मार्च में, मुंबई में होगी YourStory की The Metaverse Summit 2023, क्या है खास?

The Metaverse Summit 2023 का दूसरा संस्करण मार्च महीने में, मुंबई में आयोजित होगा. समिट Web2 एंटरप्राइजेज, स्टार्टअप्स, इनोवेटर्स और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस को Web3 प्रोटोकॉल और स्टार्टअप्स से जोड़ेगा ताकि ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी को अपनाने में तेजी लाई जा सके.

Rishabh Mansur

रविकांत पारीक

मार्च में, मुंबई में होगी YourStory की The Metaverse Summit 2023, क्या है खास?

Saturday January 07, 2023,

3 min Read

YourStory की The Metaverse Summit 2023 अब मार्च में, मुंबई में (जनवरी में बेंगलुरु के बजाय) आयोजित होने जा रही है. यह ब्लॉकचेन (blockchain) और वेब3 (web3) जैसी टेक्नोलॉजी को अपनाने में तेजी लाने के लिए भारत की सबसे बड़ी एनुअल टेक समिट का दूसरा संस्करण है.

आखिरकार, भारत की वित्तीय राजधानी देश के लगभग एक तिहाई यूनिकॉर्न का घर है और इनोवेशन-फ्रेंडली पॉलिसी और एक अनुकूल निवेशक आधार से भरपूर प्रमुख स्टार्टअप केंद्र है. भारत के Web3 एजेंडे के निर्माण में अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़ें.

हालांकि, समिट की जगह बदल गई है, लेकिन इसका उद्देश्य वही है. यहां आप भारतीय और वैश्विक वेब3 समुदाय के सैकड़ों संस्थापकों, निवेशकों, डेवलपर्स, इंजीनियरों और समुदाय के सदस्यों से मिल सकते हैं.

Web3 समिट के जरिए, YourStory अगले अरब यूजर्स के वेब3 टेक्नोलॉजी अपनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाना चाहती है.

इस विजन को साकार करने के लिए, मेटावर्स समिट 2023 वेब2 एंटरप्राइजेज, स्टार्टअप्स, इनोवेटर्स, फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस और पॉलिसी मेकर्स को वेब3 प्रोटोकॉल और स्टार्टअप्स से जोड़ेगा ताकि ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी को अपनाने में तेजी लाई जा सके.

आपके लिए क्यों जरूरी है मेटावर्स समिट?

ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी, AI (Artificial intelligence), Augmented reality (AR)/Virtual Reality, गेमिफिकेशन, हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर में तेजी से हो रही प्रगति, और बहुत कुछ यूजर्स के वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर एक-दूसरे के साथ बातचीत करने के तरीके को बदल रही है.

इसके साथ ही भारत के लिए इस बदलते दौर में धाक जमाने और वेब3 के जरिए मेटावर्स की इंटरनेट अर्थव्यवस्था को परिभाषित करने का यह मल्टीट्रिलियन-डॉलर का अवसर है.

वेब3 टेक्नोलॉजी ओपन-सोर्स मैकेनिज्म मुहैया करती है जिसके जरिए अरबों डॉलर के संसाधनों को आसानी से एकत्रित किया जा सकता है और बड़े पैमाने पर पारंपरिक उद्यमों के साथ मुकाबला किया जा सकता है.

हालांकि, वेब2 और वेब2.5 खिलाड़ियों का प्रवेश वेब3 के इस्तेमाल जैसे क्रिप्टो, NFT (non-fungible token), Decentralized finance (DeFi), Play-to-Earn, DAOs आदि को अपनाने में तेजी लाने के लिए सर्वोपरि है.

वेब2 और वेब3 दुनिया के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए, मेटावर्स समिट 2023 भारत में ब्लॉकचेन तकनीक को अपनाने को बढ़ावा देने पर ध्यान देने के साथ दोनों पक्षों के उद्यमों, स्टार्टअप्स, इनोवेटर्स और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस को जोड़ेगी.

इस वर्ष, इस समिट में जिन सेक्टर पर फोकस रहेगा, वे इस प्रकार हैं:

  • कैसे Web2 एंटरप्राइजेज और दिग्गज कंपनियां Web3 को अपना सकती हैं

  • अगले अरब यूजर्स को Web3 पर लाना

  • क्रिप्टो, NFT, DeFi, वेब3 गेमिंग, इंफ्रा, टूलिंग आदि में इनोवेशन

  • एक निष्पक्ष, साझा और उपयोगकर्ता-स्वामित्व वाले मेटावर्स (User-Owned Metaverse) का निर्माण करना

मेटावर्स समिट 2023 में भाग लेने के लिए अभी रजिस्टर करें और भारतीय और ग्लोबल वेब3 कम्यूनिटी के सैकड़ों फाउंडर, इन्वेस्टर, डेवलपर, इंजीनियर और कम्यूनिटी के सदस्यों से मिलें!

यह भी पढ़ें
30 लाख करोड़ खर्च हो चुके हैं, लेकिन कहाँ तक पहुँचा मेटावर्स?