लॉकडाउन के बीच मुंबई से प्रयागराज पहुंचा शख्स, लगाया ऐसा जुगाड़ कि हर कोई हैरान रह गया, आप भी पढ़िए पूरा किस्सा

By भाषा पीटीआई
April 26, 2020, Updated on : Sun Apr 26 2020 08:31:30 GMT+0000
लॉकडाउन के बीच मुंबई से प्रयागराज पहुंचा शख्स, लगाया ऐसा जुगाड़ कि हर कोई हैरान रह गया, आप भी पढ़िए पूरा किस्सा
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

प्रयागराज, लॉकडाउन में लोग अपने घर पहुंचने के लिए तरह-तरह की जुगत लगा रहे हैं। ऐसे ही एक दिलचस्प मामले में एक व्यक्ति तरबूज और प्याज का व्यापारी बनकर मुंबई से ट्रक में प्रयागराज पहुंचा। इस व्यापार में उसने 3 लाख रुपये से अधिक का दांव लगाया।


त

शहर के धूमनगंज थाना अंतर्गत कोटवा मुबारकपुर के निवासी प्रेम मूर्ति पांडेय ने पीटीआई भाषा को बताया,

“मैंने मुंबई में किसी तरह 21 दिन तो गुजार लिया, लेकिन लॉकडाउन खुलने के कोई आसार नहीं दिखने पर मैंने अपने पैतृक घर निकलने का रास्ता खोजा। वास्तव में अंधेरी ईस्ट के आजाद नगर में जहां मेरा घर है वहां बहुत घनी बस्ती है और कोरोना फैलने का खतरा भी वहां अधिक है।”

मुंबई एयरपोर्ट पर नौकरी करने वाले पांडेय ने कहा,

“मैंने देखा कि सरकार ने एक रास्ता छोड़ रखा है वह है व्यापार का रास्ता। फल, सब्जी, दूध का व्यापार कर हम धीरे धीरे आगे बढ़ सकते हैं। मैंने वही रास्ता चुना और यहां तक आ गया।”

अपनी यात्रा के बारे में पांडेय ने बताया,

“मैं 17 अप्रैल को मुंबई से चला और पिंपलगांव पहुंचा। वहां मैंने 10,000 रुपये में 1,300 किलो तरबूज खरीदा और उसे एक छोटी गाड़ी पर लोड कराके मुंबई रवाना किया। मुंबई में एक फल वाले से तरबूज का सौदा मैंने पहले ही कर रखा था।”

उन्होंने बताया,

“मैंने पिंपलगांव में 40 किलोमीटर पैदल चलकर वहां प्याज के बाजार का अध्ययन किया और एक जगह अच्छी क्वालिटी का प्याज दिखने पर मैंने 2,32,473 रुपये में 25,520 किलो (9.10 रुपये प्रति किलो) प्याज खरीदा और 77,500 रुपये के भाड़े पर एक ट्रक बुक कर इस प्याज को उस पर लोड कराया और 20 अप्रैल को प्रयागराज के लिए निकल पड़ा।”


पांडेय ने बताया कि वह 23 अप्रैल को प्रयागराज पहुंचे और ट्रक लेकर सीधे मुंडेरा मंडी गए जहां अढ़तिया ने नकद भुगतान करने से मना किया जिस पर वह प्याज लदा ट्रक लेकर अपने गांव कोटवा पहुंचे और वहां अपने घर पर पूरा माल उतरवा दिया।


उन्होंने बताया कि अभी बाजार में सागर का प्याज आ रहा है और लॉकडाउन होने से भाव कम है। लेकिन सागर का प्याज खत्म होने और लॉकडाउन खुलने पर उन्हें नासिक से लाए गए प्याज का अच्छा भाव मिलने की उम्मीद है।


उन्होंने बताया कि उन्होंने मुंबई से यहां आने की सूचना धूमनगंज थाना में पुलिस को दे दी है और मेडिकल टीम ने उनकी कोरोना की जांच कर उन्हें घर में ही पृथक—वास में रहने को कहा गया है।


धूमनगंज की टीपी नगर पुलिस चौकी के प्रभारी अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि कोटवा के प्रेम मूर्ति पांडेय शुक्रवार को धूमनगंज थाने पर आए थे और मेडिकल टीम द्वारा उनकी थर्मल स्कैनिंग की गई।


उन्होंने बताया कि हालांकि प्रशासनिक अधिकारी और मेडिकल टीम पांडेय को पृथक—वास करने को लेकर आज शाम कार्रवाई करेगी।



Edited by रविकांत पारीक