AI और मशीन लर्निंग के इस्तेमाल से कंपनियों को स्मार्ट और इंटेलिजेंट बना रहा है बेंगलुरु का ये स्टार्टअप

By yourstory हिन्दी
March 10, 2020, Updated on : Tue Mar 10 2020 13:31:30 GMT+0000
AI और मशीन लर्निंग के इस्तेमाल से कंपनियों को स्मार्ट और इंटेलिजेंट बना रहा है बेंगलुरु का ये स्टार्टअप
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

SynctacticAI एक एंड-टू-एंड डेटा साइंस प्लेटफ़ॉर्म है जो किसी कंपनी के संपूर्ण डेटा जीवन चक्र प्रबंधन को संभालता है और उन्हे स्मार्ट व्यवसायों के निर्माण में मदद करता है।

SynctacticAI टीम

SynctacticAI टीम



चेतन केआर और आशीष कौशिक आईटी सेवा मुहैया कराने वाली एक कंपनी MSys टेक्नोलॉजीज में साथ काम करते थे। यहां वे बड़ी उत्पादन क्षमता वाली कंपनियों को डिजिटल होने में मदद करते थे।


काम के दौरान इन दोनों ने महसूस किया कि कंपनियां ऑटोमेशन, क्लाउड एनालिटिक्स और मशीन लर्निंग (ML) को तो अपना रही थीं, लेकिन वे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) के लिए तैयार नहीं थीं। इन्होंने पाया कि AI या डेटा आधारित निर्णय प्रक्रिया विकसित करने में कंपनियों के सामने कई चुनौतियां थीं। इनमें भारी मात्रा में डेटा, ऑर्गनाइजेशन के अंदर अलग-अलग टीम, काफी पुराने इंफ्रास्ट्रक्चर और डेटा टेक्नोलॉजी के लिए उनके पास सही टैलेंट का न होना जैसी चुनौतियां शामिल थीं।


AI को भविष्य की राह मानते हुए और डेटा साइंस में कुशल लोगों की मौजूदा कमी को दूर करने के इरादे से चेतन और आशीष ने फरवरी 2019 में सिकंटैक्टिकAI को शुरू किया। यह एक इंड-टू-इंड प्लेटफॉर्म है, जो कंपनी की पूरी डेटा लाइफ साइकल मैनेजमेंट को संभालती है और उन्हें बड़े स्तर पर स्मार्ट बिजनेस खड़ा करने में मदद करती है।


कंपनी किसी की भी अपने डेटा स्रोतों को जोड़ने, वर्कफ्लोज को परिभाषित करने, जानकारियों को मूर्त रूप देने और और AI/ ML मॉडल बनाने में मदद करती है। टीम उनके सभी डेटा जरूरतों के लिए सिंगल सोर्स पर काम करते हुए एक-दूसरे के साथ सहयोग भी कर सकती हैं।


चेतन ने बताया,

"हमारा मानना हैं कि डेटा अगली डिजिटल क्रांति है और यह इंटरनेट से भी बड़ी और अधिक परिवर्तनकारी साबित होगी। हम टीम, बजट या तकनीकी विकल्पों पर दबाव डाले बिना, बिजनेस लीडर्स के जीवन में डेटा आधारित उपायों को लाना में मदद करना चाहते हैं।"

सिकंटैक्टिकAI का दावा है कि वर्तमान में उसके कंज्यूमर बेस में से 50 प्रतिशित से अधिक अमेरिका में, 25 पर्सेंट सिंगापुर और बाकी भारत और दुनिया के दूसरे हिस्सो में हैं।





कंपनी के कुछ अहम क्लाइंट्स में भारत से श्रीराम फाइनेंस, शेफ सोशल, और लोकल फर्मेंट कंपनी, इंग्लैंड से वूपटू और अमेरिका से क्यूब मंक शामिल हैं।

कंपनी क्या करती है?

सिंटैक्टिक एक होरिजोंटल प्लेटफॉर्म है, जो किसी डोमेन के सिद्धांत में विश्वास नहीं रखती है। प्लेटफॉर्म को ऑन-प्रिमाइसेज, ऑन-क्लाउड या यहां तक कि हाइब्रिड मल्टी-क्लाउड सेटअपों में तैनात किया जा सकता है, भले ही यह किसी भी इंडस्ट्री या यूजर के लिए हो।


यह एक केंद्रीकृत डेटा प्लेटफॉर्म है, जो डेटा साइंस, मशीन लर्निंग और एआई के इस्तेमाल को लोकतांत्रित बनाती है । कंपनी व्यवसायों को अपनी डेटा जर्नी को ओर बढ़ने के लिए सशक्त करने का दावा करती है। इसमें एनालिटिक्स के लिए डेटा की तैयारी से लेकर एंटरप्राइज को AI तक ले जाना शामिल है।


कंपनी डेटा-संचालित एंटरप्राइजेज के लिए डेटा विशेषज्ञ और खोजकर्ता, इस्तेमाल की जाने वाले बेहतरीन तरीकों का भंडार, मशीन सीखने और एआई तैनाती / प्रबंधन के लिए शॉर्टकट और एक केंद्रीकृत और नियंत्रित वातावरण भी मुहैया कराती है।


चेतन ने बताया,

“हम सिंकटैक्टिकAI की मदद से कंपनियों के डेटा को फैसले लेने लायक जानकारी में बदलने में मदद करते हैं। इसके लिए हम मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करते हैं। हमारा प्लेटफॉर्म विभिन्न स्टोरेज सिस्टम और डेटाबेस को जोड़ता है, और कंपनियों के डेटा सेट को साफ करता है, इसे स्ट्रक्चर करता है, और मशीन लर्निंग मॉडल बनाता है। हमारी रणनीति एक सिंगल प्लेटफॉर्म के जरिए पूरे डेटा साइंस लाइफ को शुरू से लेकर अंत तक संभालने की है, जो हमें दूसरों से अलग करती है।"



यह स्टार्टअप मुख्य रूप से दो तरह की कंपनियों पर ध्यान है -पहली वे कंपनियां जिन्होंने अभी तक अपने ऑर्गनाइजेशन में डेटा आधारित सोच को लागू करना शुरू नहीं किया है, और दूसरी वे कंपनियां जो सक्रिय रूप से डेटा आधारित सोच का अनुसरण कर रही हैं।


चेतन ने बताया,

“इन दो वर्गों में सभी इंडस्ट्री और सभी तरह के साइज की कंपनियां शामिल हैं। हालांकि बाजार में उतरने की रणनीति के तहत हमने शुरुआत में 'फिनटेक, IoT, और रिटेल' को अपने टारगेट इंडस्ट्री के रूप में चुना है। यहां हमारे निशाने पर वे कंपनियों होंगी, जिन्होंने संचालन शुरू कर दिया है, जिनके पास अच्छी मात्रा में डेटा है और जो इस डेटा को समझना और उनका विश्लेषण करना चाहती हैं।"

सिंकटैक्टिकAI के निशाने पर वे बड़ी कंपनियां भी शामिल हैं, जो पहले से ही ओपेन सोर्स या क्लाउड नेटिव स्टैक के साथ अपने डेटा ऑपरेशन चला रही हैं। स्टार्टअप उन कंपनियों को अपना खुद का समाधान विकसित करने में मदद करेगी, जहां यह यूजर के मुताबिक एक सरल समाधान मुहैया करके उनकी वर्तमान दिक्कतों को संबोधित करेगा और जो कम लागत में प्रभाविक परिणाम प्रदान करेगा।


फिलहाल कंपनी की टीम में 12 सदस्य हैं। कंपनी का दावा है कि उसके ग्राहकों के संचालन कुशलता में 30 पर्सेंट से अधिक की बढ़ोतरी हुई है और डिसिजन मेंकिंग 50 पर्सेंट अधिक बेहतर हुआ है। इसके अलावा उसके प्लेटफॉर्म के जरिए मिली जानकारियों से कस्टमर इंगेजमेंट की लागत, पूरी डेटा टीम हायर करने में आने वाली लागत के मुकाबले आधी रही है।

मार्केट और बिजनेस मॉडल

मार्केट रिसर्च के मुताबिक, डेटा मैनेजमेंट प्लेटफॉर्म के 2023 तक ग्लोबल स्तर पर 3 अऱब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। 2017 से 2013 के बीच इस सेगमेंट के मार्केट साइज में करीब 15 पर्सेंट की सालाना दर से ग्रोथ का अनुमान है।





जेनड्राइव और वीफ्रेज जैसी प्रतिस्पर्धी कंपनियों की तुलना में अपनी खासियतें का उल्लेख करते हुए चेतन ने बताया,

“हम कुछ घंटों के भीतर डेटा इंफ्रास्ट्रक्चर स्थापित कर सकते हैं, जबकि बाकी कंपनियां इसमें करीब एक सप्ताह का समय लेती हैं। हमारी कंपनी किसी भी तकनीकी टीम के बिना प्लेटफॉर्म को तैयार करने और एनालिटिक्स शुरू करने का लचीलापन ऑफर करती है। हमारे पास एक हाइब्रिड मल्टी-क्लाउड भी है, जो AWS, GCP, AZURE, या यहां तक कि ऑर्गनाइजेश के परिसर में भी काम करता है। हालांकि इसके लिए ऑर्गनाइजेशन को सही स्टोरेज/क्लाउट सिस्टम चुनना होता है।"

SynctacticAI का मूल्य निर्धारण मॉडल एक सब्सक्रिप्शन वाले सरल मॉडल के जरिए नियंत्रित किया जाता है। यह मॉडल आवश्यक गणना और स्टोरेज के अनुसार डिजाइन की गई योजनाओं पर आधारित है। प्रत्येक योजना में अधिकतम गणना और स्टोरेज की सीमा तय होती है, और जब कोई इन सीमाओं को पार करता है तो इसे आसानी से अपग्रेड किया जा सकता है।


प्लेटफॉर्म ने 2019 में अज्ञात निवेशकों से एक एंजेल फंडिग राउंड में 300,000 डॉलर जुटाए थे। कंपनी फिलहाल एक दूसरे फंडिंग राउंड से 10 लाख डॉलर जुटाने की तैयारी कर रही है। टीम का दावा है कि उसके रेवेन्यू में हर महीने की 75 प्रतिशत की बढ़ोतरी हो रही है।


फंड जुटाने के अलावा, कंपनी उत्तरी अमेरिका, सिंगापुर, मध्य पूर्व, और भारत में प्लेटफॉर्म पर अधिक ग्राहकों को जोड़ने पर भी विचार कर रही है।


भविष्य की योजनाओं पर टिप्पणी करते हुए चेतन कहते हैं,

“हमारा मिशन एआई से आने वाले बदलावों के लिए कंपनियों के डेटा को तैयार करना है और फिर प्लेटफॉर्म पर ऑटो ML लाना है। साथ ही कंपनियों को अपने एआई गणना के लिए आवश्यक सही मॉडल चुनने में सक्षम बनाना है। इसके अलावा हम नॉर्थईस्टर्न यूनिवर्सिटी, बोस्टन के साथ अपने रिश्तों को मजबूदी देकर उनकी एआई और एनालिटिक्स रिसर्च पहलों का अभिन्न अंग बनने और प्लेटफॉर्म पर अकादमिक नजरिया लाने की भी तैयारी कर रहे हैं। अपने एआई और एनालिटिक्स रिसर्च इनिशिएटिव का एक अभिन्न अंग होने के लिए हमारे एजेंडा को और मजबूत करके एकैडेमिया एंगल को देख रहे हैं।"