रुपये में ऐतिहासिक गिरावट, पहली बार एक डॉलर के मुकाबले 79 के स्तर को पार किया

By Vishal Jaiswal
June 29, 2022, Updated on : Wed Jun 29 2022 12:36:51 GMT+0000
रुपये में ऐतिहासिक गिरावट, पहली बार एक डॉलर के मुकाबले 79 के स्तर को पार किया
अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 78.86 पर खुला और कारोबार के अंत में 18 पैसे टूटकर 79.03 (अस्थायी) प्रति डॉलर के सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ. मंगलवार को रुपया 48 पैसे गिरकर 78.85 रुपये प्रति डॉलर के अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ था.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश के इतिहास में पहली बार बुधवार को रुपया एक डॉलर के मुकाबले 79 के स्तर को पार कर गया. कच्चे तेल की ऊंची कीमतें, विदेशों में डॉलर की मजबूती और विदेशी पूंजी की निकासी के कारण रुपया बुधवार को 18 पैसे टूटकर 79.03 (अस्थायी) प्रति डॉलर के सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ.


अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 78.86 पर खुला और कारोबार के अंत में 18 पैसे टूटकर 79.03 (अस्थायी) प्रति डॉलर के सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ. मंगलवार को रुपया 48 पैसे गिरकर 78.85 रुपये प्रति डॉलर के अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ था.


बता दें कि, लगातार पिछले छह मौकों पर रुपया एक नए और ऐतिहासिक निचले स्तर पर बंद हुआ जिसमें बुधवार को उसका एक डॉलर के मुकाबले 79 के स्तर को पार करना भी शामिल है.


रुपये का लगातार गिरना बढ़ती महंगाई का संकेत है और सीधे व्यक्तियों की क्रय शक्ति को कम करता है. इसका मतलब है कि विदेश में शिक्षा महंगी हो जाएगी, विदेश में छुट्टियां मनाना भी महंगा हो जाएगा और इसके साथ भोजन, दवाएं, वाइन, कार, मोबाइल, लैपटॉप जैसी आयातित वस्तुओं पर अधिक खर्च करना पड़ेगा.


इस बीच, छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.13 प्रतिशत की तेजी के साथ 104.64 पर आ गया।


वहीं, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 0.34 प्रतिशत बढ़कर 118.38 डॉलर प्रति बैरल हो गया। शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को शुद्ध रूप से 1,244.44 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें