Tata Group नहीं खरीदेगा Bisleri में हिस्सेदारी! डील कैंसिल?

Tata Group नहीं खरीदेगा Bisleri में हिस्सेदारी! डील कैंसिल?

Wednesday March 01, 2023,

3 min Read

भारत की सबसे बड़ी पैकेज्ड वॉटर कंपनी बिसलेरी इंटरनेशनल प्राइवेट (Bisleri International Pvt) में रतन टाटा (Ratan Tata) के टाटा समूह (Tata Group) द्वारा बड़ी हिस्सेदारी खरीदने की ख़बरों पर विराम लग गया है. मिंट ने सूत्रों के हवाले से इसकी जानकारी दी है.

सूत्रों ने कहा कि टाटा समूह द्वारा बिसलेरी की कमान अपने हाथों में लेने के लिए बातचीत एडवांस स्टेज में थी और पार्टियां लेनदेन को अंतिम रूप देने पर काम कर रही थीं. बिसलेरी के मालिक इस सौदे से लगभग 1 अरब डॉलर जुटाना चाह रहे हैं. लेकिन बात नहीं बनीं. क्योंकि कंपनियां मूल्यांकन पर सहमत नहीं हो पा रही थीं. मामले से अवगत लोगों ने पहचान जाहिर न करने की शर्त पर इसकी जानकारी दी.

सूत्रों ने कहा कि टाटा समहू और बिसलेरी के बीच चर्चा फिर से शुरू हो सकती है, और अन्य संभावित दावेदार सामने आ सकते हैं. वहीं, टाटा समूह और बिसलेरी के प्रतिनिधियों ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

पहली बार सिंतबर 2022 में ख़बर आई थी कि टाटा समूह, बिसलेरी इंटरनेशनल में हिस्सेदारी खरीदने की कोशिश में है. बिसलेरी इंटरनेशनल, रमेश चौहान के स्वामित्व वाली कंपनी है. रमेश चौहान ने अब से तीन दशक पहले 'थम्स अप', 'गोल्ड स्पॉट', 'लिम्का' और माज़ा जैसे मशहूर सॉफ़्ट ड्रिंक ब्रांड्स बहुराष्ट्रीय कंपनी कोका – कोला को बेच दिए थे.

इसके लगभग दो महीने बाद, नवंबर 2022 में ख़बर आई कि 7000 करोड़ रुपये में यह डील होनी है. जिसके बाद बिसलेरी इंटरनेशनल (Bisleri International) की कमान रतन टाटा की कंपनी टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (Tata Consumer Products Limited) के पास चली जाएगी.

बीते महीने की तीसरे हफ्ते में ख़बर आई कि बिसलेरी इंटरनेशनल बहुत ही जल्द विदेशी बाजार में अपनी मौजूदगी दर्ज कराने जा रही है. इसके लिए बिसलेरी इंटरनेशनल ने अपना पहला इंटरनेशनल मैन्यूफैक्चरिंग एंड डिस्ट्रीब्यूशन समझौता दुबई के नासिर अब्दुल्ला लूता ग्रुप (Nasser Abdulla Lootah Group) के साथ किया है.

Bisleri मूल रूप से एक इटालियन ब्रांड था जिसने 1965 में मुंबई में भारत में एक दुकान से शुरूआत की थी. बिसलेरी इंटरनेशनल के मालिक रमेश चौहान ने 1969 में इसे अधिग्रहित किया था. कंपनी के 122 ऑपरेशनल प्लांट हैं और भारत और पड़ोसी देशों में 4,500 डिस्ट्रीब्यूटर्स और 5,000 ट्रकों का नेटवर्क है.

मिनरल वाटर के अलावा बिसलेरी इंटरनेशनल, प्रीमियम वेदिका हिमालयन स्प्रिंग वॉटर भी बेचती है. यह हैंड प्योरिफायर के एक छोटे व्यवसाय के अलावा कार्बोनेटेड पेय लिमोनाटा व स्पाइसी, और सोडा व फ्रूट ड्रिंक्स की बिक्री भी करती है. उपभोक्ताओं को सीधे उत्पाद वितरित करने के लिए इसका अपना ऐप Bisleri@Doorstep भी है.

वहीं, टाटा समूह अपने उपभोक्ता व्यवसाय को टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (TCPL) के तहत रखता है, TCPL ब्रांड हिमालयन के तहत टाटा कॉपर प्लस वॉटर और टाटा ग्लूको + जैसे ब्रांडों के साथ पैकेज्ड मिनरल वाटर भी बेचता है.