[फंडिंग अलर्ट] एडटेक स्टार्टअप Embibe ने रिलायंस इंडस्ट्रीज से जुटाया 90 करोड़ रुपये का निवेश

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

बेंगलुरु स्थित एडटेक स्टार्टअप एम्बिबी ने मौजूदा निवेशक और शेयरधारक रिलायंस इंडस्ट्रीज से नई फंडिंग जुटाई है। पिछले कुछ वर्षों में लर्निंग के कई मंच हैं, इन सब के बीच Embibe का ध्यान गहरी प्रौद्योगिकी और उत्पाद इनोवेशन पर रहा है।

अदिति अवस्थी, संस्थापक और सीईओ, Embibe

अदिति अवस्थी, संस्थापक और सीईओ, Embibe



बेंगलुरु स्थित एडटेक स्टार्टअप एम्बिबी ने मौजूदा निवेशक और शेयरधारक रिलायंस इंडस्ट्रीज से 89.91 करोड़ रुपये की फंडिंग जुटाई है।


कंपनी के आरओसी फाइलिंग के अनुसार 1 हज़ार रुपये प्रति शेयर के प्रीमियम पर कुल 8 लाख 99 हज़ार 198 कम्यूलेटिव कंपल्सरिली कन्वर्टिबल प्रेफेरेंस (CCCP) शेयर शेयर धारकों को जारी किए गए थे।


इससे पहले, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने तीन साल की अवधि में स्टार्टअप में 180 मिलियन डॉलर के बराबर रुपये का निवेश किया था। इसका एक हिस्सा Embibe के मौजूदा निवेशकों से 72.69 प्रतिशत की हिस्सेदारी हासिल करने के लिए था।


इससे पहले एम्बाइब डील पर बात करते हुए रिलायंस जियो के निदेशक आकाश अंबानी ने कहा,

"Embibe में निवेश भारत और दुनिया में शिक्षा क्षेत्र को बढ़ाने के लिए रिलायंस की प्रतिबद्धता को रेखांकित करता है, इसी के साथ यह प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करके छात्रों के व्यापक संभव समूह तक शिक्षा को सुलभ बनाता है। रिलायंस का लक्ष्य पूरे भारत में 1.9 मिलियन स्कूलों और 58,000 विश्वविद्यालयों को प्रौद्योगिकी से जोड़ना है।"

यह शिक्षा मंच छात्रों के लिए व्यक्तिगत रूप सीखने के लिए डेटा विश्लेषण का इस्तेमाल करता है। यह गति, सटीकता, समय प्रबंधन, प्रयास योजना, सहनशक्ति जैसे महत्वपूर्ण परीक्षा प्रदर्शन मैट्रिक्स पर केंद्रित छात्र की कमजोरियों को पकड़ने के लिए विश्लेषिकी और प्रौद्योगिकी का उपयोग करता है। इसी के साथ यह आत्मविश्वास जैसे मनोवैज्ञानिक कारकों पर भी काम करता है।


जबकि पिछले कुछ वर्षों में लर्निंग के कई मंच हैं, एम्बिबी का ध्यान गहरी प्रौद्योगिकी और उत्पाद इनोवेशन पर रहा है।

दिसंबर 2019 में, Embibe ने मालिकाना नाम Indiavidual Learning Private Limited के तहत घोषणा की कि उसने बेंगलुरु स्थित K12 स्टार्टअप फनटूट में इक्विटी शेयर उठाए हैं। सौदा 71.64 करोड़ रुपये की नकदी में हुआ था, जो कि फंटूट की इक्विटी शेयर पूंजी में 90.5 प्रतिशत है।


Embibe के प्रस्ताव में फ़नटूट के इक्विटी शेयरों का 10 रुपये तक का अधिग्रहण किया गया, बशर्ते स्टार्टअप ने अपनी सहमति वाले मील के पत्थर हासिल किए। अनुवर्ती अधिग्रहण दिसंबर 2021 तक पूरा होने की उम्मीद है, और इसके बाद Embibe की शेयरधारिता इक्विटी शेयर पूंजी के 100 प्रतिशत तक बढ़ जाएगी।




  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Our Partner Events

Hustle across India