Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ADVERTISEMENT
Advertise with us

Microsoft ने वर्ड और एक्सेल को ChatGPT पर आधारित टेक्नोलॉजी से लैस किया

माइक्रोसॉफ्ट ने गुरुवार को कहा कि AI पर आधारित नई टेक्नोलॉजी Copilot, Word, PowerPoint और Excel सहित कंपनी के कुछ सबसे लोकप्रिय बिजनेस ऐप्स में उपलब्ध होंगे.

Microsoft ने वर्ड और एक्सेल को ChatGPT पर आधारित टेक्नोलॉजी से लैस किया

Friday March 17, 2023 , 3 min Read

माइक्रोसॉफ्ट Microsoft ने अपने बिजनेस सॉफ्टवेयर के 365 सूट को हाल ही में बेहद लोकप्रिय हुए चैटजीपीटी (ChatGPT) चैटिंग ऐप जैसी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) पर आधारित टेक्नोलॉजी से लैस कर दिया है.

माइक्रोसॉफ्ट ने गुरुवार को कहा कि AI पर आधारित नई टेक्नोलॉजी Copilot, Word, PowerPoint और Excel सहित कंपनी के कुछ सबसे लोकप्रिय बिजनेस ऐप्स में उपलब्ध होंगे.

Copilot तकनीक एक प्रकार के AI सॉफ़्टवेयर पर बनाई गई है, जिसे बड़े भाषा मॉडल या LLM के रूप में जाना जाता है. शोधकर्ताओं ने हाल के वर्षों में एलएलएम की क्षमताओं में सुधार किया है ताकि पाठ को समझने और प्रतिक्रिया देने में अधिक सक्षम हो सकें.

टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री, जनरेटिव आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी के आने से बेहद खुश है. इसका कारण है कि एलएलएम लिखित संकेतों के आधार पर चित्र बनाने और चैट इंटरफेस के माध्यम से लोगों के साथ लंबी बातचीत करने जैसे कार्य कर सकता है.

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला (Satya Nadela) ने एक बयान में कहा, 'हम कंप्यूटिंग के साथ कैसे बातचीत करते हैं, इसके विकास में आज अगला बड़ा कदम है, जो हमारे काम करने के तरीके को मौलिक रूप से बदल देगा और प्रोडक्टिविटी ग्रोथ की एक नई लहर को खोलेगा. Copilot के साथ हम टेक्नोलॉजी को लोगों के लिए अधिक सुविधाजनक बना रहे हैं.'

कंपनी ने एक घोषणा में कहा कि Microsoft Copilot सुविधाओं को केवल OpenAI के ChatGPT को Microsoft 365 में एम्बेड करने की तुलना में अधिक शक्तिशाली रूप में पेश कर रहा है.

कंपनी ने कहा कि वर्ड फीचर में नया Copilot लोगों को एडिट करने और दोहराने के लिए पहला ड्राफ्ट देगा जिससे राइटिंग, सोर्सिंग और एडिटिंग के टाइम में घंटों की बचत होगी.

हालांकि, Microsoft ने यह स्वीकार किया कि वर्तमान एलएलएम टेक्नोलॉजी गलत जवाब दे सकती है. माइक्रोसॉफ्ट के अधिकारियों ने गुरुवार को एक ऑनलाइन प्रेजेंटेशन के दौरान इसके कोपिलॉट टूल की कुछ क्षमताओं का प्रदर्शन किया.

हालांकि, Microsoft ने विशेष रूप से यह नहीं बताया कि नई AI Copilot सुविधाएं कब शुरू होंगी और उसकी कीमत कितनी होगी.

माइक्रोसॉफ्ट ने कहा कि आने वाले महीनों में, हम अपने सभी प्रोडक्टिविटी ऐप्स- Word, Excel, PowerPoint, Outlook, Teams, Viva, Power Platform, और अन्य के लिए Copilot ला रहे हैं.

कंपनी ने कहा कि वह अपने कस्टमर्स के एक छोटे समूह के साथ फीडबैक प्राप्त करने और मॉडल को बेहतर बनाने के लिए Copilot की टेस्टिंग कर रही है. हालांकि, उसने उन कस्टमर्स के नाम का खुलासा नहीं किया. माइक्रोसॉफ्ट के एक प्रवक्ता ने एक ईमेल में कहा कि कंपनी फॉर्च्यून 500 में आठ सहित 20 कस्टमर्स के साथ Copilot की टेस्टिंग कर रही है.

फरवरी में, माइक्रोसॉफ्ट ने अपने बिंग सर्च इंजन का एक नया संस्करण शुरू किया जिसमें ओपनएआई की जीपीटी-4 भाषा प्रौद्योगिकी द्वारा संचालित एक चैटबॉट शामिल था.


Edited by Vishal Jaiswal