हर शेयर पर 8 Bonus Share दे रही ये कंपनी, तो क्या आपके पास स्टॉक्स हो जाएंगे 9 गुने? समझिए पूरा गणित

By Anuj Maurya
October 06, 2022, Updated on : Fri Oct 07 2022 03:44:55 GMT+0000
हर शेयर पर 8 Bonus Share दे रही ये कंपनी, तो क्या आपके पास स्टॉक्स हो जाएंगे 9 गुने? समझिए पूरा गणित
पिछले ही साल अगस्त में ग्रेटेक्स कॉरपोरेट सर्विसेस लिमिटेड का आईपीओ शेयर बाजार में लिस्ट हुआ था. अब इस स्मॉलकैप कंपनी ने अपने शेयरधारकों को हर शेयर के बदले 8 शेयर देने की घोषणा की है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

हाल ही में खबर आई थी कि फैशन से जुड़ी कंपनी Nykaa अपने शेयरधारकों को 5 बोनस शेयर (Bonus Share) देगी. अब एक स्मॉल कैप कंपनी ने हर शेयर पर 8 बोनस शेयर देने की घोषणा कर दी है. इस कंपनी का नाम है ग्रेटेक्स कॉरपोरेट सर्विसेस लिमिटेड (Gretex Corporate Services Ltd.). कंपनी ने 8:1 के अनुपात में बोनस शेयर जारी करने की घोषणा की है. अगर आपने भी इस कंपनी के शेयर लिए हुए हैं तो अब आपके पास शेयरों की संख्या 9 गुनी होने वाली है.


ग्रेटेक्स कॉरपोरेट सर्विसेज लिमिटेड ने स्टॉक एक्सचेंज को ये जानकारी दी है. साथ ही कंपनी ने कहा है कि रेकॉर्ड डेट को संशोधित करते हुए 11 अक्टूबर से बढ़ाकर 13 अक्टूबर किया जा रहा है. दिलचस्प है कि यह कंपनी एक साल पहले ही आईपीओ लाई थी. 9 अगस्त 2021 को यह शेयर बाजार में लिस्ट हुई थी. निवेशकों को नए शेयर 31 अक्टूबर को उनके खाते में क्रेडिट किए जाएंगे. कंपनी करीब 90 लाख से ज्यादा शेयर जारी करेगी.

बोनस शेयर का मतलब भी समझ लीजिए

अगर कोई कंपनी बोनस शेयर देने की घोषणा करती है तो बहुत से निवेशक सोचते हैं उन्हें अतिरिक्त शेयर मुफ्त में मिल रहे हैं. बात सही भी है, अतिरिक्त शेयर मुफ्त में मिलते ही हैं, लेकिन इसमें एक ट्विस्ट है. बोनस शेयर मिलने बाद सिर्फ शेयरों की संख्या बढ़ती है, उनकी वैल्यू नहीं. उदाहरण के लिए अगर आपके पास 500 रुपये का कोई शेयर है और कंपनी आपको प्रति शेयर एक बोनस शेयर दे, तो आपके पास दो शेयर हो जाएंगे. हालांकि, ऐसी स्थिति में आपके शेयर का भाव कम होकर 250 रुपये रह जाएगा. आपको बोनस शेयर का फायदा डिविडेंट मिलने के वक्त होगा, क्योंकि तब प्रति शेयर के हिसाब से डिविडेंड दिया जाता है.


बोनस शेयर के मामले में दो तारीखें बहुत ही अहम होती हैं, रेकॉर्ड डेट और एक्स-डेट. रेकॉर्ड डेट वह तारीख होती है, जिस पर या उससे पहले आपके पास शेयर होना जरूरी है, तभी फायदा मिलेगा. वहीं एक्स-डेट रेकॉर्ड डेट से एक दो दिन पहले की तारीख होती है, ताकि उस तारीख पर अगर आप शेयर खरीदें तो रेकॉर्ड डेट तक वह शेयर आपके डीमैट अकाउंट में आ जाएं.

कंपनियां क्यों देती हैं बोनस शेयर?

अमूमन कंपनियां बोनस शेयर इसलिए देती हैं, क्योंकि वह शेयर की लिक्विडिटी को बढ़ाना चाहती हैं. मान लीजिए कि कोई शेयर 500 रुपये का है, ऐसे में प्रति शेयर एक बोनस शेयर दिए जाएं तो एक शेयर की कीमत 250 रुपये हो जाएगी. इससे शेयर सस्ता दिखने लगेगा और कम पैसे लगाने वाले निवेशक भी इसमें पैसा लगा सकेंगे. मौजूदा वक्त में नायका का शेयर करीब 1300 रुपये का है, ऐसे में बहुत से लोगों को यह महंगा लगता होगा. बोनस शेयर जारी करने की ये एक बड़ी वजह हो सकती है कि कंपनी अपने शेयरों को सस्ता बनाना चाहती है. इतना ही नहीं, बोनस शेयर की खबर से अक्सर कंपनियों के शेयर चढ़ जाते हैं. ऐसे में बोनस शेयर को कई कंपनियां शेयरों की कीमत पंप करने की एक रणनीति की तरह भी इस्तेमाल करती हैं.

क्या हाल है ग्रेटेक्स के शेयरों का?

ग्रेटेक्स कंपनी के शेयर की कीमत इसके लिस्ट होने के बाद से 175 से 215 रुपये के बीच घूम रही थी. हालांकि, अगस्त महीने के आखिरी चंद दिनों में इस शेयर ने एक अलग ही रफ्तार पकड़ ली. देखते ही देखते कंपनी का शेयर करीब 40 दिनों में ही 601.65 रुपये के स्तर पर जा पहुंचा है. जिन शेयरों में अचानक बहुत तगड़ी स्पीड देखने को मिलती है, उनमें निवेश करते वक्त थोड़ा संभलना चाहिए और अच्छे से रिसर्च करने के बाद ही पैसे लगाने चाहिए.