Aptos Labs ने वेब3 सोशल मीडिया ऐप Chingari में किया निवेश

Aptos Labs ने वेब3 सोशल मीडिया ऐप Chingari में किया निवेश

Thursday February 09, 2023,

4 min Read

एप्टोस लैब्स (Aptos Labs), जिस टीम ने एप्टोस ब्लॉकचेन को लॉन्च किया है, उसने ऑन-चेन शॉर्ट वीडियो ऐप चिंगारी (Chingari) में इक्विटी निवेश किया है. नई पूंजी का उपयोग चिंगारी द्वारा यूजर वृद्धि, प्रोडक्ट विकास, इंजीनियरिंग में तेजी लाने और वैश्विक विस्तार के लिए किया जाएगा. Aptos Labs टीम के पास कुछ सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को विकसित करने और बढ़ाने का व्यापक अनुभव है.

चिंगारी 2023 की दूसरी तिमाही तक एप्टोस नेटवर्क पर अपना अपग्रेडेड एप्लिकेशन लॉन्च करेगा. एप्टोस नेटवर्क सुरक्षा और मापनीयता को प्राथमिकता देता है और चिंगारी के लिए लाखों अतिरिक्त उपयोगकर्ताओं के लिए फायदेमंद साबित होगा. वर्तमान चिंगारी ऐप 2.2 मिलियन से अधिक एक्टिव वॉलेट यूज़र्स के साथ सोलाना ब्लॉकचेन पर बनाया गया है, जो की इस ब्लॉकचेन के दूसरा सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है. 

Aptos में अपने माइग्रेशन के साथ, शार्ट वीडियो ऐप, चिंगारी अपने यूजर बेस को और बढ़ाने की योजना बना रहा है. वर्तमान में चिंगारी, भारत, संयुक्त अरब अमीरात, इंडोनेशिया, तुर्की और अमेरिका में करोड़ों उपयोगकर्ताओं के लिए उपलब्ध है. कंपनी ने निकट भविष्य में अधिक उभरते और रणनीतिक बाजारों में लॉन्च करने की योजना बना रही है. गौरतलब है कि चिंगारी ने वित्तीय वर्ष 2022 में $ 6.4 मिलियन और वर्ष 2023 के पहले महीने में $ 700k का राजस्व अर्जित किया है.

चिंगारी के सीईओ और को-फाउंडर सुमित घोष ने कहा, "एप्टोस लैब्स के पास अपार अनुभव है और और इस साझेदारी के साथ हम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के निर्माण और विस्तार में उनकी विशेषज्ञता का लाभ उठाएंगे. एप्टोस लैब्स के साथ साझेदारी निकट भविष्य में नए बाजारों की ओर विस्तार करने से पहले भारतीय Web3 इकोसिस्टम में एक मजबूत नींव और केस स्टडी का मार्ग प्रशस्त करेगी. यह एक महत्वपूर्ण साझेदारी है जिसे चिंगारी पहले एक बिलियन ऑन-चेन उपयोगकर्ताओं के लिए तैयार करेगा."

एप्टोस के सीईओ और को-फाउंडर मो शेख ने कहा, “अनगिनत प्लेटफॉर्म और अलग-अलग कम्युनिटी वाली दुनिया में, क्रिएटर्स के लिए अपनी कंटेंट को मॉनेटाइस करना और अपने फॉलोअर्स को बढ़ाना और बनाए रखना असंभव है. चिंगारी की टीम ने क्रिएटर्स को अपने फोल्लोवेर्स के साथ संवाद करने और अपने कंटेंट को मॉनेटाइस करने के लिए कई रास्ते प्रदान किये हैं चिंगारी अपने लाखों यूज़र्स को बढ़ावा देने के लिए एप्टोस नेटवर्क की गति, सुरक्षा और मापनीयता की तलाश कर रहे थे, हमे ख़ुशी है कि इसके लिए उन्होंने ऑप्टोस नेटवर्क को चुना."

बता दें कि चिंगारी, गारी टोकन (Gari token) द्वारा संचालित दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ने वाला ऑन-चेन सोशल ऐप है. चिंगारी का उदार मंच 170M+ यूज़र्स का मनोरंजन करता है, और यहाँ 15+ भाषाओं में वीडियो उपलब्ध हैं. चिंगारी के 5 मिलियन से अधिक दैनिक सक्रिय उपयोगकर्ता (DAU) और 40 मिलियन मासिक सक्रिय उपयोगकर्ता (MAU) हैं. ऐप को प्ले स्टोर पर 170 मिलियन से अधिक बार डाउनलोड किया गया है और Google Play पर दुनिया भर में शीर्ष 20 सबसे अधिक डाउनलोड किए जाने वाले ऐप में से एक है. ऐप पर रोजाना 20 करोड़ से ज्यादा वीडियो देखे जा रहे हैं.

वहीं, गारी टोकन की मदद से शॉर्ट वीडियो बनाने वाले कंटेट क्रिएटर्स अपने वीडियोज को मोनेटाइज कर सकते हैं और पैसे कमा सकते हैं. गारी टोकन की मदद से वे अपने वीडियोज को ब्लॉकचेन पर यूनिक पहचान देते हैं जिसके बाद इसका मोनेटाइजेशन होता है. 23 लाख से ज्यादा एक्टिव वॉलेट यूज़र्स ने गारी टोकन का इस्तेमाल किया है और उनकी होल्डिंग में यह डिजिटल टोकन शामिल है. यह रिकॉर्ड इसने लॉन्च होने के महज 1 साल के भीतर बनाया है. गारी सोलाना ब्लॉकचेन पर दूसरा सबसे बड़ा प्रोजेक्ट हैं.

जबकि एप्टोस अगली पीढ़ी का लेयर 1 ब्लॉकचेन है. Aptos की सफल तकनीक और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज, मूव को विकसित करने, प्रदर्शन में सुधार करने और उपयोगकर्ता सुरक्षा उपायों को मजबूत करने के लिए डिज़ाइन किया गया है. एप्टोस लैब्स, मो शेख और एवरी चिंग द्वारा सह-स्थापित, डेन्ट्रलाइसेशन के लाभों को जनता तक पहुंचाने के लिए बेहतर नेटवर्क टूलिंग और सहज उपयोगिता बनाने के लिए समर्पित है. अब $400M से अधिक जुटाए जाने के बाद, Aptos Labs को a16z, Jump Crypto, Binance Labs, Dragonfly, PayPal Ventures और Coinbase Ventures सहित शीर्ष निवेशकों का समर्थन प्राप्त है.  


Edited by रविकांत पारीक