किसान के बेटे को मिली 2 करोड़ रुपये की नौकरी, आईआईटी गुवाहाटी से हुआ कैंपस प्लेसमेंट

किसान के बेटे को मिली 2 करोड़ रुपये की नौकरी, आईआईटी गुवाहाटी से हुआ कैंपस प्लेसमेंट

Thursday December 16, 2021,

3 min Read

मजबूत इरादों और सच्ची लगन के साथ कोई भी मंजिल पाई जा सकती हैं, फिर भले ही आप किसी भी पृष्ठभूमि से संबंध रखते हों और उत्तराखंड के एक छोटे से कस्बे से आने वाले एक लड़के ने इस बात को एक बार फिर सच साबित कर दिखाया है। IIT गुवाहाटी से एमटेक की पढ़ाई कर रहे रोहित नेगी को दिग्गज कैब कंपनी उबर से तगड़ी सैलरी वाली जॉब ऑफर हुई है।


गौरतलब है कि रोहित अभी एमटेक के दूसरे साल में हैं। मीडिया से के अनुसार उत्तराखंड के कोटद्वार से आने वाले 22 वर्षीय रोहित को उबर से 2.05 करोड़ रुपये वार्षिक वेतन पर नौकरी ऑफर हुई है।

k

रोहित के लिए यह सफर कतई आसान नहीं रहा है, हालांकि घर के मुश्किल आर्थिक हालातों के बावजूद रोहित के पिता ने उनकी पढ़ाई और अन्य जरूरतों को पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी।

किसान परिवार से आते हैं रोहित

अब जल्द ही रोहित अपनी मास्टर्स डिग्री पूरी कर उबर के साथ बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर अपना करियर शुरू करेंगे। मीडिया के अनुसार उबर इंटरनेशनल ने रोहित को 96 लाख रुपये की बेसिक सैलरी और 2.05 करोड़ रुपये सीटीसी की नौकरी ऑफर की है।


आज रोहित के इस जॉब ऑफर के बाद उनकी चर्चा हो रही है। एक किसान परिवार से ताल्लुक रखने वाले रोहित के लिए यह सफर कतई आसान नहीं रहा है, हालांकि घर के मुश्किल आर्थिक हालातों के बावजूद रोहित के पिता ने उनकी पढ़ाई और अन्य जरूरतों को पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी।

कठिन परिश्रम ने दिलाई सफलता

मीडिया से बात करते हुए रोहित ने बताया है कि वे एक निम्न-मध्यमवर्गीय परिवार से आते हैं, जहां उनके पिता एक किसान और उनकी माँ एक गृहणी हैं। रोहित के अनुसार उबर से मिले इस भारी-भरकम पैकेज के बाद अब उनके परिवार की खुशी का ठिकाना नहीं है।


अपनी स्कूली पढ़ाई करने के बाद रोहित ने उत्तराखंड के लिए एक प्राइवेट कॉलेज से अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की थी, हालांकि स्नातक में रोहित बहुत अच्छे नंबर लाने में असफल रहे थे।


रोहित के अनुसार उनके उस कॉलेज में सिर्फ विप्रो से छात्रों को नौकरी देती थी और वहाँ भी अधिकतम पैकेज 3.5 लाख रुपये ही होता था। यहाँ से सबक लेते हुए रोहित ने पढ़ाई पर और मेहनत करने का फैसला किया और GATE परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी।


GATE की परीक्षा में रोहित ने 202वीं रैंक स्कोर की और उन्हें आईआईटी गुवाहाटी में दाखिला मिल गया। मालूम हो कि हर साल करीब एक लाख से अधिक प्रतिभावान छात्र GATE की परीक्षा देते हैं, ऐसे में 202वीं रैंक स्कोर करना कतई आसान नहीं है।

एक साल तक भारत में करेंगे काम

आईआईटी गुवाहाटी में संचालित हुए कैंपस प्लेसमेंट में रोहित ने उबर टेस्ट को क्रैक करते हुए पर्सनल इंटरव्यू भी क्लियर कर यह नौकरी हासिल की है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कोटद्वार में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी को इतने बड़े पैकेज के साथ नौकरी मिली है। अपनी इस नौकरी को लेकर रोहित काफी उत्साहित हैं।


डेलीओ की रिपोर्ट के अनुसार अगले एक साल तक रोहित भारत में रहकर ही काम करेंगे, हालांकि उसके बाद वे उबर के अंतर्राष्ट्रीय ऑफिस जाकर काम कर सकते हैं।


Edited by Ranjana Tripathi