कॉलेज की पढ़ाई बीच में छोड़ शुरू किया बिजनेस, आज 15 करोड़ रुपये रेवेन्यु वाली कंपनी के हैं मालिक

By Ritika Singh
December 06, 2022, Updated on : Fri Dec 23 2022 05:47:45 GMT+0000
कॉलेज की पढ़ाई बीच में छोड़ शुरू किया बिजनेस, आज 15 करोड़ रुपये रेवेन्यु वाली कंपनी के हैं मालिक
रिकोड स्टूडियोज एक डायरेक्ट टू कंज्यूमर (D2C) और प्रीमियम क्वालिटी कॉस्मेटिक ब्रांड है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

भारत में ब्यूटी, कॉस्मेटिक्स और पर्सनल केयर का बाजार तेजी से ग्रो कर रहा है. इस वक्त भारत का ब्यूटी व पर्सनल केयर मार्केट 15 अरब डॉलर का है और दुनिया का 8वां सबसे बड़ा बाजार है. इस मार्केट में अवसरों को भांपकर ब्यूटी, कॉस्मेटिक्स, स्किनकेयर और पर्सनल केयर के क्षेत्र में कई कंपनियां हाथ आजमा रही हैं. कॉस्मेटिक्स इंडस्ट्री में दस्तक देने वाली ऐसी ही एक नई कंपनी है लुधियाना की रिकोड स्टूडियोज (Recode Studios).


रिकोड स्टूडियोज एक डायरेक्ट टू कंज्यूमर (D2C) और प्रीमियम क्वालिटी कॉस्मेटिक ब्रांड है. इसे साल 2018 में धीरज बंसल और राहुल सचदेव ने मिलकर शुरू किया था. वर्तमान में कंपनी का रेवेन्यु 15 करोड़ रुपये से ज्यादा है. कंपनी का लक्ष्य वित्त वर्ष 2022-23 के आखिर तक 30 करोड़ रुपये का बिक्री आंकड़ा छूने का है. धीरज बंसल रिकोड स्टूडियोज के को-फाउंडर होने के साथ-साथ इसके डायरेक्टर हैं.

बीच में छोड़ी B.Com की पढ़ाई

धीरज बंसल ने YourStory Hindi के साथ बातचीत में बताया कि उन्होंने 20 साल की उम्र में अपनी B.Com की पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी. उनका मकसद खुद का कुछ शुरू करने का था. लिहाजा ग्रेजुएशन बीच में छोड़ वह अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने की राह पर चल पड़े. कॉलेज छोड़ने के बाद धीरज ने साल 1998 में लुधियाना में साइकिल के लिए स्पेयर पार्ट्स की मैन्युफैक्चरिंग शुरू की. आगे चलकर उनकी मुलाकात कॉस्मेटिक ब्रांड मार्केटिंग प्रोफेशनल राहुल सचदेव से हुई. राहुल ने मेकअप प्रोफेशनल्स के साथ काम करते हुए इस क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल की हुई थी. उन्होंने जब धीरज के सामने कॉस्मेटिक्स और ब्यूटी प्रॉडक्ट्स के फील्ड में कदम रखने का प्रस्ताव रखा तो धीरज को यह पसंद आया और वह साइकिल से कॉस्मेटिक उद्योग में चले गए.


मार्केट रिसर्च के बाद साल 2018 में दोनों ने Recode Studios को शुरू किया. रिकोड ने मेकअप और लाइफस्टाइल प्लेटफॉर्म के तौर पर केवल 5-6 SKU (स्टॉक कीपिंग यूनिट) के साथ शुरुआत की थी. इन 5-6 SKU में नेल पेंट, आइलाइनर, काजल, लिक्विड लिपस्टिक और बुलेट लिपस्टिक शामिल थे. रिकोड को 1 करोड़ रुपये के निवेश के साथ शुरू किया गया था. ये पैसे धीरज और राहुल की बचत के थे.

फिर कोविड ने दी दस्तक

फिर साल 2020 में कोविड आ गया और इससे रिकोड भी अछूती नहीं रही. लोगों के बीच अपने प्रॉडक्ट की पहचान विकसित करने के लिए कंपनी ने अपने प्रॉडक्ट्स को अपनी वेबसाइट पर केवल 1 रुपये में खरीद के लिए रखा. इससे रिकोड को अपने प्रॉडक्ट्स की क्वालिटी को लेकर ग्राहकों का फीडबैक प्राप्त करने में मदद मिली. इसके बाद रिकोड को पहचान मिलना शुरू हो गई.


आज रिकोड की वेबसाइट पर इसके उत्पादों के साथ-साथ अन्य ब्रांड्स के प्रॉडक्ट भी बिक्री के लिए मौजूद हैं. सरल शब्दों में रिकोड, सभी कॉस्मेटिक्स और हाइजीन जरूरतों के लिए वन-स्टॉप शॉप है. इसकी वेबसाइट पर Wow Skinscience, Colorbar, Shopparel, Power Gummies, Riyo Herbs, Ofra समेत 55 से ज्यादा ब्रांड्स के स्किनकेयर व ब्यूटी प्रॉडक्ट्स मौजूद हैं. रिकोड का दावा है कि वह मेकअप, स्किनकेयर, हेयर केयर, बाथ एंड बॉडी, ग्रूमिंग अप्लायंसेज, पर्सनल केयर, वेलनेस में नामचीन ब्रांड्स के केवल ऑथेंटिक प्रॉडक्ट्स की बिक्री करती है.

हर साल बढ़ रहा रेवेन्यु

साल 2018 में रिकोड स्टूडियोज की बिक्री 25 लाख रुपये की रही थी. इसके बाद वित्त वर्ष 2019-20 में बिक्री 2 करोड़, 2020-21 में 5 करोड़ और वित्त वर्ष 2021-22 में 15 करोड़ रुपये की रही. कंपनी को उम्मीद है कि 2020—2023 के दौरान कंपनी की बिक्री का आंकड़ा 30 करोड़ रुपये के करीब रहेगा. प्रॉडक्ट्स की खरीद shop.recodestudios.com से की जा सकती है. रिकोड का मकसद मल्टीपल ब्यूटी व लाइफस्टाइल ब्रांड्स बेचने वाले देश के सबसे बड़े प्लेटफॉर्म्स में शामिल होना है.

खुद नहीं करती मैन्युफैक्चरिंग

रिकोड स्टूडियोज खुद से प्रॉडक्ट्स की मैन्युफैक्चरिंग नहीं करती. धीरज बंसल ने बताया कि कंपनी ने थाइलैंड, जर्मनी व ताइवान समेत कई अन्य देशों में दिग्गज कॉस्मेटिक्स मैन्युफैक्चरर्स के साथ टाई अप किया हुआ है. रिकोड मैन्युफैक्चर्ड प्रॉडक्ट्स को आयात कर उनकी इन-हाउस गुणवत्ता की जांच करती है और निजी लेबलिंग करती है. रिकोड स्टूडियोज की लेबलिंग वाले प्रॉडक्ट्स में लिप क्रीम, लिप क्रेयॉन, शॉवर जेल, फेस एंड बॉडी केयर प्रॉडक्ट्स, काजल, आई लाइनर, ऑयल पेंट्स, हेयर केयर रेंज, स्किन केयर रेंज आदि शामिल हैं.

55 लोगों की है टीम

धीरज के अनुसार, कंपनी का लगभग आधा राजस्व इसके खुद के SKU से आता है, जबकि शेष अन्य ब्रांड्स से आता है. यह ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए नए उत्पादों पर 30%-50% की छूट भी प्रदान करती है, हालांकि, यह अवसर और उत्पादों के अधीन है. रिकोड स्टूडियोज में इस वक्त 55 लोगों की टीम है. कंपनी की पहुंच चेन्नई, जम्मू, सिलीगुड़ी और भोपाल सहित देश के 170 शहरों में है. रिकोड स्टूडियोज को ऐप और वेबसाइट के माध्यम से एक्सेस किया जा सकता है. इसके 1 लाख मंथली एक्टिव यूजर हैं.


धीरज ने यह भी बताया कि रिकोड ने ऑफलाइन स्टोर्स के साथ भी टाई-अप किया हुआ है. कंपनी के दिल्ली, फरीदाबाद और रायपुर में फ्रैंचाइजी बेसिस पर 3 एक्सक्लूसिव आउटलेट्स हैं. कंपनी की Amazon पर भी मौजूदगी है. कंपनी की आय का 40 प्रतिशत हिस्सा ऑनलाइन बिक्री से और बाकी का ऑफलाइन स्टोर्स से आता है.

आगे क्या प्लान

Recode Studios की योजना जल्द ही 50-60 SKUs लॉन्च करने की है. कंपनी अगले साल उत्तरी और दक्षिणी शहरों में अधिक विस्तार के साथ-साथ और एक्सक्लूसिव स्टोर खोलने की भी योजना बना रही है. रिकोड के 100 करोड़ रुपये टर्नओवर वाली कंपनी बनने के बाद यह अंतरराष्ट्रीय विस्तार की योजना बनाएगी. कैटेगरी एक्सपेंशन को लेकर रिकोड स्टूडियोज इस वर्ष के आखिर तक फाउंडेशंस, कंसीलर्स, आइशैडो पैलेट और हाइलाइटर पैलेट लॉन्च करने के लिए तैयार है. रिकोड स्टूडियोज की ब्रांड एंबेस्डर स्वरा भास्कर हैं. रिकोड स्टूडियोज मीनाक्षी दत्त सहित प्रसिद्ध मेकअप आर्टिस्ट्स के साथ मास्टरक्लास भी आयोजित करती है.