क्यों ऐसी नौबत आई कि Meta और Microsoft को खाली करने पड़ रहे हैं ऑफिस?

क्यों ऐसी नौबत आई कि Meta और Microsoft को खाली करने पड़ रहे हैं ऑफिस?

Monday January 16, 2023,

3 min Read

टेक सेक्टर की दिग्गज कंपनियों - Meta और Microsoft ने अब अमेरिका में सिएटल और बेलेव्यू में अपने ऑफिस खाली करने का फैसला किया है.

सिएटल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक की पैरेंट कंपनी मेटा ने घोषणा की कि वह बेलव्यू के डाउनटाउन सिएटल और स्प्रिंग डिस्ट्रिक्ट में Eighth Avenue North में अपने ऑफिस को सबलीज पर दे रही है. कंपनी सिएटल में अपनी दूसरी ऑफिस बिल्डिंग्स को भी लीज पर देने की योजना बना रही है.

वहीं, दूसरी ओर, माइक्रोसॉफ्ट ने यह भी कहा कि वह जून 2024 में बेलेव्यू में 26-मंज़िला सिटी सेंटर प्लाजा में अपने ऑफिस के लीज को रिन्यू नहीं करेगी. सिएटल और दूसरी जगहों पर ऑफिस वर्कस्पेस की मांग में कटौती आई है, क्योंकि दोनों कंपनियों ने हाल के दिनों में हजारों की संख्या में कर्मचारियों की छंटनी की है और रिमोट वर्क को अपनाया है.

नवंबर में, मेटा ने सिएटल के आसपास के इलाकों से 726 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया था. सोशल मीडिया सेक्टर की दिग्गज कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि यह फैसले इसलिए लिए गए क्योंकि कंपनी रिमोट वर्क की ओर बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि कंपनी खर्चों में भी कटौती करने की कोशिश कर रही है. वर्तमान में, मेटा के 29 बिल्डिंग्स में ऑफिस हैं और सिएटल में इसके लगभग 8,000 कर्मचारी हैं.

Microsoft के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह निर्णय फर्म के रियल एस्टेट पोर्टफोलियो के चल रहे मूल्यांकन से प्रेरित है.

रिपोर्ट के अनुसार, इन दो टेक दिग्गज कंपनियों की घोषणा सिएटल में ऑफिस मार्केट के लिए और बुरी खबर लेकर आई है जो पहले से ही रिमोट वर्किंग कल्चर और कर्मचारियों की धीमी वापसी के कारण संघर्ष कर रहा है. डाउनटाउन सिएटल में, अब 25 प्रतिशत ऑफिस खाली पड़े हैं. रिमोट वर्किंग के कारण आधे से अधिक ऑफिस खाली हैं. पिछली गर्मियों के बाद से, इस एरिया में महामारी से पहले केवल 40 प्रतिशत कर्मचारियों को देखा गया है, डाउनटाउन सिएटल एसोसिएशन द्वारा Placer.ai के एक सेलफोन लोकेशन डेटा का हवाला देते हुए ये कहा गया है.

इसी महीने की शुरुआत में ख़बर आई कि अमेरिका के सैन फ्रैंसिस्को स्थित ट्विटर ऑफिस का किराया चुकाने में एलन मस्क डिफॉल्ट कर गए हैं. ऐसे में कंपनी के खिलाफ केस दर्ज कराया जा चुका है. आरोप है कि कंपनी ने 1,36,250 डॉलर यानी करीब 1.13 करोड़ रुपये का किराया नहीं दिया है. मामला 650 कैलिफोर्निया एलएलसी में रहने वाले मकान मालिक कोलंबिया रीट ने दर्ज किया है. ट्विटर ने हार्टफोल्ट बिल्डिंग में 30वां फ्लोर किराए पर लिया है. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार कंपनी किराया नहीं भर पाई है.