बिल गेट्स ने शेयर किया अपना 48 साल पुराना रेज्यूमे, बोले- आज के CV काफी बेहतर

By yourstory हिन्दी
July 01, 2022, Updated on : Fri Aug 26 2022 09:38:16 GMT+0000
बिल गेट्स ने शेयर किया अपना 48 साल पुराना रेज्यूमे, बोले- आज के CV काफी बेहतर
गेट्स द्वारा साझा किए गए 1974 के रेज्यूमे में उनका नाम विलियम एच गेट्स है और इसे उस समय बनाया गया था, जब वे हार्वर्ड कॉलेज में अपने फर्स्ट ईयर में पढ़ रहे थे.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

लाखों युवाओं के लिए उनके सपनों के करियर की दिशा में पहला कदम रेज्यूमे होता है. रेज्यूमे ऐसा होना चाहिए जो आपकी योग्यता, अनुभव और कौशल से मेल खाता हो. आज के जॉब मार्केट में रेज्यूमे, हायरिंग के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक है. Microsoft के को-फाउंडर और दुनिया के चौथे सबसे अमीर शख्स बिल गेट्स (Bill Gates) ने हाल ही में 48 साल पहले का अपना रेज्यूमे शेयर किया है. उन्होंने अपने थोड़े ह्यूमर भरे अंदाज में यह भी कहा कि उन्हें यकीन है कि आज का रेज्यूमे उनके रेज्यूमे के मुकाबले काफी बेहतर है.


गेट्स द्वारा साझा किए गए 1974 के रेज्यूमे में उनका नाम विलियम एच गेट्स है और इसे उस समय बनाया गया था, जब वे हार्वर्ड कॉलेज में अपने फर्स्ट ईयर में पढ़ रहे थे. बिल गेट्स ने अपने रेज्यूमे में कहा है कि उन्होंने ऑपरेटिंग सिस्टम स्ट्रक्चर, डेटाबेस मैनेजमेंट, कंपाइलर कंस्ट्रक्शन और कंप्यूटर ग्राफिक्स जैसे कोर्स किए हैं. गेट्स ने कहा कि उन्हें FORTRAN, COBOL, ALGOL, BASIC, आदि जैसी सभी प्रमुख प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेस में अनुभव है. उन्होंने 1973 में टीआरडब्ल्यू सिस्टम्स ग्रुप के साथ सिस्टम प्रोग्रामर के रूप में अपने अनुभव का उल्लेख किया. गेट्स ने 1972 में लेकसाइड स्कूल, सिएटल में कॉन्ट्रैक्ट पर को-लीडर और को-पार्टनर के तौर पर अपने कार्यकाल को भी साझा किया.

bill-gates-shares-his-rsume-from-1974-know-how-it-is

यूजर्स की प्रतिक्रिया

बिल गेट्स ने अपना एक पेज का रेज्यूमे लिंक्डइन पर शेयर किया है. इस पर यूजर्स की अलग-अलग तरह की प्रतिक्रिया आई. किसी ने उनके रेज्यूमे को अच्छा बताया, किसी ने कूल बताया. वहीं कुछ यूजर्स ने इसे आदर्श रेज्यूमे की कैटेगरी में नहीं रखा. फॉर्च्यून की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि बिल गेट्स के रेज्यूमे में 3 चीजें ऐसी थीं, जो एक्सपर्ट के अनुसान नहीं होना चाहिए. पर्सनल डिटेल्स को लेकर बेहद गहराई में जाना, वर्ब की वेरायटी की कमी और कुछ बेकार के डिस्ट्रैक्शन.


Edited by Ritika Singh