हयात ग्रुप की 2020 के अंत तक भारत में 11 नए होटल खोलने की योजना

शिकागो मुख्यालय वाली कंपनी के फिलहाल भारत में 20 स्थानों पर 32 होटल हैं।

हयात ग्रुप की 2020 के अंत तक भारत में 11 नए होटल खोलने की योजना

Thursday December 26, 2019,

2 min Read

वैश्विक होटल कंपनी हयात होटल्स कॉरपोरेशन की 2020 के अंत तक भारत में 11 नए होटल खोलने की योजना है। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि भारत में विस्तार की योजना के तहत हम 11 नए होटल खोलने जा रहे हैं।


k

फोटो क्रेडिट: hotelierindia



शिकागो मुख्यालय वाली कंपनी के फिलहाल भारत में 20 स्थानों पर 32 होटल हैं। हयात के पोर्टफोलियो के भारत में आठ ब्रांड हैं....हयात, हयात सेंट्रिक, हयात रीजेंसी, हयात प्लेस, ग्रैंड हयात, पार्क हयात, अलीला और अंदाज।


हयात के भारतीय परिचालन के उपाध्यक्ष संजय शर्मा ने पीटीआई भाषा से कहा,

‘‘हमारी 2020 के अंत तक भारत में 11 नए होटल खोलने की योजना है। भारत हमारी वृद्धि की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण बाजार है।


हयात भारत में उतरने वाला पहले अंतरराष्ट्रीय होटल प्रबंधन ब्रांड में है। हयात का भारत में पहला होटल दिल्ली में 1982 में खुला था।





शर्मा ने बताया कि नए होटल ग्रैंड हयात, हयात पैलेस और हयात रीजेंसी ब्रांड के होंगे।


उन्होंने कहा,

‘‘गुरुग्राम का होटल ग्रैंड हयात ब्रांड नाम से होगा। वहीं वडोदरा, जयपुर और बेंगलुरु के होटल हयात प्लेस ब्रांड नाम से होंगे। वहीं त्रिसूर, कोच्चि, जयपुर, देहरादून, त्रिवेंद्रम और उदयपुर के होटल हयात रीजेंसी ब्रांड के तहत खोले जाएंगे।

आपको बता दें कि होटल सेवा उपलब्ध कराने वाली वेब साइट Trivago के मुताबिक डील के साथ हयात रीजेंसी दिल्ली में ठहरने के लिए कम से कम आपको 9,439 रुपये खर्च करने होंगे। वहीं लंच के साथ 11,209 रुपये आपको चुकाने होंगे। जबकि सुईट का सबसे कम एक रात का किराया 19,343 रुपये है। 


आपको बता दें कि 31 मार्च 2013 तक हयात ग्रुप के वैश्विक पोर्टफोलियो में 46 देशों में 508 संपतियां (होटल) शामिल थी। गुड़गांव स्थित होटल हयात रीजेंसी भारत में हयात समूह के 30 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में खोला गया था। भारत की राजधानी नई दिल्ली से नजदीक एवं एक प्रमुख वाणिज्यिक केंद्र होने के चलते गुडगाँव में हयात प्रबंधन ने यह होटल खोला था।


हयात प्रबंधन के होटलों की एक बड़ी विशेषता यह होती हैं कि यहाँ आथिथ्य सत्कार की परंपरा का पूरा ख्याल रखा जाता हैं। होटल के सारे कर्मचारी इसी कोशिश में लगे रहते हैं।


(Edited by रविकांत पारीक )