आज Sula Vineyards समेत इन दो IPO ने दी दस्तक, 15 दिसंबर तक रहेगा बोली लगाने का मौका

सुला वाइनयार्ड्स को रेड, व्हाइट और स्पार्कलिंग वाइन सहित सभी वाइन वेरिएंट्स में मार्केट लीडर के रूप में जाना जाता है.

आज Sula Vineyards समेत इन दो IPO ने दी दस्तक, 15 दिसंबर तक रहेगा बोली लगाने का मौका

Monday December 12, 2022,

3 min Read

निवेशकों के लिए 12 दिसंबर खास है क्योंकि इस दिन दो IPO ओपन हुए हैं. एक आईपीओ दिग्गज वाइन कंपनी सुला वाइनयार्ड्स (Sula Vineyards IPO) का है और दूसरा Abans समूह की वित्तीय सेवा इकाई Abans Holdings का. सुला आईपीओ 14 दिसंबर को और अंबस होल्डिंग्स का आईपीओ 15 दिसंबर को बंद होगा. सुला वाइनयार्ड्स का आईपीओ पूरी तरह से बिक्री पेशकश (ओएफएस) के रूप में होगा, जिसमें प्रमोटर्स, निवेशकों और अन्य शेयरधारकों की ओर से कुल 2,69,00,532 इक्विटी शेयरों को बिक्री के लिए रखा जाएगा.

कंपनी ने आईपीओ के लिए 340-357 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया है. इस प्राइस बैंड के ऊपरी स्तर पर आईपीओ से 960.35 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद है. सुला वाइनयार्ड्स के आईपीओ के तहत निवेशक मिनिमम 42 इक्विटी शेयरों के लिए और बाद में इसके मल्टीप्लाई में बोलियां लगा सकते हैं. सुला के आईपीओ के लिए कोटक महिंद्रा कैपिटल कंपनी, सीएलएसए इंडिया और आईआईएफएल सिक्योरिटीज बुक रनिंग लीड मैनेजर हैं.

एंकर निवेशकों से 288 करोड़ जुटाए

शुक्रवार को सुला ने 288.10 करोड़ रुपये जुटाए. BNP Paribas Arbitrage, Morgan Stanley (Asia) Singapore Pte Ltd, Citigroup Global Markets Mauritius Pvt Ltd, Goldman Sachs और Abu Dhabi Investment Authority समेत 22 एंकर निवेशकों से यह धन​राशि जुटाई गई. ICICI Prudential Life Insurance Company, HDFC Life Insurance Company, Aditya Birla Life Insurance Company, Max Life Insurance Company, Aditya Birla Sun Life Mutual Fund (MF), SBI MF और HDFC MF भी एंकर निवेशकों में शामिल रहे. बीएसई पर अपलोड किए गए सर्कुलर के मुताबिक, एंकर निवेशकों को 357 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर 80,70,158 इक्विटी शेयर अलॉट करने का फैसला किया गया.

सुला वाइनयार्ड्स को रेड, व्हाइट और स्पार्कलिंग वाइन सहित सभी वाइन वेरिएंट्स में मार्केट लीडर के रूप में जाना जाता है. कंपनी सुला (इसका प्रमुख ब्रांड), RASA, डिंडोरी, द सोर्स, सटोरी, मदेरा और दीया जैसे लोकप्रिय ब्रांड्स के तहत वाइन की बिक्री करती है. वर्तमान में, यह महाराष्ट्र और कर्नाटक में स्थित 4 खुद की प्रॉडक्शन फैसिलिटी और 2 लीज्ड प्रॉडक्शन फैसिलिटी में 13 अलग-अलग ब्रांड्स में वाइन के 56 विभिन्न लेबल्स का उत्पादन करती है.

Abans Holdings के IPO का प्राइस बैंड

Abans Holdings के आईपीओ तहत 38 लाख नए शेयर जारी किए जाएंगे. इसके अलावा कंपनी के प्रमोटर अभिषेक बंसल 90 लाख शेयरों की बिक्री पेशकश लाएंगे. इस वक्त बंसल की कंपनी में हिस्सेदारी 96.45 प्रतिशत है. कंपनी ने आईपीओ के लिए 256 से 270 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया है. इस प्राइस बैंड के ऊपरी स्तर पर आईपीओ से 345.6 करोड़ रुपये जुटेंगे. आईपीओ 15 दिसंबर को बंद होगा. निवेशक लॉट्स में बोलियां लगा सकते हैं और एक लॉट 55 शेयरों का होगा. मैक्सिमम 13 लॉट के लिए बोलियां लगाई जा सकती हैं.

Abans Holdings एक डायवर्सिफाइड ग्लोबल फाइनेंशियल सर्विसेज बिजनेस संचालित करती है. कंपनियों, इंस्टीट्यूशनल और हाई नेट वर्थ वाले व्यक्तिगत ग्राहकों को नॉन—बैंकिंग फाइनेंस कंपनी (एनबीएफसी) सेवाएं; इक्विटी, कमोडिटी व विदेशी मुद्रा में ग्लोबल इंस्टीट्यूशनल ट्रेडिंग सेवाएं, निजी ग्राहक स्टॉकब्रोकिंग सेवाएं, डिपॉजिटरी सेवाएं, एसेट मैनेजमेंट सेवाएं, निवेश सलाहकार सेवाएं और वेल्थ मैनेजमेंट सेवाएं देती है. वर्तमान में इसका यूके, सिंगापुर, यूएई, चीन, मॉरीशस और भारत सहित छह देशों में सक्रिय कारोबार है.