PhysicsWallah ने डाउट सॉल्विंग स्टार्टअप FreeCo का अधिग्रहण किया, उसकी टीम को भी हायर किया

By yourstory हिन्दी
August 19, 2022, Updated on : Mon Aug 29 2022 06:49:13 GMT+0000
PhysicsWallah ने डाउट सॉल्विंग स्टार्टअप FreeCo का अधिग्रहण किया, उसकी टीम को भी हायर किया
जून 2022 में फिजिक्सवाला 10 करोड़ डॉलर (करीब 777 करोड़ रुपये) की फंडिंग जुटाकर देश की 101वीं यूनिकॉर्न बन गई थी. फिजिक्सवाला ने राउंड-ए फंडिंग के दौर में वेस्टब्रिज और जीएसवी वेंचर्स से 1.1 अरब डॉलर के वैल्यूएशन पर यह निवेश जुटाया है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

एडटेक यूनिकॉर्न 'फिजिक्सवाला' Physics Wallah ने एडटेक स्टार्टअप 'फ्रीको' FreeCo का अधिग्रहण करने के साथ ही उसकी मौजूदा टीम को हायर कर लिया है. फ्रीको, फिजिक्सवाला की मौजूदा सेवाओं को आगे बढ़ाने के साथ फिजिक्सवाला प्लेटफॉर्म में जोड़ी गई एडवांस्ड सुविधाओं के साथ स्टूडेंट्स को सीखने का बेहतर अनुभव मुहैया कराएगी.


फिजिक्सवाला और फ्रीको की टीमें कुशल संसाधनों और डाउट फैकल्टी मैनेजमेंट के लिए कंटेंट लाइब्रेरी पर एक साथ काम करेंगी. फिजिक्सवाला अपनी मौजूदा डाउट सॉल्विंग ऑफरिंग को नई तरह से पेश करने के लिए फ्रीको की टीम के अनुभव का इस्तेमाल करना चाहती है.


इस सौदे का उद्देश्य स्टूडेंट्स की परेशानियों को कम करते हुए उनके लिए एजुकेशन को एक्सेसिबल बनाना और प्रतियोगी परीक्षाओं को क्रैक करने में उनकी मदद करना है.


बता दें कि, एडटेक मार्केट में फ्रीको एक डाउट सॉल्विंग और रिसोर्स मैनेजमेंट कंपनी है. फ्रीको का उद्देश्य स्टूडेंट की हेल्प करने के सिए ऑटोमेशन का इस्तेमाल करके उनके लर्निंग एक्सपीरियंस को बढ़ाने के लिए टेक्स्ट सॉल्यूशंस, ऑनलाइन ट्यूटरिंग, पेन टैब वीडियो सॉल्यूशंस, इंटरेक्टिव पैनल वीडियो सॉल्यूशंस और टेक्स्टबुक सॉल्यूशंस जैसी कंटेंट सर्विसेज उपलब्ध कराना है.


इसने BYJU'S, Unacademy, Brainly, Doubtnut, Toppr, Acadecraft, Numerade, और Melvano जैसी एडटेक कंपनियों के लिए भी काम किया है.


फिजिक्सवाला के फाउंडर और सीईओ अलख पांडे ने कहा कि एडटेक स्पेस में फ्रीको की विशेषज्ञता के साथ, हम अपनी मौजूदा पेडगॉजी (पढ़ाने का तरीका) को नया करने और एस्पायरेंट्स को लर्निंग सॉल्यूशंस मुहैया कराने को लेकर कॉन्फिडेंट हैं. हमारा उद्देश्य एडवांस्ड टूल्स और टेक्नोलॉजिज का उपयोग करके स्टूडेंट्स की लर्निंग को आसान बनाना है, जिससे यह अधिक एक्सेसिबल और लर्निंग ओरिएंटेड बन जाए.


बता दें कि, जून 2022 में फिजिक्सवाला 10 करोड़ डॉलर (करीब 777 करोड़ रुपये) की फंडिंग जुटाकर देश की 101वीं यूनिकॉर्न बन गई थी. फिजिक्सवाला ने राउंड-ए फंडिंग के दौर में वेस्टब्रिज और जीएसवी वेंचर्स से 1.1 अरब डॉलर के वैल्यूएशन पर यह निवेश जुटाया है. राउंड-ए फंडिंग दौर में यह उपलब्धि हासिल करने वाली यह पहली एडटेक कंपनी है.


कंपनी का दावा है कि उसके एप्लिकेशन को अबतक 52 लाख लोगों ने डाउनलोड किया है और यूट्यूब पर उसके साथ 69 लाख लोग जुड़े हैं.


यह पहले ही कोटा और दिल्ली सहित छह स्थानों पर 'PW विद्यापीठ' लॉन्च करके ऑफलाइन स्पेस में प्रवेश कर चुका है. उसकी इस तरह के और भी केंद्र खोलने की योजना है. देशभर के 22 शहरों में इसकी हाइब्रिड क्लासेज यानि ​​पाठशालाएं भी हैं और इसमें 10 लाख से अधिक स्टूडेंट्स शामिल हैं.


पिछले महीने मुंबई स्थित एक प्रोडक्शन हाउस About Films ने फिजिक्सवाला और उसके सीईओ अलख पांडे की जर्नी को लेकर छह एपिसोड की एक वेब सीरिज बनाई थी.


Edited by Vishal Jaiswal