छोटा पैकेट-बड़ा धमाका साबित हो रहे SME कंपनियों के IPOs, केवल 9 महीनों में जुटा लिए हजारों करोड़

By yourstory हिन्दी
October 03, 2022, Updated on : Mon Oct 03 2022 08:23:31 GMT+0000
छोटा पैकेट-बड़ा धमाका साबित हो रहे SME कंपनियों के IPOs, केवल 9 महीनों में जुटा लिए हजारों करोड़
जनवरी-सितंबर 2022 के दौरान SME प्लेटफॉर्म्स पर कुल 87 IPO लाए गए.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इस साल के पहले नौ महीनों यानी जनवरी-सितंबर में 87 विभिन्न छोटे और मंझोले उद्यमों (SMEs) ने आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) के जरिये 1,460 करोड़ रुपये जुटाए हैं. इन IPO के मजबूत प्रदर्शन से निवेशकों की दिलचस्पी भी बढ़ी है. SME उद्योग के आंकड़े बताते हैं कि यह राशि उन 56 कंपनियों के IPO के मुकाबले कहीं अधिक है, जिन्होंने 2021 में शेयर बिक्री के जरिये 783 करोड़ रुपये जुटाए थे.


न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, Fedex Securities में निदेशक उदय नायर ने कहा कि टेक्नोलॉजी बेस्ड और बड़ी ब्रोकिंग कंपनियां SME प्लेटफॉर्म के विकास में अहम भूमिका निभा सकती हैं. आगे कहा कि कुल मिलाकर साल, उन SME कंपनियों के लिए अच्छा है जो शेयर मार्केट से पूंजी जुटाना चाहती हैं.

निवेशक आने वाले IPOs को लेकर उत्सुक

हेम सिक्योरिटीज में निदेशक प्रतीक जैन का कहना है, ‘SME क्षेत्र, बाजार में गिरावट से बेअसर रहा है और निवेशक आने वाले IPOs को लेकर उत्सुक हैं. कई कंपनियों ने बीएसई के एसएमई और एनएसई इमर्ज प्लेटफॉर्म्स पर लिस्टिंग के लिए दस्तावेज जमा करवा दिए हैं तो कई इसकी तैयारी कर रही हैं. आंकड़ों में बताया गया कि जनवरी-सितंबर 2022 के दौरान एसएमई प्लेटफॉर्म्स पर कुल 87 आईपीओ लाए गए, जिनसे 1,460 करोड़ रुपये जुटाए गए हैं. ये कंपनियां आईटी, वाहन कलपुर्जों, फार्मा, इंफ्रास्ट्रक्चर व आतिथ्य और आभूषण क्षेत्र की हैं. सेकेंडरी मार्केट में उतार-चढ़ाव के बावजूद सितंबर में 29 SMEs ने प्राइमरी मार्केट में दस्तक दी. इन 29 IPOs में से 25 क्लोज हो चुके हैं, जबकि 4 अभी भी ओपन हैं.

छोटे होने के बावजूद मिल रही निवेशकों से अच्छी प्रतिक्रिया

कई IPOs में क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स और रिटेल इन्वेस्टर्स की ओर से बढ़चढ़ कर पार्टिसिपेशन देखने को मिला. उदाहरण के लिए Insolation Energy का IPO. यह IPO पिछले सप्ताह क्लोज हो गया, यह 183 गुना सब्सक्राइब हुआ है. यह किसी भी BSE SME IPO के मामले में सबसे ज्यादा सब्सक्रिप्शन है. हेम सिक्योरिटीज के निदेशक गौरव जैन के मुताबिक, ‘आकार में छोटे होने के बावजूद इन आईपीओ को निवेशकों से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है.’

BSE-NSE ने साल 2012 में लॉन्च किए थे SME प्लेटफॉर्म्स

BSE और NSE ने साल 2012 में SME प्लेटफॉर्म्स को लॉन्च किया था. ये प्लेटफॉर्म्स SME कंपनियों को ग्रोथ और एक्सपेंशन के लिए पूंजी जुटाने का मौका देते हैं. जनवरी-सितंबर 2022 में आए बड़ी कंपनियों के आईपीओ की बात करें तो LIC समेत अब तक 20 कंपनियां आईपीओ ला चुकी हैं. इन आईपीओ से जुटाई गई कुल राशि 43,275 करोड़ रुपये है.


Edited by Ritika Singh