प्रधानमंत्री मोदी ने लाइव स्ट्रीम के जरिए देखा सूर्य ग्रहण, ट्वीटर पर पोस्ट की तस्वीरें

प्रधानमंत्री मोदी ने लाइव स्ट्रीम के जरिए देखा सूर्य ग्रहण, ट्वीटर पर पोस्ट की तस्वीरें

Thursday December 26, 2019,

2 min Read

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह राष्ट्रीय राजधानी में आसमान में बादल छाए रहने के कारण सूर्य ग्रहण नहीं देख सके लेकिन उन्होंने कोझिकोड से लाइव स्ट्रीम के जरिए इसकी झलक देखी।


प्रधानमंत्री ने अपनी कुछ तस्वीरें भी पोस्ट कीं जिनमें वे सूर्य को देखने की कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं।


क

फोटो क्रेडिट: latestly



मोदी ने ट्वीट किया,

‘‘कई भारतीयों की तरह मैं भी सूर्य ग्रहण देखने के लिए उत्सुक था। बादल छाये होने के कारण मैं सूर्य ग्रहण को नहीं देख सका लेकिन मैंने लाइव स्ट्रीम के जरिए कोझिकोड और अन्य हिस्सों में सूर्य ग्रहण की झलक देखीं।’’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उन्होंने विशेषज्ञों से बात कर इस विषय पर अपना ज्ञानवर्धन किया।


दिल्लीवासी कोहरे के कारण बृहस्पतिवार को सुबह बहु प्रतीक्षित सूर्य ग्रहण का नजारा नहीं देख पाए, लेकिन देश के दक्षिणी हिस्सों में लोगों को यह दुर्लभ दृश्य देखने को मिला।





आपको बता दें कि देशभर के कई हिस्सों में गुरुवार की सुबह सूर्य ग्रहण का अद्भुत नजारा देखा गया। जिसमें उडिशा, केरल, गुजरात, तमिलनाडु, कर्नाटक, महाराष्ट्र और दिल्ली सहित कई हिस्से शामिल हैं। वहीं मुंबई समेत महाराष्ट्र के कई हिस्सों में गुरुवार सुबह घने बादल छाए होने के कारण बहु-प्रतिक्षित सूर्य ग्रहण देखने में लोगों को परेशानी हो रही है। यहां सुबह 8.04 बजे से शुरू हो चुके सूर्य ग्रहण की अवधि करीब तीन घंटे की थी।


साल 2019 का आखिरी सूर्य ग्रहण गुरुवार की सुबह 08.17 से और 10 बजकर 57 मिनट पर समाप्त हो गया।296 साल बाद यह सूर्यग्रहण लगा है ऐसे में लोगों में इसे लेकर काफी उत्साह था। इससे पहले 1723 में 07 फरवरी को ऐसा सूर्य ग्रहण देखने को मिला था।


Solar Eclipse को ऑस्ट्रेलिया, फिलिपिंस, साउदी अरब और सिंगापुर जैसे जगहों में देखा गया। भारतीय मानक समय के अनुसार आंशिक सूर्यग्रहण सुबह आठ बजे आरंभ हुआ। वलयाकार सूर्यग्रहण की अवस्था सुबह 9.06 बजे शुरू हुई।


आपको बता दें कि अगला सूर्य ग्रहण भारत में 21 जून, 2020 को दिखाई देगा। यह एक वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा। वलयाकार अवस्था का संकीर्ण पथ उत्तरी भारत से होकर गुजरेगा। देश के शेष भाग में यह आंशिक सूर्य ग्रहण के रूप में दिखाई पड़ेगा।



(Edited by रविकांत पारीक )


Montage of TechSparks Mumbai Sponsors