Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ड्रोन की बढ़ती संख्या में ट्रैफिक मैनेजमेंट कैसे होगा? UrbanMatrix है ना...

यह ड्रोन को कंट्रोल करने के लिए अपनी Unmanned Aerial Vehicle Traffic Management टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते हैं. इसका कंट्रोल स्टेशन ग्राउंड पर ही होता है.

ड्रोन की बढ़ती संख्या में ट्रैफिक मैनेजमेंट कैसे होगा? UrbanMatrix है ना...

Sunday March 05, 2023 , 3 min Read

ड्रोन फ्लाइंग गेम्स, ड्रोन से डिलीवरी, ड्रोन की मदद से रीसर्च. ये सारी चीजें आजकल खूब सुनने में आती हैं. ड्रोन का इंडिया में आधिकारिक तरीके से इस्तेमाल होना देश को धीरे धीरे बदल रहा है. लेकिन क्या आपने सोचा है कि जब ड्रोन्स की संख्या बढ़ती जाएगी तो इसका ट्रैफिक मैनेजमेंट कैसे होगा?

बस इसी सवाल का जवाब देने आ गया है स्टार्टअप UrbanMatrix जिसके बारे में हम आपको यहां बता रहे हैं.

यह ड्रोन को कंट्रोल करने के लिए अपनी Unmanned Aerial Vehicle Traffic Management टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते हैं. इसका कंट्रोल स्टेशन ग्राउंड पर ही होता है. इस टेक्नोलॉजी को शुरुआत से ही कंपनी के अंदर डेवलप किया गया है. इनका फ्लीट मैनेजमेंट एप्लीकेशन UMT क्लाउड कंसोल एक ही लोकेशन से मल्टीप्ल ड्रोन्स को कंट्रोल कर सकता है.

अर्बनमैट्रिक्स के प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल सुरक्षा और निगरानी, सर्वेक्षण और मैपिंग, संपत्ति निरीक्षण, लास्ट माइल मेडिकल डिलीवरी और हवाई कनेक्टिविटी, डिस्ट्रीब्यूशन और लोजिस्टिक्स जैसे क्षेत्रों में किया जा सकता है. स्टार्टअप ने एक दर्जन से अधिक पायलट पूरे कर लिए हैं, जिनमें उड़ीसा पुलिस के साथ स्मार्ट सिटी सर्विलांस शामिल है. साथ ही निजी कंपनियों के लिए सर्विलांस और संपत्ति निरीक्षण, भारतीय नौसेना के लिए विशेष निगरानी परियोजना वगैरह शामिल हैं.

अर्बनमैट्रिक्स के को-फाउंडर और सीईओ ऋषभ वर्मा ने आईआईटी मद्रास से केमिकल इंजीनियरिंग में बीटेक किया है. और ओयो और ओएनजीसी में इंटर्नशिप की है. को-फाउंडर आशुतोष कुमार आईआईटी मद्रास से इंजीनियरिंग डिजाइन में ग्रेजुएशन की डिग्री रखते हैं और ई-प्लेन कंपनी में प्रोडक्ट डेवलपमेंट हेड के रूप में काम कर चुके हैं. अर्बनमैट्रिक्स के कोफाउंडर और वीपी-सॉफ्टवेयर एंड सिस्टम्स दिव्यांशु कुमार के पास इंजीनियरिंग डिजाइन और ऑटोमोटिव इंजीनियरिंग में डबल डिग्री है. वे DRDO और JK टायर्स में R&D इंटर्न रह चुके हैं.

अर्बनमैट्रिक्स के प्रोडक्ट्स में में यूएमटी हॉक4जी, जो एक 4जी इनेबल्ड क्लाउड कंट्रोल्ड सिक्योरिटी और सर्विलांस ड्रोन है, शामिल है. साथ ही UMT SparrowPPK, एक एडवांस्ड मैपिंग और इंस्पेक्शन ड्रोन; यूएमटी लॉन्चपैड, और ड्रोन को आसानी से कंट्रोल करने वाला सॉफ्टवेर हैं.

वर्तमान और भविष्य को ध्यान में रखते हुए देखा जाए तो ड्रोन इकोसिस्टम में ये स्टार्टअप एक बड़ा योगदान कर रहा है.

यह स्टार्टअप YourStory की साल 2022 की Tech30 लिस्ट का हिस्सा है.

YourStory हर साल अपने सिग्नेचर इवेंट TechSparks में आपके लिए कई हज़ारों में से चुनकर लाता है Tech30 लिस्ट में ऐसे 30 स्टार्टअप जो देश को बदल देने के साथ साथ अरबों की कंपनियां बनने की ताकत रखते हैं.

Tech30 ने बीते 11 साल में 330 से ज्यादा स्टार्टअप्स को प्रोफाइल कर उनके बारे में दुनिया को बताया है, 35,000 से ज्यादा नौकरियां देने में मदद की है, 300 करोड़ डॉलर से भी ज्यादा की फंडिंग इसकी मदद से आई है और 675 से भी ज्यादा युवा फाउंडर्स को हमने कुछ कर दिखाने की ताकत दी है. Tech30 लिस्ट का हिस्सा रहे 5 ऐसे स्टार्टअप हैं जो यूनिकॉर्न बन चुके हैं. यानी उनका वैल्यूएशन 100 करोड़ डॉलर से ज्यादा है और ये सिलसिला अभी रुका नहीं है.


Edited by Prateeksha Pandey