Hero से दोस्ती टूटने के बाद Honda ने पहली बार टू-व्हीलर्स की खुदरा बिक्री में हीरो को पछाड़ा

By रविकांत पारीक
October 05, 2022, Updated on : Wed Oct 05 2022 14:43:26 GMT+0000
Hero से दोस्ती टूटने के बाद Honda ने पहली बार टू-व्हीलर्स की खुदरा बिक्री में हीरो को पछाड़ा
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

साल 2009 में पर्दे पर आई मशहूर फिल्म थ्री इडियट्स (3 Idiots) में आर. माधवन का वो डायलॉग तो याद ही होगा - दोस्त अगर फेल हो जाए तो दुख होता है... लेकिन अगर दोस्त फर्स्ट आ जाए तो ज्यादा दुख होता है...


आज हीरो [मोटोकॉर्प लिमिटेड] की मनःस्थिति भी कुछ ऐसी ही होगी!


होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (HMSI) ने सितंबर 2022 के महीने में खुदरा बिक्री के मामले में दुनिया की सबसे बड़ी दोपहिया निर्माता हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड (Hero Motocorp) को पछाड़ दिया है. पिछले महीने, भारत सरकार के वाहन पोर्टल के अनुसार, हीरो मोटोकॉर्प ने 2.51 लाख से अधिक दोपहिया वाहन बेचे. वहीं, होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर ने 2.85 लाख से अधिक दोपहिया वाहन बेचे.


यह पहली बार है जब होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर ने खुदरा बिक्री में हीरो मोटोकॉर्प को पीछे छोड़ा है.


आंकड़ों पर गौर करें तो, सितंबर 2022 में कुल दोपहिया वाहनों की बिक्री 9% की वृद्धि के साथ सितंबर 2021 में 3,32,511 इकाइयों से बढ़कर सितंबर 2022 में 3,61,729 इकाई हो गई. घरेलू दोपहिया वाहनों की बिक्री में 16% की वृद्धि दर्ज की गई, जो सितंबर 2021 में 244,084 इकाइयों से बढ़कर 283,878 इकाई हो गई थी. मोटरसाइकिल ने सितंबर 2021 में 166,046 इकाइयों से बढ़कर सितंबर 2022 में 169,322 इकाइयों की बिक्री के साथ 2% की वृद्धि दर्ज की. स्कूटर ने सितंबर 2021 में 104,091 इकाइयों से बढ़कर सितंबर 2022 में 144,356 इकाइयों की बिक्री के साथ 39% की वृद्धि दर्ज की.


हीरो मोटोकॉर्प ने कहा कि वह 7 अक्टूबर को अपना पहला इलेक्ट्रिक वाहन, VIDA लॉन्च करने के लिए तैयार है. हीरो मोटोकॉर्प ने शनिवार को कहा कि उसने सितंबर 2022 में 5,19,980 मोटरसाइकिल और स्कूटर बिक्री के लिए भेजे हैं.


हीरो मोटोकॉर्प प्रीमियम इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल और पावरट्रेन के कैलिफोर्निया स्थित निर्माता, जीरो मोटरसाइकिल के साथ एक सहयोग समझौते को अंतिम रूप दे रहा है. सहयोग सह-विकासशील इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिलों पर केंद्रित होगा. कंपनी के बोर्ड ने जीरो मोटरसाइकिल्स में 60 मिलियन डॉलर तक के इक्विटी निवेश को भी मंजूरी दी है.


आपको बता दें कि साल 2010 में हीरो और होंडा की 26 साल पुरानी दोस्ती टूट गई थी. और साल 2011 में होंडा मोटर भारत में अपने जॉइंट वेंचर हीरो होंडा से पूरी तरह निकल गई. जापान की इस कंपनी ने हीरो होंडा में अपनी 26 प्रतिशत हिस्सेदारी मुंजाल परिवार की एक फर्म हीरो इन्वेस्टमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड को बेची थी. मुंजाल परिवार ने होंडा की सारी 26 प्रतिशत हिस्सेदारी 3,841.83 करोड़ रुपये में खरीदने की घोषणा की थी.


दोनों कंपनियों के जॉइंट वेंचर का समझौता साल 1984 में हुआ था जिसके बाद हीरो होंडा नाम से जॉइंट कंपनी बनाई गई. वर्ष 2004 में हीरो समूह और होंडा ने अपने अनुबंध को और 10 साल के लिए आगे बढ़ाया था. इसका नवीकरण 2014 में होना था.

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close