अपने खास प्रॉडक्ट के जरिये कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोक रहा है इंदौर का यह स्टार्टअप

30th Jun 2020
  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Tuchware Systems and Solutions ने हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री के लिए इलेक्ट्रॉनिक लॉक का निर्माण किया है। स्टार्टअप ने कोरोनावायरस स्थिति के बीच संपर्क रहित प्रवेश सुनिश्चित करने के लिए स्वचालित स्लाइडिंग और स्विंग डोर ओपनर्स विकसित किए हैं।

(चित्र साभार: Tuchware)

(चित्र साभार: Tuchware)



कोरोनावायरस का प्रकोप हमारे जीवन और उद्योगों को धीमा कर सकता है, लेकिन इसके चलते हमने आविष्कार के एक नए युग में भी प्रवेश किया है।


COVID-19 ने लोगों को अपने परिवेश को लेकर सावधान कर दिया है। यह बीमारी किसी सतह या किसी वस्तु को छूने से फैल सकती है जैसे कि दरवाजे की कुंडी, टेबल इत्यादि और यदि कोई व्यक्ति उसे चुने के बाद अपने मुंह, नाक या आंखों को छूता है, तो उसके भीतर इस वायरस के प्रवेश की संभावना बढ़ जाती है। हर दरवाजे को उतने ही सामान्य ढंग से छूते हैं, जितना हम अपने चेहरे को छूते हैं, लेकिन आज यह बेहद जोखिम भरा है।


इसलिए आज सभी सतहों को कीटाणुरहित और साफ रखना बेहद जरूरी है, लेकिन कोई भी नियमित रूप से सार्वजनिक स्थानों पर दरवाजे को कीटाणुरहित नहीं कर सकता है क्योंकि ये सतहें कई लोगों द्वारा लगातार छुई जाती हैं।


लोगों को इससे बचाने के लिए इंदौर स्थित Tuchware Systems & Solutions आज स्वचालित डोर ओपनर के साथ आया है। अमोल बोयाटकर और राहुल सिंह द्वारा 2016 में स्थापित Tuchware आतिथ्य उद्योग के लिए इंटरनेट-आधारित इलेक्ट्रॉनिक और आरएफआईडी लॉकिंग समाधानों का निर्माण कर रहा है।


स्वचालित स्लाइडिंग डोर तकनीक पहले से ही उपयोग में है, लेकिन स्विंग दरवाजों के लिए स्वचालित ओपनर सार्वजनिक स्थानों पर आसानी से उपलब्ध नहीं था।


स्टार्टअप के अनुसार इसने वर्तमान में कर्नाटक, केरल, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, मुंबई, महाराष्ट्र, दिल्ली और पंजाब के अमृतसर सहित कई राज्यों में अपने इस समाधान को उतारा है।




कोरोना से लड़ाई

योरस्टोरी से बात करते हुए, अमोल बताते हैं कि ऑटोमैटिक डोर ओपनर्स मोशन सेंसर का इस्तेमाल करते हैं और एंट्री को टचलेस बनाते हैं। इसके अलावा चूंकि Tuchware स्वचालित स्विंग दरवाजा ओपनर प्रदान करता है, इसलिए किसी भी सरल दरवाजे को एक स्वचालित में आसानी से बदल दिया जा सकता है।


वे कहते हैं, “पिछले दिसंबर से हमने स्लाइडिंग और स्विंग ऑटोमैटिक डोर ओपनर्स बेचना शुरू किया। COVID-19 के प्रकोप के साथ हमने अपने ग्राहकों से अधिक प्रश्न प्राप्त करना शुरू कर दिया क्योंकि उनके पास स्विंग दरवाजों के लिए स्वचालित ओपनर नहीं थे। जबकि मोशन सेंसर का उपयोग करके स्लाइडिंग दरवाजों का स्वत: खुल जाना आम है, कई होटलों में मोशन सेंसर का उपयोग करके स्वचालित स्विंग डोर ओपनर नहीं होते हैं।"


ऑटोमैटिक डोर ओपनर के अलावा स्टार्टअप थर्मल थर्मामीटर और थर्मल इमेजिंग कैमरा भी बनाती है।


अमोल बताते है, “थर्मल इमेजिंग कैमरे चलती भीड़ की निगरानी कर सकते हैं और लोगों के तापमान को स्कैन कर सकते हैं, इस प्रकार अलग-अलग व्यक्तियों की जांच करने की आवश्यकता को समाप्त किया जा सकता हैं। यह शरीर के सामान्य तापमान से ऊपर वाले व्यक्ति को आसानी से पहचान सकता है। रेलवे स्टेशनों, हवाई अड्डों और मॉल जैसी भीड़-भाड़ वाली जगहों पर समाधान बहुत मददगार होगा।”

दरवाजों के आकार के आधार पर ऑटोमैटिक डोर ओपनर सिस्टम की कीमत लगभग 30,000-50,000 रुपये प्रति डोर है और थर्मल इमेजिंग कैमरों की कीमत लगभग 3-4 लाख रुपये है।




व्यापार

व्यापार मॉडल के बारे में बोलते हुए सह-संस्थापक बताते हैं कि स्टार्टअप बी 2 बी मॉडल पर काम करता है।


Tuchware की स्थापना करने से पहले अमोल, जिन्होंने अपनी इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और MBA में मार्केटिंग और वित्त पूरा किया, उन्होने एक वाणिज्यिक बैंकर के रूप में काम किया और भारतीय स्टेट बैंक में आठ वर्षों तक प्रबंधकीय पद पर रहे। राहुल ने 12 वर्षों में कई लॉजिस्टिक्स व्यवसायों के साथ एक मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में काम किया।


Tuchware में वर्तमान में 15 सदस्यीय टीम है।

चुनौतियां और आगे की योजनाएँ

अमोल कहते हैं, कोविड-19 स्थिति के बीच स्टार्टअप ने कठिनाइयों का अनुभव किया क्योंकि यह ज्यादातर आतिथ्य क्षेत्र में काम कर रहे खिलाड़ियों के साथ काम करता है और लॉकडाउन के कारण आतिथ्य उद्योग बुरी तरह प्रभावित हुआ है। वह कहते हैं, '' हम नया कारोबार पाने के लिए और प्रयास कर रहे हैं और हमारे ग्राहक भी इसका जवाब दे रहे हैं।''


भविष्य की योजनाओं के बारे में बोलते हुए वह कहते हैं कि कंपनी इंदौर में एक नया विनिर्माण संयंत्र स्थापित करना चाहती है। इसके अलावा कंपनी ने हाल ही में स्मार्ट मिरर लॉन्च किए हैं, जो उपयोगकर्ताओं को प्रकाश को नियंत्रित करने या दर्पण पर संदेश या मेल देखने की अनुमति देगा, जबकि उत्पाद को तैनात किया जाना बाकी है। अमोल का कहना है कि यह लोगों का ध्यान खींच रहा है, खासकर शॉपिंग मॉल का।


वे कहते हैं, "हम स्मार्ट होम सॉल्यूशंस लॉन्च करने के अपने रास्ते पर हैं, जिसमें IoT- आधारित स्विच और प्लग शामिल हैं जो मोशन सेंसर और मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से काम कर सकते हैं।"


स्टार्टअप भी बी 2 सी उत्पादों को लॉन्च करने की योजना बना रहा है, जो ईकॉमर्स पोर्टल के माध्यम से बिक्री के लिए उपलब्ध होंगे।


वर्तमान में Tuchware फैब होटल्स, द अशोका होटल (इंदौर), मेफेयर होटल्स और गोल्डन सैंड्स होटल को अपने ग्राहकों के रूप में गिनाता है।


अमोल के अनुसार, Tuchware को गोदरेज और ईएसएसएल जैसे बाजार के अन्य खिलाड़ियों से कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि, उनका मानना है कि स्टार्टअप व्यक्तिगत समाधान प्रदान करता है और इसमें शुरुआत से ही ग्राहकों की जरूरतें शामिल हैं।


Want to make your startup journey smooth? YS Education brings a comprehensive Funding Course, where you also get a chance to pitch your business plan to top investors. Click here to know more.

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Latest

Updates from around the world

Our Partner Events

Hustle across India