शेयर बाजार में लगातार चौथे दिन तेजी, सेंसेक्स 630 अंक उछलकर बंद; रुपया 80 प्रति डॉलर के नीचे

By Ritika Singh
July 20, 2022, Updated on : Wed Jul 20 2022 12:45:22 GMT+0000
शेयर बाजार में लगातार चौथे दिन तेजी, सेंसेक्स 630 अंक उछलकर बंद; रुपया 80 प्रति डॉलर के नीचे
सरकार के पेट्रोल, डीजल और विमान ईंधन पर विंडफॉल टैक्स घटाए जाने से तेल खोज व उत्पादन और रिफाइनरियों से संबंधित शेयरों में अच्छी मांग रही.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

घरेलू शेयर बाजार (Stock Markets) में तेजी का सिलसिला बुधवार को लगातार चौथे कारोबारी सत्र में जारी रहा. BSE Sensex 629.91 अंक उछलकर 55,397.53 पर बंद हुआ. NSE Nifty 16,500 के ऊपर पहुंच गया. वैश्विक बाजार में सकारात्मक रुख के बीच आईटी और ऊर्जा शेयरों में लिवाली से बाजार को समर्थन मिला. सूचकांक में मजबूत हिस्सेदारी रखने वाले रिलायंस इंडस्ट्रीज, इन्फोसिस और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) के शेयरों में खरीदारी और विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) के पूंजी प्रवाह से भी धारणा मजबूत हुई.


सरकार के पेट्रोल, डीजल और विमान ईंधन पर विंडफॉल टैक्स (Windfall Tax) घटाए जाने से तेल खोज व उत्पादन और रिफाइनरियों से संबंधित शेयरों में अच्छी मांग रही. रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries Limited) का शेयर 2.47 प्रतिशत और ONGC का शेयर चार प्रतिशत चढ़ गया. सेंसेक्स के शेयरों में टेक महिंद्रा, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, रिलायंस इंडस्ट्रीज, इन्फोसिस, भारतीय स्टेट बैंक, विप्रो और हिंदुस्तान यूनिलीवर प्रमुख रूप से लाभ में रहे. टेक महिन्द्रा और एचसीएल टेक्नोलॉजीस के शेयरों में 3 प्रतिशत से ज्यादा की तेजी आई. दूसरी तरफ, नुकसान में रहने वाले शेयरों में महिंद्रा एंड महिंद्रा, सन फार्मा, कोटक महिंद्रा बैंक और एशियन पेंट्स शामिल हैं. पूरे दिन के कारोबार में सेंसेक्स ने 55,630.26 का उच्च स्तर और 55,298.23 का निम्न स्तर छुआ.

Nifty50 पर क्या रही स्थिति

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 180.30 अंक मजबूत होकर 16,520.85 पर बंद हुआ. निफ्टी ऑटो, मीडिया, रियल्टी को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए हैं. सबसे ज्यादा लगभग 3 प्रतिशत की तेजी निफ्टी आईटी में आई. निफ्टी पर ओएनजीसी, टेक महिन्द्रा, टीसीएस, एचसीएल टेक्नोलॉजीस, रिलायंस इंडस्ट्रीज टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर एचडीएफसी लाइफ, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, सन फार्मा, आयशर मोटर्स और कोटक बैंक टॉप लूजर्स रहे.

वैश्विक बाजारों की स्थिति

एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहे. यूरोप के ज्यादातर प्रमुख बाजारों में भी शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख था. अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.17 प्रतिशत की गिरावट के साथ 106.1 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 976.40 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

Wipro का मुनाफा 21% घटा

सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी विप्रो लिमिटेड का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून की पहली तिमाही में सालाना आधार पर 21 प्रतिशत घटकर 2,563.6 करोड़ रुपये पर रह गया. इससे पिछले वित्त वर्ष इसी तिमाही में कंपनी ने 3,242.6 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. जून तिमाही के दौरान विप्रो के शुद्ध लाभ में सालाना आधार पर 20.6 प्रतिशत की कमी आई है. कंपनी की आय 2022-23 की अप्रैल-जून तिमाही में सालाना आधार पर करीब 18 प्रतिशत बढ़कर 21,528.6 करोड़ रुपये पर पहुंच गई.

रुपया गिरकर 80 प्रति डॉलर के नीचे

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में बुधवार को अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया 13 पैसे लुढ़ककर 80 प्रति डॉलर के मनोवैज्ञानिक स्तर को लांघकर बंद हुआ. तेल आयातक कंपनियों की भारी डॉलर मांग, कच्चे तेल की कीमतों के मजबूत होने के साथ-साथ व्यापार घाटा बढ़ने की चिंताओं के कारण निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई जो गिरावट का मुख्य कारण बना. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 79.91 प्रति डॉलर पर खुला और अंत में रुपया अपने पिछले बंद भाव के मुकाबले 13 पैसे की गिरावट के साथ दिन के निम्नतम स्तर 80.05 (अस्थायी) प्रति डॉलर पर बंद हुआ.