउंड अप्रैल 2023 में Amicus Capital की अगुवाई में 225 करोड़ रुपये के पहले राउंड के बाद आता है,.Amicus ने अपने सहयोगियों के माध्यम से मौजूदा राउंड में भी भाग लिया है.

भारत में सबसे बड़ा एयरोस्पेस प्रिसिजन कंपोनेंट निर्माता होने के नाते, Aequs वर्तमान में अपने रेवेन्यू का लगभग 100% निर्यात से प्राप्त करता है. यह अधिकांश वैश्विक एयरोस्पेस कंपनियों जैसे Airbus, Boeing, Bombardier, Safran, Collins, Spirit, Eaton, और Honeywell को कंपोनेंट्स और असेंबली की आपूर्ति करता है.

Aequs ने कर्नाटक के बेलगावी में भारत के पहले एयरोस्पेस SEZ में विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त एयरोस्पेस-केंद्रित फोर्जिंग-टू-असेंबली इंटीग्रेटेड मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम का निर्माण किया है. यह इस परिसर में प्रति वर्ष 1.2 मिलियन से अधिक मशीनिंग घंटों की भारत में सबसे बड़ी एयरोस्पेस मशीनिंग क्षमता संचालित करता है. (बेलागावी), अमेरिका (पेरिस, टेक्सास) और फ्रांस (चोलेट) में 12 एयरोस्पेस-केंद्रित, पूर्ण स्वामित्व वाली और संयुक्त उद्यम इकाइयों के संचालन के अलावा, Aequs के पास अपने नॉन-एयरोस्पेस बिजनेसेज के लिए कर्नाटक के कोप्पल और हुबली शहरों में पांच और ऑपरेशनल युनिट्स हैं.

अरविंद मेलिगेरी, अध्यक्ष और सीईओ ने बताया: "Aequs ने हमेशा भारत के मैन्युफैक्चरिंग के इतिहास में विश्वास किया है और पिछले 15 वर्षों से अपने द्वारा संचालित उद्योग क्षेत्रों में अपने प्रोडक्ट्स के देश में मूल्यवर्धन को अधिकतम करने पर ध्यान केंद्रित किया है. हम साझेदारी करने के लिए उत्साहित हैं. ऐसे निवेशकों के साथ, जिन्हें भारतीय पूंजी बाजार की गहरी समझ है, मेरा मानना है कि इससे Aequs को अत्यधिक मूल्य मिलेगा. ये साझेदारियाँ वैश्विक आपूर्ति श्रृंखलाओं के पुनर्गठन और कई मामलों में भारत में उनके स्थानांतरण के कारण उभरते अवसरों का दोहन करने में भी मदद करेंगी."

पिछले कुछ वर्षों में, Aequs ने सभी उद्योग क्षेत्रों में सर्वोत्तम श्रेणी के मैन्युफैक्चरिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर और क्षमताओं के निर्माण में महत्वपूर्ण निवेश किया है. सटीक इंजीनियरिंग और जमीनी स्तर पर बड़ी क्षमताओं में इसके सिद्ध ट्रैक रिकॉर्ड को देखते हुए यह भारतीय मैन्युफैक्चरिंग में वैश्विक ग्राहकों की बढ़ती रुचि को पकड़ने के लिए अच्छी स्थिति में है.

AMBIT Private Ltd. इस लेनदेन के लिए विशेष निवेश बैंकर था.

यह भी पढ़ें
स्वदेशी सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म Khul Ke की अनसुनी कहानी...