सेंसेक्स 248 अंक चढ़कर सर्वकालिक उच्च स्तर पर, निफ्टी 18400 के पार

सेंसेक्स के शेयरों में पावर ग्रिड, ICICI बैंक, भारती एयरटेल, अल्ट्राटेक सीमेंट, भारतीय स्टेट बैंक, डॉ. रेड्डीज और एशियन पेंट्स प्रमुख रूप से लाभ में रहे.

सेंसेक्स 248 अंक चढ़कर सर्वकालिक उच्च स्तर पर, निफ्टी 18400 के पार

Tuesday November 15, 2022,

3 min Read

विदेशी निवेशकों की लिवाली और वैश्विक बाजारों में मजबूती के रुख के बीच स्थानीय शेयर बाजार (Stock Markets) भी मंगलवार को चढ़ गए. बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स (BSE Sensex) 248 अंक की बढ़त के साथ अपने सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया. उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में सेंसेक्स 248.84 अंक चढ़कर 61,872.99 पर बंद हुआ. इसी के साथ सेंसेक्स 11 नवंबर के अपने पिछले रिकॉर्ड स्तर 61,795.04 को पार कर गया. कारोबार के दौरान सेंसेक्स 61,955.96 अंक तक चढ़ गया था, वहीं इसने 61,436.90 का निचला स्तर भी छुआ.

सेंसेक्स के शेयरों में पावर ग्रिड, ICICI बैंक, भारती एयरटेल, अल्ट्राटेक सीमेंट, भारतीय स्टेट बैंक, डॉ. रेड्डीज और एशियन पेंट्स प्रमुख रूप से लाभ में रहे. दूसरी तरफ ITC, रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज फिनसर्व और नेस्ले के शेयर गिरावट लेकर बंद हुए.

Nifty50 पर कौन से शेयर चमके

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी (NSE Nifty) 74.25 अंकों की मजबूती के साथ 18,403.40 पर बंद हुआ. निफ्टी पर FMCG, मीडिया, रियल्टी को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए हैं. निफ्टी पर पावरग्रिड, ONGC, ICICI बैंक, भारती एयरटेल, हीरो मोटोकॉर्प टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर HDFC लाइफ, ग्रासिम, सिप्ला, ITC, UPL टॉप लूजर्स रहे.

वैश्विक बाजारों की स्थिति

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्केई, चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहा. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख रहा. अमेरिकी बाजार वॉल स्ट्रीट सोमवार को गिरावट में बंद हुए. अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.62 प्रतिशत की तेजी के साथ 91.63 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों की लिवाली का सिलसिला जारी है. उन्होंने सोमवार को 1,089.41 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

ONGC का सितंबर तिमाही में शुद्ध लाभ 30% घटा

सार्वजनिक क्षेत्र की तेल एवं गैस कंपनी ONGC का चालू वित्त वर्ष की सितंबर तिमाही में शुद्ध लाभ 30 प्रतिशत घटकर 12,825.99 करोड़ रुपये रह गया. ऑयल एंड नैचुरल गैस कॉरपोरेशन लिमिटेड (ओएनजीसी) ने मंगलवार को जारी एक बयान में कहा कि एक साल पहले की समान तिमाही में उसने 18,347.73 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. वहीं अप्रैल-जून की तिमाही की तुलना में जुलाई-सितंबर तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 15.6 प्रतिशत गिर गया. पहली तिमाही में कंपनी ने 15,205.85 करोड़ रुपये का लाभ कमाया था.

ओएनजीसी के लाभ में आई गिरावट के पीछे घरेलू पेट्रोलियम उत्पादों पर एक जुलाई से लागू अप्रत्याशित लाभ कर की अहम भूमिका रही है. इस कर की वजह से कंपनी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल एवं गैस के दाम में हुई बढ़ोतरी का उतना लाभ नहीं मिल पाया.