कोरोना लॉकडाउन : बेजुबान परिंदों के लिए यूं मसीहा बनी जयपुर पुलिस, जगह-जगह जाकर डाल रही दाना

By yourstory हिन्दी
March 26, 2020, Updated on : Thu Mar 26 2020 13:31:31 GMT+0000
कोरोना लॉकडाउन : बेजुबान परिंदों के लिए यूं मसीहा बनी जयपुर पुलिस, जगह-जगह जाकर डाल रही दाना
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कोरोना महामारी (COVID-19) के चलते पूरा देश 21 दिन के लिए अपने घरों में 'बंद' है। ऐसे में सबसे अधिक परेशानी दिहाड़ी मजदूर वर्ग के लोगों को उठानी पड़ रही है। वे लोग जो रोज उतना ही खा पाते हैं जितना वे दिन में कमाते हैं।


h

फोटो क्रेडिट: twitter



ऐसे लोगों की मदद के लिए सरकारों के अलावा कई संस्थाएं और निजी लोग आगे आए हैं। ये लोग लॉकडाउन के कारण सबसे अधिक प्रभावित लोगों को जरूरी सामान पहुंचा रहे हैं। 





कई राज्यों की सरकारों ने तो रिक्शा चालकों और दैनिक मजदूरी करने वाले लोगों को रोज मुफ्त खाना खिलाना शुरू कर दिया है। ऐसे ही लोगों के लिए फूड डिलिवरी कंपनी जोमैटो ने भी एक पहल की शुरुआत की। इसमें सभी लोगों से लॉकडाउन से प्रभावित लोगों की मदद के लिए योगदान देने की अपील की गई। 

हालांकि इंसान तो अपना दुख बोलकर बयां कर देते हैं। उनका क्या जो बोल भी नहीं सकते? लॉकडाउन के कारण कई जानवरों और पक्षियों का खाना भी छिन गया। पहले लोग आमतौर पर बाहर आकर पक्षियों के लिए चुग्गा डाल जाते थे लेकिन लॉकडाउन के कारण अब वे ऐसा नहीं कर पा रहे हैं जिसके कारण पक्षियों का खाना भी छिन गया।


ऐसे ही बेजुबां परिंदों की मदद के लिए जयपुर पुलिस ने अच्छी पहल की है जिसकी हर कोई तारीफ कर रहा है। राजस्थान की राजधानी जयपुर में पुलिस पक्षियों के चुग्गे वाली जगहों पर जाकर उन्हें दाना खिला रही है। इसका फोटो खुद जयपुर पुलिस ने ट्वीट किया। जयपुर पुलिस ने लिखा,

'जो बोल नहीं सकते उनके भोजन का भी हम रख रहे ध्यान! जयपुर पुलिस- सदैव सभी के सुरक्षार्थ।'

फोटो में कुछ पुलिस और ट्रैफिक पुलिस अधिकारी एक जगह पर बैठे सैकड़ों कबूतरों को दाना डालते दिख रहे हैं। फोटो सामने आने के बाद लोगों ने जयपुर पुलिस की जमकर तारीफ की है। कुछ ने कहा कि जयपुर पुलिस अच्छा काम कर रही है तो कुछ ने कहा कि बेजुबान परिदों के खाने का ध्यान रखने के लिए जयपुर पुलिस का आभार। इसके अलावा भी जयपुर पुलिस आम दुकानदारों को सोशल डिस्टैंसिंग का महत्व समझाते हुए उनकी दुकानों के बाहर सफेद रंग के स्टैंड पॉइंट बना रही है। पुलिस की इस पहल का आम दुकानदार भी सपॉर्ट कर रहे हैं।

जब से लोग अपने घरों में कैद हुए हैं, जानवर आजाद महसूस कर रहे हैं। इसी का एक नजारा 'जनता कर्फ्यू' के दिन दिल्ली के दिल कनॉट प्लेस से सामने आया। यहां पर सैकड़ों की संख्या में कबूतर बैठे दिखाई दिए जो कि अपने आप में एक अनोखी बात है। कनॉट प्लेस में हमेशा लोगों की भीड़ दिखती है, ऐसे में कबूतरों का पूरा ग्रुप देखकर लोगों को काफी सूकून मिला।