3300 करोड़ रुपये का कर्ज लेने की तैयारी में Adani Group, कौन देगा इतनी मोटी रकम?

3300 करोड़ रुपये का कर्ज लेने की तैयारी में Adani Group, कौन देगा इतनी मोटी रकम?

Monday February 27, 2023,

3 min Read

अरबपति गौतम अडानी (Gautam Adani) के स्वामित्व वाला अडानी समूह (Adani Group) 400 मिलियन डॉलर (करीब 3300 करोड़ रुपये) का कर्ज जुटाने की तैयारी कर रहा है. यह कर्जा प्रमुख ऑस्ट्रेलिया में अपने कोल पोर्ट (कोयला बंदरगाह) संपत्ति के बदले जुटाना चाहता है. यह पोर्ट कारमाइकल खदान से जीवाश्म ईंधन के निर्यात का एक बड़ा हिस्सा है. इकोनॉमिक टाइम्स ने सोमवार को इसकी जानकारी दी.

अडानी फैमिली ट्रस्ट द्वारा नियंत्रण नॉर्थ क्वींसलैंड एक्सपोर्ट टर्मिनल (NQXT) को अब अडानी ग्रुप के लिए धन जुटाने में मदद करने पर विचार किया जा रहा है. पिछले महीने 24 जनवरी को यूएस शॉर्ट सेलर हिंडनबर्ग ने अडानी ग्रुप पर एक रिपोर्ट जारी की थी. इस रिपोर्ट के आने के बाद से ग्रुप को 150 अरब डॉलर का नुकसान हो चुका है. रिपोर्ट में कहा गया था कि अडानी की कंपनियां 85 फीसदी ओवरवैल्यूड हैं. साथ ही ग्रुप पर शेयरों में हेरफेर का भी आरोप लगाया गया था.

अडानी ने कई बड़े ग्लोबल क्रेडिट फंड्स के साथ चर्चा शुरू कर दी है, और अब तक संभावित उधारदाताओं से दो सांकेतिक टर्म शीट प्राप्त की है, जिसमें हेज फंड फरलॉन कैपिटल शामिल है.

हाल ही में रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, ऑस्ट्रेलिया के कॉर्पोरेट नियामक ने कहा कि वह शॉर्ट-सेलर रिपोर्ट की समीक्षा करेगा, जिसने अडानी समूह के बारे में व्यापक चिंताओं को चिह्नित किया था.

ऑस्ट्रेलिया में, अडानी कारमाइकल कोयला खदान और एक संबंधित रेल लाइन, नॉर्थ क्वींसलैंड एक्सपोर्ट टर्मिनल का संचालन करता है, जो क्वींसलैंड कोयला निर्यात के लिए एक प्रमुख बंदरगाह है, साथ ही एक सोलर फार्म भी है.

यह पहली बार नहीं है जब ग्रुप ने अपने एसेट्स पर फंड जुटाने की कोशिश की हो. कॉरपोरेट फाइलिंग से पता चलता है कि NQXT के पास पिछले साल दिसंबर में मैच्योर होने वाले 500 मिलियन डॉलर के कर्ज पुनर्भुगतान थे.

शॉर्टसेलर हिंडनबर्ग रिसर्च के अकाउंटिंग फ्रॉड और स्टॉक मैनिपुलेशन के आरोपों के नतीजों को रोकने के लिए उद्योगपति गौतम अडानी (Gautam Adani) का अडानी ग्रुप (Adani Group) इस हफ्ते एशिया में फिक्स्ड-इनकम निवेशकों के साथ एक टूर शुरू कर रहा है.

लगभग एक दर्जन वैश्विक बैंक सोमवार को सिंगापुर के कैपिटल केम्पिंस्की होटल में निवेशक बैठकों की मेजबानी करने में मदद करेंगे. अरबपति गौतम अडानी द्वारा समर्थित समूह फिर मंगलवार और बुधवार को बार्कलेज पीएलसी कार्यालय में हांगकांग में बैठकें करेगा. समाचार एजेंसी ब्लुमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, समूह के मुख्य वित्तीय अधिकारी जुगशिंदर सिंह और कॉर्पोरेट वित्त प्रमुख अनुपम मिश्रा इन बैठकों की अगुवाई करेंगे.

सोमवार को अडानी पोर्ट्स को छोड़कर अडानी समूह के सभी शेयर लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं. अडानी ग्रीन पर 5 फीसदी का लोअर सर्किट लगा है.