कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर हुई 30, गाजियाबाद के व्यक्ति में संक्रमण की पुष्टि

By भाषा पीटीआई
March 06, 2020, Updated on : Fri Mar 06 2020 05:55:30 GMT+0000
कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर हुई 30, गाजियाबाद के व्यक्ति में संक्रमण की पुष्टि
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

नई दिल्ली, ईरान की यात्रा करने वाले गाजियाबाद के एक व्यक्ति के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के साथ देश में संक्रमण के मामलों की संख्या 30 हो गयी है। बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने बृहस्पतिवार को राज्यों से जिला, प्रखंड और ग्राम स्तरों पर त्वरित कार्रवाई टीम बनाने को कहा है ।


क

सांकेतिक खबर (फोटो क्रेडिट: instantkhabar)



तेलंगाना को जरूर कुछ राहत मिली है क्योंकि राज्य के जिन दो लोगों के खून के नमूने पुणे स्थित राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) भेजे गए थे उनकी जांच रिपोर्ट नकारात्मक आई है।


बुधवार तक 16 इतालवी पर्यटकों सहित 29 लोगों के कोराना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। इस सूची में पिछले महीने केरल में सामने आए तीन मामले भी शामिल हैं। स्वास्थ्य में सुधार के बाद इन तीनों लोगों को छुट्टी दे दी गयी।


दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि गुड़गांव में काम करने वाले पेटीएम कर्मचारी से संपर्क में आए और पश्चिमी दिल्ली में रहने वाले पांच लोगों की जांच की गयी है और परिणाम आने तक उन्हें पृथक रखा गया है। दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य अधिकारी नोएडा के अधिकारियों से भी तालमेल कर पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि कितने लोगों के साथ वह संपर्क में आए थे।


दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में सभी प्राथमिकी विद्यालयों को 31 मार्च तक बंद रखने का आदेश दिया है।


वायरस का असर भारत-यूरोपीय संघ शिखर सम्मेलन पर भी पड़ा है ।


विदेश मंत्रालय ने कहा है कि इसी महीने होने वाले भारत-यूरोपीय संघ (ईयू) शिखर सम्मेलन के कार्यक्रम को कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण पुनर्निर्धारित किया जाएगा।


उन्होंने यह भी कहा कि ईरान में किसी भारतीय नागरिक के कोरोना वायरस से संक्रमित होने का मामला सामने नहीं आया है। उन्होंने कहा कि दुनिया भर में भारतीय दूतावास भारतीयों की मदद करने के लिए तैयार हैं।


विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि भारतीय चिकित्सा दल ईरान गया है और अधिकारी कोरोना वायरस के प्रकोप के मद्देनजर वहां फंसे भारतीयों की वापसी के लिए ईरान के अपने समकक्षों के साथ साजोसामान पर काम कर रहे हैं।


विदेश मंत्री ने कहा कि भारतीय चिकित्सा दल के कोरोना वायरस के लिए जांच करने के वास्ते जल्द ही कोम में पहला क्लीनिक स्थापित करने की संभावना है।





स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने आशंकाओं को दूर करते हुए कहा कि सरकार वायरस के प्रसार को रोकने के लिए हर मुमकिन कदम उठा रही है। स्वास्थ्य मंत्री ने राज्यसभा और लोकसभा में बताया कि चार मार्च तक देश में कोरोना वायरस के 29 मामले सामने आ चुके हैं।


आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि गाजियाबाद से एक मामला सामने आया है और प्रभावित हुआ अधेड़ उम्र का व्यक्ति पूर्व में ईरान गया था।


स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि भारत ने इटली और दक्षिण कोरिया से आने वालों या वहां की यात्रा कर चुके लोगों के लिए अतिरिक्त वीजा पाबंदियां लगाई हैं और उनके लिए कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं होने का प्रमाणपत्र सौंपना अनिवार्य कर दिया गया है।


उन्हें अपने-अपने देशों के स्वास्थ्य प्राधिकारों द्वारा अधिकृत प्रयोगशालाओं से यह प्रमाणपत्र लेना होगा।


मंत्रालय ने एक यात्रा परामर्श में कहा है कि यह 10 मार्च की रात 12 बजे से प्रभावी होगा और कोरोना वायरस के मामलों में कमी आने तक यह एक अस्थायी उपाय है।


सरकार ने अब तक भारत में प्रवेश नहीं करने वाले इटली, इरान, दक्षिण कोरिया, जापान के नागरिकों को तीन मार्च या इससे पहले दिये गए वीजा/ई-वीजा को निलंबित कर दिया है।


परामर्श के मुताबिक सरकार ने अब तक भारत में प्रवेश नहीं करने वाले तथा तीन मार्च या इससे पहले जापानियों और दक्षिण कोरिया के नागरिकों को जारी ‘आगमन वीजा’ भी निलंबित कर दिया है।


चीन में कोरोना वायरस का असर भारतीय दवा उद्योग पर पड़ने की खबरों के बीच केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री सदानंद गौडा ने कहा कि कम से कम तीन महीने तक दवाओं की कच्ची सामग्री की कमी नहीं होगी।


बहरहाल, 14 इतालवी लोगों को आईटीबीपी के पृथक केंद्र से गुड़गांव के मेदांता अस्पताल भेज दिया गया। अस्पताल ने एक बयान जारी कर कहा कि ये मरीज अस्पताल की एक अलग मंजिल के वार्ड में भर्ती हैं और इस वार्ड का बाकी के अस्पताल से कोई संपर्क नहीं है।





इन मरीजों का इलाज कर रही मेडिकल टीम ने सुरक्षा के सभी उपाय कर रखे हैं। अस्पताल की इस मंजिल पर इस्तेमाल किए जा रहे सभी सामान को अलग रखा गया है।


बयान में बताया गया है कि अस्पताल के बाकी कामकाज सामान्य तरीके से चल रहे हैं और मरीजों, यहां आने वाले लोगों या कर्मचारियों को कोई खतरा नहीं है।


इटली के 21 पर्यटकों और उनके तीन भारतीय टूर ऑपरेटरों को कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद बुधवार को आईटीबीपी के पृथक केंद्र से यहां लाया गया था।


उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बताया कोरोना वायरस से संक्रमण के संदेह में अभी तक राज्य में 175 लोगों के नमूने लिए गए थे। इनमें से 157 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आयी है।


सिंह ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जिन 157 लोगों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है उनमें कोई संक्रमण नहीं है। बचे हुए 18 मामलों में से छह आगरा के और एक गाजियाबाद का है।


मध्य प्रदेश के सिवनी में जिला प्रशासन को तीन परिवारों के विदेश यात्रा से लौटने की सूचना प्राप्त होने पर स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने सभी को फिलहाल उनके घरों में ही अलग-थलग में रखा है। एहतियात के तौर पर उनकी जांच भी की जा रही है। हालांकि प्रारंभिक जांच में किसी में भी कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं।


कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के मकसद से सावधानी बरतते हुए सिक्किम सरकार ने विदेशी नागरिकों को इनर लाइन परमिट जारी करने पर रोक लगा दी है।