नितिन गडकरी और NHAI ने 15 अगस्त, 2022 तक 75 लाख वृक्ष लगाने का लिया संकल्प

By Prerna Bhardwaj
July 19, 2022, Updated on : Tue Jul 19 2022 12:03:26 GMT+0000
नितिन गडकरी और NHAI ने 15 अगस्त, 2022 तक 75 लाख वृक्ष लगाने का लिया संकल्प
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए NHAI (National Highway Authority of India) द्वारा शुरू किये गए अभियानों के तहत एनएचएआई ने देश भर में राष्ट्रीय राजमार्गों (national highways) के साथ 114 स्थानों पर 1.25 लाख पौधे लगाए. इसकी पहल नागपुर में केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने की. भारत की आजादी के उपलक्ष्य में मनाए जा रहे ‘अमृत महोत्सव’ (Amrit Mahotsav) के तहत 15 अगस्त, 2022 तक 75 लाख वृक्ष लगाने का संकल्प भी लिया गया है. इस बात की जानकारी देते हुए गडकरी ने यह भी कहा कि उनका मंत्रालय पौधों की वृद्धि और रखरखाव की निगरानी के लिए उनकी जियो-टैगिंग पर जोर दे रहा है.

t

ईमेज क्रेडिट: NHAI_Official twitter

जियोटैगिंग (Geotagging) किसी भी मीडिया, जैसे फोटोग्राफ, वीडियो, वेबसाइट, या को उसके भौगोलिक (geographic) जानकारी से जोड़ने की प्रक्रिया को कहते हैं.  इन आंकड़ों में आमतौर पर Latitude और longitude Coordinate शामिल होते हैं, लेकिन इसमें ऊंचाई, दूरी और स्थान के नाम भी शामिल हो सकते हैं. जियोटैगिंग करने से लगाए गए पौधों की तस्वीर की मदद से उनके स्थान और उनके विकास और वृद्धि पर नज़र रखी जा सकेगी. वर्तमान में कई ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे परियोजनाएं चल रही हैं. NHAI ने कहा कि इन परियोजनाओं में पर्यावरण को यथासंभव स्वच्छ रखने के लिए हरियाली बनाए रखने पर बहुत जोर दिया जा रहा है.


एक्सप्रेसवे परियोजना के साथ-साथ एजेंसी जल निकायों और भूजल को फिर से जीवंत करने में मदद करने के लिए राष्ट्रीय राजमार्गों के पास ‘अमृत सरोवर’ (Amrit Sarovar) नामक तालाबों के निर्माण पर भी ध्यान दे रही है. दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे के पूरा होने पर एजेंसी राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारत का पहला पशु क्रॉसिंग (cattle crossing) बनाने की भी योजना है. स्वच्छ गतिशीलता के सार को ध्यान में रखते हुए, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय प्रदूषण को कम करने के साथ-साथ महंगे ईंधन आयात पर निर्भरता को कम करने के लिए इलेक्ट्रिक और हाइब्रिड वाहनों पर भी जोर दे रहा है. गडकरी ने लोगों से आगे आकर इस पौधे लगाने के लिए अपील की है ताकि वृक्षारोपण अभियान का स्थायी और दीर्घकालिक प्रभाव हो सके.