छंट रहा Real Estate बिजनेस पर छाया कोहरा, धड़ल्‍ले से हो रही है मकानों की खरीद-फरोख्‍त

By yourstory हिन्दी
June 30, 2022, Updated on : Thu Jun 30 2022 05:22:11 GMT+0000
छंट रहा Real Estate बिजनेस पर छाया कोहरा, धड़ल्‍ले से हो रही है मकानों की खरीद-फरोख्‍त
संपत्ति सलाहकार कंपनी ‘प्रॉपटाइगर डॉट कॉम’ की रिपोर्ट कह रही है कि अप्रैल-जून 2022 में दिल्‍ली, मुंबई, बैंगलौर, कोलकाता समेत भारत के कई बड़े शहरों में मकानों की बिक्री में तेजी आई है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

रिअल स्‍टेट बिजनेस पर कोविड महामारी का बुरा असर पड़ा था. तकरीबन दो साल तक मार्केट ठप्‍प रहा. जब जीवन पर संकट आ खड़ा हो तो मकान खरीदने, प्रॉपर्टी बनाने जैसे सवालों पर कौन सोचता है भला. लेकिन दो साल से रिअल स्‍टेट बिजनेस पर छाया अंधेरा अब दूर हो रहा है. ऑस्ट्रेलिया के आरईए समूह के स्वामित्व वाली संपत्ति सलाहकार कंपनी ‘प्रॉपटाइगर डॉट कॉम’ की रिपोर्ट कह रही है कि अप्रैल-जून 2022 में दिल्‍ली, मुंबई, बैंगलौर समेत भारत के कई बड़े शहरों में मकानों की बिक्री में तेजी आई है. प्रॉपटाइगर डॉट कॉम की रियल इनसाइट रेजिडेंशियल रिपोर्ट में यह आंकड़ों के साथ यह जानकारी दी गई है.  


यह रिपोर्ट कहती है कि इस साल अप्रैल-जून की  तिमाही में भारत के 8 बड़े शहरों में घरों की बिक्री 4.5 गुना बढ़ गई. इस दौरान कुल 74,330 घर बिके. इनमें अपार्टमेंट, फ्लैट और महान तीनों शामिल हैं. इसकी पिछली तिमाही जनवरी-मार्च के मुकाबले इस तिमाही में घरों की मांग पांच फीसदी ज्‍यादा रही. रिपोर्ट बता रही है कि पिछले साल अप्रैल-जून की तिमाही में कुल 15,968 घर बिके थे. 2022 की जनवरी-मार्च तिमाही में यह संख्‍या बढ़कर 70,623 हो गई.

मुंबई

अप्रैल-जून 2021 में मुंबई में कुल 3380 मकान बिके थे. इस साल इस संख्‍या में ताबड़तोड़ बढ़ोतरी हुई है. अप्रैल-जून 2021 में मुंबई में मकान बिक्री का आंकड़ा 26,150 के पार हो गया है. यह संख्‍या इसी साल जनवरी-मार्च में बिके 23,360 मकानों के मुकाबले भी 12 फीसदी ज्‍यादा है.

 पुणे

अप्रैल-जून 2022 में पुणे में 13,720 मकान बिके. पिछले साल इसी अवधि में 2,500 मकानों की बिक्री हुई थी. इसी साल की जनवरी-मार्च तिमाही पुणे में 16,310 मकानों की बिक्री हुई.  

दिल्ली-एनसीआर  

दिल्‍ली-एनसीआर में घरों की बिक्री में सबसे ज्‍यादा इजाफा हुआ है. पिछले साल जहां अप्रैल-जून की तिमाही में 2,830 घरों की बिक्री हुई थी, वहीं इस साल यह संख्‍या बढ़कर 4520 पर पहुंच गई. दिल्‍ली-एनसीआर ने मकानों की बिक्री में 60 फीसदी की बढ़त दर्ज की है. यहां पिछली जनवरी-मार्च तिमाही में 5,010 मकान खरीदे गए.

proptiger-dot-com-report-real-estate-business-is-picking-up-again-after-covid-slowdown

कोलकाता

अप्रैल-जून 2021 में कोलकाता में कुल 1250 मकान बिके थे. इस साल यह संख्‍या बढ़कर 3220 हो गई है. यह इसी साल जनवरी-मार्च में बिके 2860 मकानों की तुलना में भी 13 फीसदी ज्‍यादा है.

अहमदाबाद

कोविड से उबरने के बाद अहमदाबाद का रिअल स्‍टेट मार्केट तेजी से जोर पकड़ रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल अप्रैल-जून की तिमाही में अहमदाबाद में 1280 घर बिके थे, जो संख्‍या इस साल की तिमाही में बढ़कर 7240 हो गई है. इस साल जनवरी-मार्च की तिमाही में बिक्री का यह आंकड़ा 5,550 था. पिछले साल के मुकाबले इस साल हर तिमाही में बिक्री की संख्‍या में इजाफा हो रहा है.  

बेंगलुरु

बेंगलुरु की तस्‍वीर भी रिअल स्‍टेट बिजनेस के लिए आशाजनक है. बेंगलुरु में इस साल अप्रैल-जून की तिमाही में पिछली तिमाही के मुकाबले घरों की बिक्री में 9 फीसदी का इजाफा हुआ है. पिछली तिमाही में 7,670 घर बिके थे, जो संख्‍या इस तिमाही में बढ़कर 8,350 पर पहुंच गई है. पिछले साल इसी अवधि में सिर्फ 1,590 घरों की बिक्री हुई थी.

चेन्‍नई

चेन्नई में भी घरों की बिक्री में तेजी आई है. अप्रैल-जून, 2021 में कुल 710 मकानों की बिक्री हुई थी, जो इस साल बढ़कर 3,220 हो गई है. हालांकि दिल्‍ली-एनसीआर की तरह चेन्‍नई में भी पहली तिमाही के मुकाबले दूसरी तिमाही में मामूली गिरावट आई है. पहली तिमाही में चेन्‍नई में 3,300 मकान बिके.  


Edited by Manisha Pandey