SpiceJet पर DGCA हुआ सख्त, दिए जांच के कड़े निर्देश

SpiceJet पर DGCA हुआ सख्त, दिए जांच के कड़े निर्देश

Tuesday October 18, 2022,

3 min Read

SpiceJet के विमान की हैदराबाद एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग मामले में Director General of Civil Aviation (DGCA) का बयान सामने आया है. DGCA ने कहा है कि विमान के उतरने के दौरान 'केबिन में धुआं भरने' की घटना हुई थी. केबिन क्रू और एयरपोर्ट स्टाफ की मदद से यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाला गया. DGCA ने इस मामले में सख्त कदम उठाया है. DGCA ने स्पाइसजेट को निर्देश दिए हैं कि वो अपने ऑयल के सैंपल को हर 15 दिन में प्रैट एंड व्हिटनी को जांच के लिए भेजें.

मेटल और कार्बन सील कणों की मौजूदगी की जांच के आदेश 

DGCA ने स्पाइस जेट के एक विमान की केबिन में उड़ान के दौरान धुआं भरने की घटना को गंभीरता से लिया है. नियामक ने सख्त कदम उठाते हुए एयरलाइन को निर्देश दिया है कि वह मेटल और कार्बन सील कणों की मौजूदगी की जांच के लिए अपने Q400 श्रेणी के सभी विमानों के इंजन के तेल का विश्लेषण कराए.

s


12 अक्टूबर को गोवा से उड़ान भरने वाले स्पाइस जेट के एक विमान की केबिन में धुआं भर गया था, जिसके चलते हैदराबाद में उसे आपात लैंडिंग करनी पड़ी थी. इस घटना की नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) जांच कर रहा है.

SpiceJet पर लगे प्रतिबंधों को बढ़ाया गया

DGCA ने SpiceJet से एक हफ्ते के भीतर अपने क्यू 400 बेड़े के सभी इंजनों का बोरोस्कोपिक टेस्ट (Boroscopic test) करने को कहा है.  साथ ही Magnetic Chip Detector (MCD) का निरीक्षण करने और हर 15 दिन में इंजन के तेल के नमूने को विश्लेषण के लिए कनाड़ा स्थित Pratt & Whitney  (P&W) कंपनी को भेजने का भी निर्देश दिया है. अभी 30 दिन पर यह निरीक्षण होता है. इसके अलावा एयरलाइन से इन विमानों के अन्य कई निरीक्षण कराने को भी कहा गया है.

यात्री ने बताई पूरी सच्चाई 

हैदराबाद के एक आईटी प्रोफेशनल श्रीकांत मुलुपाला ने जानकारी साझा करते हुए कहा, "उन्होंने (केबिन क्रू) हमें भगवान से अपने परिवारों के लिए प्रार्थना करने के लिए कहा. यह दर्दनाक था. मेरे कई सह-यात्री घबरा गए और चिल्लाने लगे." श्रीकांत मुलुपाला ने अपने एक त्व्ट्वीट में विमान के अंदर ली गई तस्वीरें भी साझा की हैं. वह दोस्तों के साथ अपनी पहली हवाई यात्रा पर थे.

s

एक यात्री हुआ घायल

एअरपोर्ट के सूत्रों ने बताया कि एक यात्री घायल हो गया और उसे राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय एअरपोर्ट पर चिकित्सा केंद्र ले जाया गया. एक सूत्र ने कहा, "उन्हें मामूली चोट लगी थी और सांस फूलने की शिकायत थी. बाद में उन्हें कुछ समय के लिए जुबली हिल्स के एक निजी अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया, जिसके बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई."