सिक्योरिटी सर्विस के बिजनेस में स्टीरियोटाइप को तोड़ रही है साड़ी पहने ये 'लेडी बॉडीगार्ड'

By Rekha Balakrishnan
July 19, 2019, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:33:06 GMT+0000
सिक्योरिटी सर्विस के बिजनेस में स्टीरियोटाइप को तोड़ रही है साड़ी पहने ये 'लेडी बॉडीगार्ड'
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

प्रमुख भारतीय शहरों में सिक्योरिटी सर्विसेज के बिजनेस में अग्रणी सीम ग्रुप सर्विसेज (Seam Group Services) की संस्थापक वीना गुप्ता को अक्सर उनके साथी और क्लाइंट्स लेडी बॉडीगार्ड या दबंग सिंह कहकर बुलाते हैं। लेकिन वीना को इससे कोई दिक्कत नहीं है बल्कि उन्हें इस पर गर्व होता है।


उनका कहना है, "क्या मुझे इसे अपमान के रूप में लेना चाहिए? दरअसल मुझे सच में गर्व है कि मैं इस बिजनेस में एक ट्रेंडसेटर हूं। ज्यादातर लोग एक सुरक्षा अधिकारी से अपेक्षा करते हैं कि वह शारीरिक रूप से भारी हो या मजबूत दिखे। लेकिन मैं नहीं हूं।"


Veena Gupta

लेडी बॉडीगार्ड या दबंग सिंह के नाम से भी जानी जाती हैं वीना गुप्ता



दिलचस्प बात यह है कि जब वह छोटी थीं, तब वीना पुलिस फोर्स में शामिल होना चाहती थीं। वह टॉमबॉय की तरह बनकर रहती थीं और काफी विद्रोही थीं। वीना अपने आस-पड़ोस की सभी लड़कियों की रक्षा करना चाहती थी। लेकिन उनकी हाइट और पारिवारिक बाधाएँ उनके रास्ते में खड़ी थीं। जिसके चलते उन्होंने बैचलर डिग्री हासिल प्राप्त करने का विकल्प चुना और बाद में उसी विषय (हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट) में मास्टर की डिग्री हासिल की। 1992 से 2000 तक उन्होंने फाइव स्टार होटल चेन्स में भी काम किया।


नए करियर की तरफ

शादी के बाद वीना के एक बेटी हुई। बेटी के जन्म के बाद उन्होंने 9 से 5 की नौकरी करने का सोचा। इस अवधि के दौरान, उन्होंने एक सिक्योरिटी सर्विसेज फर्म के लिए बतौर बिजनेस डेवलपमेंट मैनेजर के रूप में काम किया। वह कहती हैं, 'मैं कंपनी में इंटरव्यू देने के लिए गई तो मेरे पास कुछ नहीं था सिवाय मेरे एटीट्यूड के। जब उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या मैं लोगों की रक्षा कर पाऊंगी। तो मैं काफी खुश हुई क्योंकि आखिरकार ये मेरे बचपन से मेरा जुनून रहा है और इसी फील्ड से मेरी जर्नी की शुरुआत भी हुई है।” 


वीना ने बैंकॉक में छह महीने की बेहद टफ ट्रेनिंग में भाग लिया जहाँ उन्होंने सिक्योरिटी और प्रोटेक्शन बिजनेस के नट-बोल्ट सीखे। हालांकि जिस कंपनी में वीना काम करती थीं उसने 2008 में अपना काम बंद कर दिया। उसके बाद उन्होंने फ्रीलांसिंग असाइनमेंट पर काम करना शुरू कर दिया। वीना कहती हैं कि इस दौरान उन्हें बहुत भेदभाव का सामना करना पड़ा।


वह कहती हैं, “मैं काफी फेमिनी (feminine) दिखती हूँ, और काम पर साड़ी भी पहनती हूँ। मुझे देखकर लोगों की ये मानसिकता होती है कि ‘कैसे एक महिला मेरी रक्षा कर सकता हैं।’ मेरा मानना है कि एक कॉर्पोरेट प्रोटेक्शन ऑफिसर या एक सिक्योरिटी ऑफिसर होना केवल शारीरिक रूप से मजबूत होना ही नहीं है। आपके पास होशियारी और हर सिचुएशन पर तुरंत रिएक्शन लेने का सेंस भी होना चाहिए।"


वीना गुप्ता


इस बिजनेस में आने के लिए वीना ने वह सब सीखा जिसकी जरूरत होती है। जैसे मार्शल आर्ट, क्राव मागा, कराटे, मुक्केबाजी, और चाकू, बंदूक, या केवल हाथों से फाइट करना सब सीखा। 


नामी क्लाइंट लिस्ट

इन वर्षों में, वीना के पास सैम जेल ईटी इंटरनेशनल (Sam Zell ET International), बेल हेलीकॉप्टर, एमवे (Amway), वेस्टर्न यूनियन, फेयर इसाक (Fair Isaac), क्विंटाइल्स, ईगल, एडोब, गॉगल्स, कोडक-यूएसए, वॉल-मार्ट-यूएसए, एडीपी-यूएसए, लेनोवो-यूएसए, नेट जेट्स-यूएसए, एडोब-यूएसए, बार्कलेज बैंक-हांगकांग (Barclays Bank-Hong Kong), नोवेलिस (आदित्य बिड़ला ग्रुप)-यूएसए जैसे प्रतिष्ठित ग्राहक हैं। वीना द्वारा हैंडल किए गए कुछ स्पेशल असाइनमेंट्स में एग्जीक्यूटिव प्रोटेक्शन भी शामिल है। भारतीय टेक्सटाइल कारोबारी अरुण नायर और ब्रिटिश अभिनेत्री लिज हर्ले की शादी के दौरान मुंबई और उदयपुर में प्रिंस ऑफ हंगरी और उनकी पत्नी की सिक्योरिटी और लॉजिस्टिक का जिम्मा वीना के ही पास था।


सीम रिस्क सॉल्यूशंस का भारत के सभी प्रमुख शहरों में परिचालन है, और इसका मुख्यालय गुरुग्राम में है। वे ज्यादातर स्टाफ को हर असाइनमेंट के आधार पर हायर करते हैं। इसके अलावा, वीना पुरुषों और महिलाओं को भी सुरक्षा अधिकारी बनने के लिए प्रशिक्षित करती है; वह उनमें से कुछ को मुफ्त में ट्रेनिंग देती हैं। साथ ही वह ट्रेनिंग सेशन भी आयोजित करती हैं और विभिन्न टॉपिक्स पर कैंप का आयोजन भी करती है, जिसमें फायर सेफ्टी से लेकर इमरजेंसी प्रोसीजर, सड़क सुरक्षा, महिलाओं की सुरक्षा और सॉफ्ट स्किल शामिल हैं।


वह कहती हैं, “मुझे उम्मीद है कि सरकार अधिक से अधिक महिलाओं को सही प्रशिक्षण प्रदान करके सुरक्षा क्षेत्र में रोजगार के लिए प्रोत्साहित कर सकती है। इससे दो तरह का लाभ होगा: वे खुद का बचाव भी कर सकती हैं और इसे रोजगार के साधन के रूप में भी उपयोग कर सकती हैं।” 


वीना


सीम ग्रुप सर्विसेज में अन्य वर्टिकल जैसे वीमेन इन सिक्योरिटी (WIS) और माय सिक्योरिटी, माय रिस्पॉन्सिबिलिटी (MSMR) भी हैं। इस क्षेत्र में इतने साल गुजारने के बावजूद, वीना के अनुसार चुनौतियां अभी भी समान हैं। वह कहती हैं, “एक पुरुष ग्राहक मेरे काम से संतुष्ट हो सकता है, लेकिन वह मुझे दूसरों से मिलाने में हिचकता है क्योंकि हमारे रिश्ते को गलत समझा जा सकता है। साथ ही, लोग अब भी सोचते हैं कि एक महिला एक पुरुष की रक्षा कैसे कर सकती है। इस सोच को खत्म करना वास्तव में कठिन है।"


वीना काम पर साड़ी पहनना ही क्यों पसंद करती हैं? इस बारे में बात करते हुए, वह बताती हैं, “कुछ ईवेंट्स में, मैं केवल साड़ी पहनती हूँ। क्योंकि इससे मैं एक मैनेजर की तरह दिख सकती हूं, भीड़ में घुल-मिल सकती हूं, और मैं जिसकी रक्षा कर रही हूं उस पर अपनी नजरें भी रख सकती हूं। इसके अलावा, मैंने यह भी सीखा है कि कैसे एक हथियार के रूप में साड़ी का इस्तेमाल कर सकते हैं। मैं इसमें बहुत सहज महसूस करती हूं।”


वीना ने सीम रिस्क सॉल्यूशंस बिना किसी बाहरी फंडिंग के शुरू किया था लेकिन अब सिंगापुर में इसका एक कार्यालय है। वह कहती हैं, "मेरा उद्देश्य ग्लोबल लेवल पर जाना है और महिला सुरक्षा अधिकारियों की एक बड़ी टीम बनाना है।"