Baheti Recycling Industries के शेयरों का अलॉटमेंट आज, 347 गुना से ज्यादा सब्स​क्राइब हुआ था IPO

By yourstory हिन्दी
December 05, 2022, Updated on : Mon Dec 05 2022 05:43:45 GMT+0000
Baheti Recycling Industries के शेयरों का अलॉटमेंट आज, 347 गुना से ज्यादा सब्स​क्राइब हुआ था IPO
बहेती रिसाइक्लिंग, एल्युमीनियम रिसाइक्लिंग कंपनी है. इसकी क्षमता 12 हजार मीट्रिक टन एल्युमीनियम कचरे को रिसाइकिल करने की है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

SME सेक्टर की कंपनी बहेती रिसाइक्लिंग इंडस्ट्रीज (Baheti Recycling Industries) के आईपीओ के तहत शेयरों को अलॉटमेंट सोमवार 5 दिसंबर को होने वाला है. कंपनी का आईपीओ जबर्दस्त हिट रहा था. यह आईपीओ 28 नवंबर को खुला था और 30 नवंबर को बंद हुआ था. यह 347 गुना से ज्यादा सब्स​क्राइब हुआ था. ग्रे मार्केट में बहेती रिसाइक्लिंग इंडस्ट्रीज के शेयरों का भाव 40 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है.


कंपनी की लिस्टिंग NSE SME पर 8 दिसंबर 2022 को होनी है. इस प्लेटफॉर्म पर छोटी और मंझोले आकार की कंपनियां लिस्ट होती हैं. शेयरों का अलॉटमेंट स्टेटस, बहेती रिसाइक्लिंग के आईपीओ के रजिस्ट्रार Purva Sharegistry (India) की वेबसाइट पर जाकर देखा जा सकता है.

12.42 करोड़ रुपये का था IPO

बहेती रिसाइक्लिंग इंडस्ट्रीज का आईपीओ 12.42 करोड़ रुपये का था और 347.53 गुना सब्सक्राइब हुआ था. रिटेल पोर्शन 435.65 गुना और नॉन-इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स के लिए रिजर्व हिस्सा 259.21 गुना सब्सक्राइब हुआ था. एसएमई आईपीओ के लिए कंपनी के पास पोस्ट इश्यू कैपिटल 1 करोड़ से 2 करोड़ रुपये के बीच में रहना चाहिए.

क्या करती है कंपनी

बहेती रिसाइक्लिंग, एल्युमीनियम रिसाइक्लिंग कंपनी है. इसकी क्षमता 12 हजार मीट्रिक टन एल्युमीनियम कचरे को रिसाइकिल करने की है. भारत में 12 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के साथ-साथ कई दूसरे देशों में भी इसके प्रॉडक्ट्स की बिक्री होती है, जैसे- जापान, कनाडा, अमेरिका, चीन, यूएई, ताइवान आदि. इसके ग्राहकों में आर्सेलर मित्तल निप्पॉन स्टील इंडिया, टाटा स्टील, सिग्मा इलेक्ट्रिक आदि शामिल हैं. आईपीओ से जुटाए गए पैसों का इस्तेमाल कंपनी मौजूद प्लांट को मॉडर्न बनाने, उनका विस्तार करने, वर्किंग कैपिटल से जुड़ी जरूरतों को पूरा करने आदि में किया जाएगा.

आरआर काबेल ला रही IPO

इस बीच खबर है कि आरआर ग्लोबल समूह की वायर, केबल की विनिर्माता कंपनी आरआर काबेल अपना आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने की तैयारी में है. इसके लिए वह अगले वर्ष मई में भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास आरंभिक दस्तावेज दाखिल करेगी. आरआर ग्लोबल के प्रबंधन निदेशक एवं समूह अध्यक्ष श्रीगोपाल काबरा ने बताया कि आरआर काबेल की 2023-24 की तीसरी तिमाही में अपना आईपीओ लाने की योजना है.


कंपनी का लक्ष्य 2025-26 तक, अगले तीन वर्ष में कारोबार लगभग दोगुना यानी 11,000 करोड़ रुपये करने का है. अक्टूबर-नवंबर 2024 तक आईपीओ आने के लिए सेबी के पास दस्तावेज मई में जमा करवाए जाएंगे. काबरा ने बताया कि आरआर काबेल का राजस्व 2021-22 में करीब 4,800 करोड़ रुपये था और चालू वित्त वर्ष के अंत तक यह करीब 25 फीसदी की वृद्धि के साथ करीब 6,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है.


Edited by Ritika Singh