Zomato के दीपिंदर गोयल ने Urban Company के बोर्ड से दिया इस्तीफा, Blinkit की होम सर्विसेज कैटेगरी में एंट्री!

Zomato के दीपिंदर गोयल ने Urban Company के बोर्ड से दिया इस्तीफा, Blinkit की होम सर्विसेज कैटेगरी में एंट्री!

Wednesday March 01, 2023,

3 min Read

ज़ोमैटो (Zomato) के को-फाउंडर और सीईओ दीपिंदर गोयल (Zomato Co-founder and CEO Deepinder Goyal) ने अर्बन कंपनी (Urban Company) के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया है. वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ज़ोमैटो के स्वामित्व वाली क्विक कॉमर्स कंपनी ब्लिंकिट (Blinkit) घरेलू सेवाओं (blinkit may enter into home services category) की श्रेणी में प्रवेश कर सकती है. (Deepinder Goyal resigned from urban company board)

यह कदम ज़ोमैटो के स्वामित्व वाली ब्लिंकिट को टाइगर ग्लोबल (Tiger Global) समर्थित अर्बन कंपनी के साथ सीधी प्रतिस्पर्धा में खड़ा कर देगा. दीपिंदर गोयल को मार्च 2022 में अर्बन कंपनी के बोर्ड में एक स्वतंत्र निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया था.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ब्लिंकिट ने पहले ही गुरुग्राम स्थित शेफकार्ट (ChefKart) नाम की एक कंपनी के जरिए होम शेफ सर्विसेज की पेशकश शुरू कर दी है, लेकिन अभी तक यह तय नहीं किया गया है कि इस अभियान का आकार और स्वरूप क्या होगा.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पेश की जाने वाली सेवाओं पर कोई स्पष्टता नहीं है और यह ब्लिंकिट प्लेटफॉर्म पर सिर्फ एक विज्ञापन हो सकता है.

ब्लिंकिट ने मौजूदा समूह के कर्मचारियों की एक नई टीम की स्थापना की है और रिपोर्ट्स के अनुसार इस नए वर्टिकल को लॉन्च करने के लिए वर्कफोर्स को भी हायर किया है.

हालांकि, YourStory स्वतंत्र रूप से इस खबर की पुष्टि नहीं कर सका.

ज़ोमैटो का घाटा दिसंबर 2022 को समाप्त तीसरी तिमाही में ₹346.6 करोड़ हो गया, जो एक साल पहले ₹63.2 करोड़ था.

पिछले वर्ष की इसी अवधि में ₹1,112 करोड़ की तुलना में दिसंबर तिमाही के लिए ऑपरेशनल रेवेन्यू 75% बढ़कर ₹1,948 करोड़ हो गया. क्रमिक आधार पर, वित्त वर्ष 23 की दूसरी तिमाही के लिए रिपोर्ट किए गए ₹1,661 करोड़ के मुकाबले रेवेन्यू में 17% का सुधार हुआ.

घर-घर ऑनलाइन फूड डिलीवर करने वाली दिग्गज कंपनी का समायोजित EBITDA घाटा दिसंबर तिमाही में बढ़कर ₹265 करोड़ हो गया, जबकि पिछले साल सितंबर में समाप्त तिमाही में ₹192 करोड़ था. ब्लिंकिट को छोड़कर, एक साल पहले ₹272 करोड़ की तुलना में कारोबारी घाटा ₹38 करोड़ था.

Zomato का शेयर BSE पर 2.50% बढ़कर ₹54.94 पर बंद हुआ.

दीपिंदर गोयल ने हाल ही में ईटी को दिए एक इंटरव्यू में कहा, "जिस तरह से हम बिजनेस को बड़े पैमाने और लाभ के मामले में बढ़ते और बदलते हुए देखते हैं, मुझे लगता है कि हम आसानी से सात-आठ वर्षों में एक अरब डॉलर से अधिक लाभ में हो सकते हैं. हम बारे में सकारात्मक उम्मीद रखते हैं. ”